Breaking News:

उत्तराखंड: आज कोरोना का महा कहर , दो हज़ार से अधिक मरीज मिले जानिए खबर -

Saturday, September 19, 2020

हर स्थिति के साथ बढ़ती गयी हिम्मत : नमन भारद्वाज -

Saturday, September 19, 2020

जरा हटके : कोरोना मरीजो के मनोरंजन के लिए गीत संगीत का आयोजन -

Saturday, September 19, 2020

उत्तराखंड की जेलों में बड़ी संख्या में गंभीर रोगी हैैं केैद, जानिए खबर -

Saturday, September 19, 2020

देहरादून : होम आईसोलेशन के लिए जिला सर्विलांस अधिकारी से अनुमति प्राप्त करना अनिवार्यः डीएम -

Saturday, September 19, 2020

कोरोना योद्धा हुए सम्मानित, जानिए खबर -

Friday, September 18, 2020

उत्तराखंड: प्रदेश में कोरोना मरीजो की संख्या 38 हज़ार पार , जानिए खबर -

Friday, September 18, 2020

जनता से किए 85 फीसदी वायदे किये पूरे : सीएम त्रिवेंद्र -

Friday, September 18, 2020

किस अभिनेत्री ने कही यह बात , मेरा मीडिया ट्रायल ना किया जाए -

Friday, September 18, 2020

एसबीआई : एटीएम से दस हज़ार से अधिक की राशि निकालने पर यह नियम लागू, जानिए खबर -

Friday, September 18, 2020

उत्तराखंड: प्रदेश में कोरोना मरीजो की संख्या पहुँची 37139 , जानिए खबर -

Thursday, September 17, 2020

कैबिनेट बैठक : सरकार ने व्यावसायिक वाहनों के टैक्स में छूट तीन माह तक बढ़ाया -

Thursday, September 17, 2020

कुपोषण मुक्त बच्चों के अभिभावकों को सीएम त्रिवेंद्र ने किया सम्मानित -

Thursday, September 17, 2020

शिकागो के अर्थशास्त्री राज साह ने भेंट की स्मृति पट्टिका, जानिए खबर -

Thursday, September 17, 2020

भारत : देश मे कोरोना मरीजो की संख्या पहुँची 50 लाख के पार, जानिए खबर -

Thursday, September 17, 2020

सीएम त्रिवेंद्र ने पीएम नरेन्द्र मोदी को उनके जन्मदिन पर दी बधाई -

Thursday, September 17, 2020

नेक कार्य : लावारिस अस्थियों को मां गंगा में पूर्ण वैदिक विधि विधान से किया विसर्जित -

Thursday, September 17, 2020

“राजयोग में साइलेंस की शक्ति और डिप्रेशन से मुक्ति’’ पुस्तक का सीएम त्रिवेंद्र ने किया लोकार्पण -

Wednesday, September 16, 2020

उत्तराखंड: प्रदेश में आज 1540 नए कोरोना मरीज मिले , जानिए खबर -

Wednesday, September 16, 2020

सेवा सप्ताह कार्यक्रम : रक्तदान शिविर का हुआ आयोजन -

Wednesday, September 16, 2020

अच्छे संकेत : प्रवासियों के आने के बाद अब पहाड़ों में बढे़ खेती-बाड़ी के अवसर

सोमेश्वर । लॉकडाउन जहां एक ओर अधिकांश लोगों के लिए संकट लाया है। वहीं दूसरी ओर पलायन से खाली हुए पहाड़ों में खेतीबाड़ी और बागवानी के क्षेत्र में अवसर भी लाया है। ऐसे में गांवों में भविष्य के लिये कृषि, बागवानी और पशुपालन रोजगार के अवसर बन रहे हैं. जिसके तहत ग्राम छानी कौसानी के युवा काश्तकार खीम सिंह दोसाद, गोविंद दोसाद, ललित दोसाद ने स्ट्रॉबेरी का उत्पादन किया। आज उनके खेत खलिहानों में स्ट्रॉबेरी की खेती लहलहा रही है। ज्येष्ठ प्रमुख ललित दोसाद ने बताया कि काश्तकारों को पुणे से स्ट्रॉबेरी के पौंधे मंगाकर उपलब्ध कराए गए हैं। उनके और अन्य काश्तकारों के द्वारा स्ट्रॉबेरी पौंधे फरवरी में लगाई गई जो अब फल देने लगे हैं। उन्होंने बताया कि उनके मित्र संजय बिरोला द्वारा काकड़ीघाट में बड़े स्तर पर इसकी खेती की जा रही है। जिसे देखकर वह भी प्रेरित हुए। उन्होंने अपने क्षेत्र का मृदा परीक्षण कराया। जिससे पता चला कि यहां की मिट्टी व वातावरण स्ट्रॉबेरी के लिये उपयुक्त है। भविष्य में ऐसे रोजगार से जोड़ कर अन्य काश्तकारों को भी जोड़ा जाएगा। उद्यान और कृषि विभाग से संपर्क कर पॉलीहाउस निर्माण करने के साथ इच्छुक काश्तकारों को प्रशिक्षण भी दिया जाएगा। इसकें साथ ही अधिक से अधिक युवाओं को कृषि, बागवानी, जैविक खेती से जोड़ने की मुहिम चलाई जाएगी। वहीं छानी गांव भारत का मिनी स्विट्जरलैंड के नाम से विख्यात पर्यटन नगरी कौसानी का हिस्सा है। देश-विदेश से यहां पर्यटकों की खूब आवाजाही होती है। किसानों को स्ट्रॉबेरी की बिक्री के लिए बाजार भी आसानी से उपलब्ध हो सकता है।

Leave A Comment