Breaking News:

भाजपा मुख्यालय का पता बदला -

Sunday, February 18, 2018

त्रिपुरा विधानसभा चुनाव में पिछली बार से 17% कम वोटिंग -

Sunday, February 18, 2018

लिंगानुपात में 17 राज्यो में आई गिरावट -

Sunday, February 18, 2018

पब्लिक रिलेशन्स सोसायटी आफ इंडिया देहरादून चैप्टर द्वारा रक्तदान शिविर का आयोजन -

Sunday, February 18, 2018

आग से पूरा गांव हो गया खाक -

Sunday, February 18, 2018

विधायक कुंवर प्रणव चैंपियन को सीएम ने जब उतारा मंच से…. -

Saturday, February 17, 2018

चार प्रस्ताव केंद्र सरकार द्वारा स्वीकृति प्रदान -

Saturday, February 17, 2018

कब होगी करोड़ों रूपये की रिकवरी : रघुनाथ सिंह नेगी -

Saturday, February 17, 2018

केंद्र सरकार पैडमैन से ली सीख , जानिये खबर -

Saturday, February 17, 2018

आज रिलीज होगी अय्यारी -

Friday, February 16, 2018

5100 करोड़ की संपत्ति जब्त, नीरव मोदी के 17 ठिकानों पर छापे -

Friday, February 16, 2018

सिक्के नहीं लिए तो होगी दंडात्मक कार्रवाई -

Friday, February 16, 2018

‘पैडमैन’ देख न पाने का नहीं रहेगा मलाल मलाला को -

Friday, February 16, 2018

‘नयन मटक्का गर्ल’ दिखती है ऐसी जानिए खबर -

Friday, February 16, 2018

राशन कार्ड हो आनलाइन, जानिए खबर -

Thursday, February 15, 2018

सरकार को जगाने के लिए कर रहा आंदोलन : अन्ना हजारे -

Thursday, February 15, 2018

गैरसैंण राजधानी के लिए मशाल जुलूस 17 को -

Thursday, February 15, 2018

नैनीताल में खनन विभाग को ई-नीलामी से मिले अच्छे परिणाम -

Thursday, February 15, 2018

जब इंस्पेक्टर ने पेश की अनूठी मिसाल…. -

Wednesday, February 14, 2018

दिव्यंगों के लिए चार प्रतिशत क्षैतिज आरक्षण को मंजूरी -

Wednesday, February 14, 2018

अहमद पटेल पहुंच पायेंगे राज्यसभा …

aak

अहमदाबाद। गुजरात कांग्रेस में बगावत खुलकर सतह पर आ गई है. जानकारी हो की शुक्रवार को दो और विधायकों मान सिंह चैहान और सानाभाई (छना)चैधरी ने पार्टी छोड़ दी है. इससे पहले गुरुवार को पार्टी के तीन विधायकों ने इस्तीफा दे दिया था. पार्टी के कद्दावर नेता शंकर सिंह वाघेला के कांग्रेस से दामन छुड़ाने के बाद से बगावत का सिलसिला जारी है. गुरुवार को जिन तीन विधायकों के साथ पार्टी के मुख्य सचेतक बलवंत सिंह राजपूत ने इस्तीफा दे दिया और भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) को ज्वाइन कर लिया. कांग्रेस में इस बगावत से पार्टी के राज्यसभा प्रत्याशी अहमद पटेल के लिए मुश्किलें खड़ी हो सकती हैं। बलवंत सिंह हाल ही में कांग्रेस छोड़ने वाले शंकर सिंह वाघेला के समधी हैं. ऐसे में बीजेपी उम्मीद लगा रही है कि बलवंत सिंह को वाघेला समर्थक विधायकों का समर्थन भी मिल सकता है. माना जा रहा है कि गुजरात में इस उठापटक से सोनिया गांधी के राजनीतिक सलाहकार अहमद पटेल को राज्यसभा में जाने में मुश्किल हो सकती है. सिद्धपुर से विधायक मुख्य सचेतक बलवंत सिंह राजपूत को भाजपा ने राज्यसभा की तीसरी सीट के लिए नामित किया है, जिसके लिए अहमद पटेल ने अपना नामांकन भरा है. इस्तीफा देने वाले दो अन्य विधायकों में विरमगम से तेजश्री पटेल तथा विजापुर से विधायक पीआई पटेल हैं. तीनों विधायकों ने गुरुवार दोपहर विधानसभा अध्यक्ष रमनलाल वोरा को अपना इस्तीफा सौंप दिया, जिसके बाद वे भाजपा में शामिल हो गए. 8 अगस्त को गुजरात में राज्यसभा की तीन सीटों के लिए मतदान होगा। गुजरात में 8 अगस्त को होने वाले राज्यसभा चुनाव के लिए नामांकन का शुक्रवार को आखिरी दिन है. पहली बार राज्यसभा चुनाव लड़ रहे बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह, केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी और गुरुवार को ही कांग्रेस से बीजेपी में शामिल हुए बलवंत सिंह राजपूत ने नामांकन भर दिया है। यह घटनाक्रम ऐसे समय हुआ है जब कांग्रेस ने अपने वरिष्ठ नेता और सोनिया गांधी के राजनीतिक सचिव अहमद पटेल को आठ अगस्त को होने वाले राज्यसभा चुनाव के लिए अपना उम्मीदवार बनाया है. कांग्रेस उम्मीदवार को जीत के लिये कम से कम 47 विधायकों के समर्थन की जरूरत होगी. ऐसे में कांग्रेस अगर अपने बाकी विधायकों को एकजुट रखने में कामयाब रहती है, तो अहमद को मुश्किल नहीं होगी। अहमद पटेल को वाघेला गुट का समर्थन नहीं मिलता है तो उनका चुना जाना मुश्किल है. अहमद पटेल का कद कांग्रेस में बहुत बड़ा है वे पार्टी के सलाहकार भी हैं. हालांकि, अहमद पटेल ने अपनी जीत का विश्वास दिलाया है और वाघेला भी उन्हें वोट करने की बात कह चुके हैं. आपको बता दें कि राज्यसभा चुनाव 8 अगस्त को होने हैं. पटेल को राज्यसभा में चैथी पारी के लिए पहली वरीयता के 48 वोटों की जरूरत होगी. पटेल का वर्तमान कार्यकाल 8 अगस्त को समाप्त होने वाला है।

Leave A Comment