Breaking News:

गैरसैण बनेगी ई-विधानसभा : सीएम त्रिवेंद्र -

Friday, June 5, 2020

कोरोना से बचे : उत्तराखंड में कोरोना मरीजो की संख्या हुई 1215 , ठीक हुए मरीजो की संख्या हुई 344 -

Friday, June 5, 2020

“उत्तराखंड की शान भैजी विरेन्द्र सिंह रावत” ऑडियो वीडियो का हुआ शुभारम्भ -

Friday, June 5, 2020

डेंगू से बचाव के लिए जागरूकता जरूरी -

Friday, June 5, 2020

कोरोना से बचे : कोरोना मरीजो की संख्या हुई 1199, देहरादून में 15 नए मामले मिले -

Friday, June 5, 2020

7 जून से “एसपीओ” द्वारा राष्ट्रीय ऑनलाइन योगा प्रतियोगिता का आयोजन -

Friday, June 5, 2020

उत्तराखंड : 10वीं च 12वीं की शेष परीक्षाएं 25 जून से पहले होंगी -

Friday, June 5, 2020

कोरोना से बचे : उत्तराखंड में आज कोरोना मरीजो की संख्या हुई 1153 आज 68 नए मरीज मिले -

Thursday, June 4, 2020

पांच जून को अधिकांश जगह बारिश की संभावना -

Thursday, June 4, 2020

कोरोना से बचे : उत्तराखंड में आज कोरोना मरीजो की संख्या हुई 1145 -

Thursday, June 4, 2020

जागरूकता और सख्ती पर विशेष ध्यान हो : सीएम त्रिवेंद्र -

Thursday, June 4, 2020

दुःखद : बॉलीवुड कास्टिंग निदेशक का निधन -

Thursday, June 4, 2020

वक्त का फेर : चैम्पियन तीरंदाज सड़क पर बेच रही सब्जी -

Thursday, June 4, 2020

कोरोना से बचे : उत्तराखंड में आज कोरोना मरीजो की संख्या 1085 हुई , 42 नए मरीज मिले -

Wednesday, June 3, 2020

अभिनेत्री ने जहर खाकर की खुदकुशी, जानिए खबर -

Wednesday, June 3, 2020

मुझे बदनाम करने की साजिश : फुटबॉल कोच विरेन्द्र सिंह रावत -

Wednesday, June 3, 2020

मोदी 2.0 : पहले साल लिए गए कई ऐतिहासिक निर्णय -

Wednesday, June 3, 2020

कोरोना से बचे : उत्तराखंड में कोरोना मरीजो की संख्या 1066 हुई -

Wednesday, June 3, 2020

सराहनीय पहल : एक ट्वीट से अपनों के बीच घर पहुंचा मानसिक दिव्यांग मनोज -

Tuesday, June 2, 2020

कोरोना से बचे : उत्तराखंड में कोरोना मरीजो की संख्या हुई 1043 -

Tuesday, June 2, 2020

ई-रिक्शा चालकों का जीवन अधर में, जानिए खबर

देहरादून। राजधानी देहरादून के मुख्य मार्गों पर ई-रिक्शा संचालित किए जाने की मांग को लेकर प्रदर्शनकारियों ने कनक चैक पर धरना प्रदर्शन करते हुए जाम लगा दिया। जिससे लोगों को भारी परेशानी का सामना करना पड़ा। प्रदर्शनकारियों ने परेड मैदान से जुलूस निकाला। जिसके बाद पुलिस ने सुभाव रोड पर जुलूस को रोक दिया। इस आंदोलन का नेतृत्व प्रदेश कांग्र्रेस के वरिष्ठ उपाध्यक्ष सूर्यकांत धस्माना ने किया। प्रदर्शन के चलते शहर में कोई भी ई-रिक्शा नहीं चला। यह निर्णय रविवार को उत्तरांचल प्रेस क्लब में हुई ई-रिक्शा संचालकों की सभा में लिया गया। इस दौरान ई-रिक्शा संचालकों ने 20 सदस्यीय संघर्ष समिति का गठन भी किया। समिति का संरक्षक कांग्रेस के प्रदेश उपाध्यक्ष सूर्यकांत धस्माना को बनाया गया है। कांग्रेस नेता धस्माना ने कहा कि बीते डेढ़ महीने से ई-रिक्शा चालकों-संचालकों के सामने रोटी रोजी का संकट है, लेकिन सरकार की कान में जूं तक नहीं रेंग रही है। शहर की सभी सीटों राजपुर, रायपुर, कैंट, मसूरी और धर्मपुर पर सत्ताधारी भाजपा के विधायक हैं, लेकिन किसी ने आज तक कोई सकारात्मक कार्रवाई नहीं करवाई। धस्माना ने आरोप लगाया कि पहले सरकार व परिवहन विभाग ने बिना कोई नीति-नियम बनाए तीन हजार से ज्यादा ई-रिक्शा चलवा दिए। अब यातायात की समस्या बता कर अचानक संचालन पर प्रतिबंध लगा दिया। धस्माना ने कहा कि जब पूरी दुनिया में इलेक्ट्रिक वाहन का चलन बढ़ रहा है, ऐसे में ई-रिक्शा पर प्रतिबंध लगाना औचित्यपूर्ण नहीं है।

Leave A Comment