Breaking News:

पौड़ी : पाबौ में चट्टान से गिरने से महिला की मौत -

Monday, April 6, 2020

जुबिन नौटियाल ने ऑनलाइन शो से कोरोना फाइटर्स को कहा थैंक्यू -

Monday, April 6, 2020

अनूप नौटियाल व डा. दिनेश चौहान रहे कोरोना वाॅरियर -

Monday, April 6, 2020

पहल : देहरादून में 7745 भोजन पैकेट वितरित किये गये -

Sunday, April 5, 2020

सीएम त्रिवेन्द्र ने परिवार संग दीप जला कर हौसला बढाने का दिया सन्देश -

Sunday, April 5, 2020

उत्तराखंड में चार और कोरोना पाॅजीटिव मामले सामने आए, संख्या 26 हुई -

Sunday, April 5, 2020

दुःखद : जंगल की आग में जिंदा जली दो महिलाएं -

Sunday, April 5, 2020

आम आदमी की रसोईः जरूरतमंदों को दे रही भोजन और राशन -

Sunday, April 5, 2020

5 अप्रैल को रात 9 बजे 9 मिनट के लिए अपने घरों में लाईट बंद कर दीपक जलाए : सीएम त्रिवेंद्र -

Saturday, April 4, 2020

लापता व्यक्ति का शव पाषाण देवी के मंदिर पास झील से बरामद हुआ -

Saturday, April 4, 2020

देहरादून : स्वयंसेवी संस्थाओं के सहयोग से 9482 भोजन पैकेट वितरित किये गये -

Saturday, April 4, 2020

उत्तराखंड में कोरोना पॉजिटिव मामलों की संख्या हुई 22 -

Saturday, April 4, 2020

सोशियल पॉलीगोन ग्रुप ऑफ कंपनी ने मुख्यमंत्री राहत कोष में 5 लाख का चेक दिया -

Saturday, April 4, 2020

लॉकडाउन : रचायी जा रही शादी पुलिस ने रुकवाई, 15 लोगों पर मुकदमा दर्ज -

Friday, April 3, 2020

उत्तराखंड : त्रिवेन्द्र सरकार ने कोरोना वायरस से निपटने के लिए जारी किये 85 करोङ रूपए -

Friday, April 3, 2020

ऋषियों का मूल मंत्र ’तमसो मा ज्योतिर्गमय’ एक अद्भुत आइडियाः स्वामी चिदानन्द सरस्वती -

Friday, April 3, 2020

आम आदमी पार्टी के कार्यकर्ताओं ने किया रक्तदान -

Friday, April 3, 2020

कोरोना वॉरियर्स का सभी करे सहयोग : सीएम त्रिवेंद्र -

Friday, April 3, 2020

किन्नरों ने लोगों को भोजन, राशन वितरित किया -

Thursday, April 2, 2020

3 अप्रैल से बैंक सुबह 8 से अपरान्ह 1 बजे तक खुले रहेंगे -

Thursday, April 2, 2020

इनकम टैक्स रिटर्न फाइल के पेनल्टी पर छूट ,जानिए खबर

Income Tax Building

अब महज एक सप्ताह का ही वक्त इनकम टैक्स रिटर्न फाइल करने में बचा है। इस साल 31 जुलाई की आखिरी तारीख बेहद महत्वपूर्ण है क्योंकि यदि आप समय पर आईटीआर नहीं भर पाते हैं तो फिर आपको विलम्ब फीस चुकानी होगी। यदि आप 31 जुलाई की डेडलाइन मिस कर देते हैं और 31 दिसंबर तक आईटीआर फाइल करते हैं तो फिर 5,000 रुपये का जुर्माना अदा करना होगा। यदि आप 31 दिसंबर के बाद रिटर्न फाइल करते हैं, लेकिन मौजूदा असेसमेंट इयर से पहले जमा करतें है यानी 31 मार्च तक जमा करने पर 10,000 रुपये फाइन भरना होगा। यदि आप छोटे टैक्सपेयर हैं और आपकी कुल आय 5 लाख रुपये से अधिक नहीं है तो फिर आपको अधिकतम 1,000 रुपये तक का ही फाइन देना होगा। आयकर ऐक्ट में लेट फाइलिंग फीस से जुड़ा नियम सेक्शन 234 F के तहत 2017 के बजट में लाया गया था। यह नियम 2017-18 फाइनैंशल इयर या फिर असेसमेंट इयर 2018-19 के लिए प्रभावी था। असेसमेंट इयर वह साल होता है, जो उस फाइनैंशल इयर के बाद का वर्ष होता है, जिसका आईटीआर फाइल किया जा रहा हो। जैसे, फाइनैंशल इयर 2017-18 के लिए असेसमेंट इयर 2018-19 है।

Leave A Comment