Breaking News:

उत्तराखण्ड के सभी विधायकों ने शहीदों के परिवार को एक माह का वेतन देने की घोषणा की -

Friday, February 15, 2019

दुःख की इस घड़ी में हम सब शहीदों के परिजनों के साथ हैः मुख्यमंत्री त्रिवेन्द्र -

Friday, February 15, 2019

गरीब बच्चों को भोजन कराकर रोटी क्लब ने मनाया रोटी महोत्सव -

Friday, February 15, 2019

सीएम ने की स्मार्ट सिटी प्रोजेक्ट योजनाओं की समीक्षा -

Friday, February 15, 2019

कोई शिकायत तो डायल करें सीएम हेल्पलाईन 1905 -

Friday, February 15, 2019

भारत बनेगा विश्व गुरू : नरेश बंसल -

Friday, February 15, 2019

CRPF के काफिले पर आतंकी हमला, 40 जवान शहीद -

Thursday, February 14, 2019

रूद्रपुर में हुआ 3340 करोड़ रू. की समेकित सहकारी विकास परियोजना का शुभारम्भ -

Thursday, February 14, 2019

पीएम मोदी का विरोध करने जा रहे पूर्व सीएम हरीश रावत, इंदिरा हृदयेश गिरफ्तार -

Thursday, February 14, 2019

सीएम त्रिवेन्द्र की सलाह : निजी चीनी मिलों के बाहर धरना दे हरीश रावत -

Thursday, February 14, 2019

आयकर आयुक्त श्वेताभ सुमन को सात साल कैद , जानिए खबर -

Thursday, February 14, 2019

विपक्ष ने किया गन्ना किसानों के बकाया भुगतान को लेकर सदन में जमकर हंगामा -

Thursday, February 14, 2019

“डेस्टिनेशन उत्तराखण्ड” के प्रभावी नतीजे आने शुरू, जानिए खबर -

Wednesday, February 13, 2019

‘भारत’ के क्लाइमेक्स में 10 करोड़ का सेट बर्बाद -

Wednesday, February 13, 2019

समाजसेवी एवं उद्योगपति सुशील अग्रवाल हुए सम्मानित -

Wednesday, February 13, 2019

बड़ी खबर : उत्तराखण्ड में खुलेगी नेशनल लाॅ यूनिवर्सिटी -

Wednesday, February 13, 2019

सी-विजिल एप से आसानी से कर सकेंगे आचार संहिता उल्लंघन की शिकायत, जानिये खबर -

Wednesday, February 13, 2019

चारधाम यात्रा की तैयारियों को लेकर प्रशासन हुआ चुस्त -

Wednesday, February 13, 2019

200 करोड़ लागत की मसूरी पेयजल योजना को केन्द्र से मिली मंजूरी -

Wednesday, February 13, 2019

राजभवन कूच कर रहे अधिवक्ताओं को पुलिस ने रोका -

Wednesday, February 13, 2019

अधिकारी एवं कर्मचारी पूरी निष्ठा व ईमानदारी से करे कार्य : सीएम

uk cm

मुख्यमंत्री त्रिवेन्द्र सिंह रावत ने क्लेक्ट्रेट सभागार में जिला एवं ब्लाक स्तरीय अधिकारियों के साथ विभिन्न विकास योजनाओं की समीक्षा करते हुए पूरी पारदर्शिता के साथ योजनाओं का क्रियान्वयन करने के निर्देश दिये। कहा कि विकास योजनाओं को समय से शुरू करते हुए निर्धारित समय पूरा करना सुनिश्चित किया जाय। ताकि लोगों को समय से योजनाओं का लाभ मिल सके। मुख्यमंत्री ने कहा कि विकास योजनाओं को पूरी पारदर्शिता के साथ समय से पूरा कराना सरकार की प्राथमिकता है। इसके लिए सभी अधिकारियों एवं कर्मचारियों को पूरी निष्ठा व ईमानदारी के साथ कार्य करने के निर्देश दिये। उन्होंने कहा कि विकास योजनाओं का कार्य समय से शुरू होने पर जहॉ कम लागत में कार्य पूरा होता है वही लोगों को समय पर विकास योजनाओं का लाभ मिलता