Breaking News:

जुलाई में उत्तराखण्ड में दस्तक देगा मानसून -

Sunday, June 24, 2018

पर्वतीय क्षेत्र में एनसीसी मुख्यालय एवं एकेडमी के लिए जगह होगी उपलब्ध -

Sunday, June 24, 2018

उदय शंकर नाट्य अकादमी में कलाकारों ने दी सांस्कृतिक प्रस्तुतियां -

Sunday, June 24, 2018

पौधारोपण के क्षेत्र में मैती आंदोलन के प्रयास सराहनीय : सीएम त्रिवेन्द्र -

Sunday, June 24, 2018

उत्तराखण्ड में शूटिंग करना मेरा सौभाग्य : मधुरिमा तुली -

Sunday, June 24, 2018

महाराष्ट्र व उत्तराखण्ड के सूचना विभाग ने साझा किये अपने अपने अनुभव -

Sunday, June 24, 2018

अनुसूचित जाति व जनजाति में उद्यमशीलता को बढ़ावा देने पर फोकस : सीएम त्रिवेंद्र -

Saturday, June 23, 2018

‘‘ओक तसर विकास परियोजना’’ का सीएम त्रिवेंद्र ने किया शुभारम्भ -

Saturday, June 23, 2018

चैलाई के प्रसाद के रूप में तीन गुना मिल रहा फायदा, जानिए ख़बर -

Saturday, June 23, 2018

अमित शाह 24 जून को दून दौरे पर, जानिए ख़बर -

Saturday, June 23, 2018

औद्योगिक विकास योजना को लेकर कार्यशाला का आयोजन, जानिए ख़बर -

Saturday, June 23, 2018

साहसिक पर्यटन गतिविधियों पर रोक के फैसले का अध्ययन किया जा रहा : मुख्यमंत्री त्रिवेन्द्र -

Friday, June 22, 2018

हाईकोर्ट ने गंगा में राफ्टिंग सहित सभी वॉटर स्पोर्ट्स पर लगया बैन जानिए ख़बर -

Friday, June 22, 2018

सीएम ने की अनेक विभागो के कार्यो की जनपदवार समीक्षा , जानिए ख़बर -

Friday, June 22, 2018

पति ने पत्नी को पीटने की मांगी इजाजत जानिए ख़बर -

Friday, June 22, 2018

देश की रक्षा के लिए उत्तराखंड का एक और लाल शहीद -

Friday, June 22, 2018

फिल्म ‘सत्यमेव जयते’ का पहला पोस्टर रिलीज़ -

Friday, June 22, 2018

जम्मू कश्मीर में एनएसजी कमांडो तैनात, करेंगे आतंकियों का सफाया -

Friday, June 22, 2018

यात्रियों को विमान से उतारने के लिए AC किया तेज़, जानिए ख़बर -

Friday, June 22, 2018

योग महोत्सव कार्यक्रम की सफल आयोजन पर सभी का धन्यवाद : सीएम त्रिवेंद्र -

Thursday, June 21, 2018

अहमद पटेल पहुंच पायेंगे राज्यसभा …

aak

अहमदाबाद। गुजरात कांग्रेस में बगावत खुलकर सतह पर आ गई है. जानकारी हो की शुक्रवार को दो और विधायकों मान सिंह चैहान और सानाभाई (छना)चैधरी ने पार्टी छोड़ दी है. इससे पहले गुरुवार को पार्टी के तीन विधायकों ने इस्तीफा दे दिया था. पार्टी के कद्दावर नेता शंकर सिंह वाघेला के कांग्रेस से दामन छुड़ाने के बाद से बगावत का सिलसिला जारी है. गुरुवार को जिन तीन विधायकों के साथ पार्टी के मुख्य सचेतक बलवंत सिंह राजपूत ने इस्तीफा दे दिया और भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) को ज्वाइन कर लिया. कांग्रेस में इस बगावत से पार्टी के राज्यसभा प्रत्याशी अहमद पटेल के लिए मुश्किलें खड़ी हो सकती हैं। बलवंत सिंह हाल ही में कांग्रेस छोड़ने वाले शंकर सिंह वाघेला के समधी हैं. ऐसे में बीजेपी उम्मीद लगा रही है कि बलवंत सिंह को वाघेला समर्थक विधायकों का समर्थन भी मिल सकता है. माना जा रहा है कि गुजरात में इस उठापटक से सोनिया गांधी के राजनीतिक सलाहकार अहमद पटेल को राज्यसभा में जाने में मुश्किल हो सकती है. सिद्धपुर से विधायक मुख्य सचेतक बलवंत सिंह राजपूत को भाजपा ने राज्यसभा की तीसरी सीट के लिए नामित किया है, जिसके लिए अहमद पटेल ने अपना नामांकन भरा है. इस्तीफा देने वाले दो अन्य विधायकों में विरमगम से तेजश्री पटेल तथा विजापुर से विधायक पीआई पटेल हैं. तीनों विधायकों ने गुरुवार दोपहर विधानसभा अध्यक्ष रमनलाल वोरा को अपना इस्तीफा सौंप दिया, जिसके बाद वे भाजपा में शामिल हो गए. 8 अगस्त को गुजरात में राज्यसभा की तीन सीटों के लिए मतदान होगा। गुजरात में 8 अगस्त को होने वाले राज्यसभा चुनाव के लिए नामांकन का शुक्रवार को आखिरी दिन है. पहली बार राज्यसभा चुनाव लड़ रहे बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह, केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी और गुरुवार को ही कांग्रेस से बीजेपी में शामिल हुए बलवंत सिंह राजपूत ने नामांकन भर दिया है। यह घटनाक्रम ऐसे समय हुआ है जब कांग्रेस ने अपने वरिष्ठ नेता और सोनिया गांधी के राजनीतिक सचिव अहमद पटेल को आठ अगस्त को होने वाले राज्यसभा चुनाव के लिए अपना उम्मीदवार बनाया है. कांग्रेस उम्मीदवार को जीत के लिये कम से कम 47 विधायकों के समर्थन की जरूरत होगी. ऐसे में कांग्रेस अगर अपने बाकी विधायकों को एकजुट रखने में कामयाब रहती है, तो अहमद को मुश्किल नहीं होगी। अहमद पटेल को वाघेला गुट का समर्थन नहीं मिलता है तो उनका चुना जाना मुश्किल है. अहमद पटेल का कद कांग्रेस में बहुत बड़ा है वे पार्टी के सलाहकार भी हैं. हालांकि, अहमद पटेल ने अपनी जीत का विश्वास दिलाया है और वाघेला भी उन्हें वोट करने की बात कह चुके हैं. आपको बता दें कि राज्यसभा चुनाव 8 अगस्त को होने हैं. पटेल को राज्यसभा में चैथी पारी के लिए पहली वरीयता के 48 वोटों की जरूरत होगी. पटेल का वर्तमान कार्यकाल 8 अगस्त को समाप्त होने वाला है।

Leave A Comment