Breaking News:

उत्तराखण्ड: सीएम को फोन पर धमकी देने वाला आरोपी गिरफ्तार -

Monday, November 11, 2019

छात्रो ने फैशन शो में पेश किया नया क्लेक्शन -

Monday, November 11, 2019

पौड़ी के विकास में सीता माता सर्किट होगा मील का पत्थर साबित : सीएम -

Monday, November 11, 2019

सिन्मिट कम्युनिकेशन्स द्वारा मिस टैलेंटेड का आयोजन -

Monday, November 11, 2019

सीएम त्रिवेंद्र 550वें प्रकाश उत्सव एवं कार्तिक पूर्णिमा पर प्रदेशवासियों को दी शुभकामनाएं -

Monday, November 11, 2019

शहर के इस हालात पर अवैध टैक्सी स्टैंड जिम्मेदार, जानिए खबर -

Sunday, November 10, 2019

एक दिसम्बर को केंद्रीय कूर्मांचल परिषद का द्विवार्षिक चुनाव -

Sunday, November 10, 2019

सीएम त्रिवेंद्र ने फिल्म “शुभ निकाह” का मुहूर्त शॉट लिया -

Sunday, November 10, 2019

पौड़ी सांसद तीरथ सिंह रावत घायल, ऋषिकेश एम्स में भर्ती -

Sunday, November 10, 2019

डीएम सविन बंसल की एक पहलः स्कूूली बच्चों को सिखा रहे चित्रकारी -

Sunday, November 10, 2019

रास्ते में पड़े सिंगल यूज प्लास्टिक को भी उठाएं: सीएम त्रिवेंद्र -

Sunday, November 10, 2019

IPL-2020 : तीन नए शहर होगे सकते है शामिल , जानिए खबर -

Saturday, November 9, 2019

उत्तराखंड सैन्यधाम और विद्याधाम भी : रक्षामंत्री राजनाथ सिंह -

Saturday, November 9, 2019

आयुष्मान की सबसे बड़ी ओपनर बनी ‘बाला’, जानिए खबर -

Saturday, November 9, 2019

सीएम त्रिवेंद्र ने हिन्दी, गढ़वाली एवं कुमांऊनी फिल्मकारों को अनुदान राशि के चेक किये वितरित -

Saturday, November 9, 2019

अयोध्या में मंदिर भी और मस्जिद भी, जानिए खबर -

Saturday, November 9, 2019

मिसेज दून दिवा सीजन-4 का फिनाले 16 को , जानिए खबर -

Saturday, November 9, 2019

उत्तराखंड देश विदेशो में बनाई अपनी खास पहचान : सीएम -

Friday, November 8, 2019

सहायक अभियोजन अधिकारी पद के लिए करे 20 तक आवेदन -

Friday, November 8, 2019

सपने वो होते हैं जो सोने नहीं देतेः घिल्ड़ियाल -

Friday, November 8, 2019

अनुकूलन एंव न्यूनीकरण जलवायु परिवर्तन से निपटने में महत्वपूर्ण

 

FRI KA AAYOJAN

डाॅ अश्विनी कुमार महानिदेशक भारतीय वानिकी अनुसन्धान एवं शिक्षा परिषद्ने कहा कि विश्व के बदलते परिदृश्य में जलवायु परिवर्तन के न्यूनीकरण एंव अनुकूलन हेतु वैज्ञानिकों को महत्वपूर्ण भूमिका निभानी है। सरकारी क्षेत्र में कार्यरत वैज्ञानिकों तथा प्रौद्योगिकीविदों के लिए जलवायु परिवर्तन अनुकूलन पर आयोजित पांच दिवसीय प्रशिक्षण कार्यक्रम के उद्घाटन सत्र में बोलते हुये डाॅ अश्विनी कुमार ने कहा कि विकासशील देशों के लोग जलवायु परिवर्तन के प्रति विशेष रूप से संवेदनशील हैं क्योंकि उन पर जलवायु परिवर्तन का विपरीत प्रभाव पड़ना अवश्यंभावी है। जलवायु परिवर्तन के समाघात से भारत पर अत्यन्त विपरीत प्रभाव पडे़गा।जा रहा । इस कार्यक्रम में विभिन्न सरकारी वैज्ञानिक संगठनों तथा विश्वविद्यालयों के बीस वैज्ञानिक भाग ले रहे हैं। प्रशिक्षण कार्यक्रम को विज्ञान एवं प्रौद्योगिकी विभाग भारत सरकार द्वारा सरकारी क्षेत्र में कार्यरत वैज्ञानिकों एवं प्रौद्योगिकीविदों के राष्ट्रीय कार्यक्रम के तहत प्रायोजित किया गया है। डाॅ शिल्पा गौतम ने उद्घाटन सत्र का संचालन किया और डा अनीता श्रीवास्तव ने धन्यवाद प्रस्ताव ज्ञापित किया। उद्घाटन सत्र में शैवाल दासगुप्ता उपमहानिदेश विस्तार डाॅ आर एस रावत आदि वैज्ञानिक उपस्थित रहे।

Leave A Comment