है। मुख्यमंत्री त्रिवेन्द्र ने कहा कि राज्य निर्माण की परिकल्पना के अनुसार देहरादून में संपन्न इनवेस्टर समिति का आयोजन दूरस्थ क्षेत्रों के विकास के लिए किया गया है। कहा कि दूरस्थ क्षेत्रों के विकास के लिए निवेशकों ने भारी संख्या में अपने निवेश प्रस्ताव राज्य सरकार को दिये है। कृषि व उद्यान पर फोकस करते हुए उन्होंने कहा कि इन क्षेत्रों में प्रत्येक वर्ष कुछ न कुछ निवेश करने से आने वाले समय में इसका लाभ मिलेगा। उन्होंने सभी अधिकारियों को दूरस्थ क्षेत्रों के विकास के लिए पूरी लगन के साथ कार्य करने के निर्देश दिये। एवं परिवार कल्याण कार्यो की समीक्षा करते हुए मुख्यमंत्री ने आयुष्मान भारत योजना के तहत सभी लाभार्थियों का स्वास्थ्य बीमा कार्ड बनाने हेतु कैम्प लगाने के निर्देश स्वास्थ्य विभाग के अधिकारियों को दिये। कहा कि स्वास्थ्य विभाग में 108 वाहनों की समस्या को जल्द दूर किया जायेगा। विद्यालयों में बेसिक सुविधा एवं शिक्षा के स्तर की जानकारी लेते हुए उन्होंने शिक्षा के स्तर में सुधार लाने हेतु विशेष इनोवेटिव कदम उठाने के निर्देश अधिकारियों को दिये। दैवीय आपदा के दौरान क्षतिग्रस्त लौहाजंग-वाण मोटर मार्ग से काश्तकारों की नकदी फसल को हो रहे नुकसान को देखते हुए मुख्यमंत्री ने बाधित मोटर मार्ग को सुचारू करने के लिए शीघ्र अस्थाई व्यवस्था कराने के निर्देश लोनिवि को दिये। जिले में कई सड़कें आरटीओ से पास न होने के कारण सडक दुर्घटना की स्थिति में मुआवजा न मिलने की शिकायत पर मुख्यमंत्री ने आरटीओ व सड़क निर्माणदायी संस्थाओं को निर्देश दिये कि जिलाधिकारी के साथ बैठक कर समस्या का समाधान करें। दूरस्थ क्षेत्रों में विद्युत से वंचित परिवारों को सौभाग्य योजना के तहत विद्युत कनेक्शन उपलब्ध कराने के निर्देश ईई विद्युत को दिये। कहा कि ऐसे क्षेत्रों में ग्राम प्रधानों एवं लोगों को प्रेरित करते हुए तथा कैम्प लगाते हुए समय से शतप्रतिशत परिवारों तक बिजली पहुॅचायी जाय। क्लस्टर आधारित कृषि पर फोकस करते हुए मुख्यमंत्री त्रिवेन्द्र ने जिले में अधिक से अधिक क्लस्टर तैयार करने के निर्देश कृषि एवं उद्यान अधिकारियों को दिये। उन्होंने कहा कि 2022 तक कृषकों की आय दोगुनी करने के लिए सरकार प्रतिबद्व है। उन्होंने किसानों को गुलाब के फूलों की खेती का प्रशिक्षण देकर जनपद के किसी क्षेत्र को रोज (त्वेम) वैली के रूप में विकसित करने को कहा। ताकि गुलाब के फूलों से निकलने वाले तेल से किसानों अच्छा लाभ मिल सके। साथ ही रोज वैली को देखने के लिए आने वाले पर्यटकों से स्थानीय लोगों को भी लाभ पहुॅच सके। वनाधिकारियों को किसी एक क्षेत्र में वृहद पौधरोपण कर ग्रीनवैली के रूप में विकसित करने को कहा। बैठक में मुख्यमंत्री ने आजीविका सहयोग परियोजना, पीएम शहरी एवं ग्रामीण आवास, खाद्यान्न आपूर्ति, समाज कल्याण, मत्स्य, जल निगम, जल संस्थान, सिंचाई, लघु सिंचाई आदि विभागों द्वारा संचालित विकास कार्यो की प्रगति समीक्षा भी की। इस दौरान मुख्यमंत्री ने जिले की महात्मा गांधी नरेगा विकास पुस्तिका का भी विमोचन किया।

Leave A Comment