Breaking News:

31 मार्च को उत्तराखंड में एक जिले से दूसरे जिले मे जाने की अनुमति वापस … -

Sunday, March 29, 2020

उत्तराखंड में एक जिले से दूसरे जिले में जाने की अनुमति, केवल मंगलवार 31 मार्च के लिए -

Saturday, March 28, 2020

बीजेपी कार्यकर्ता मोहल्ले में देखें कि कोई गरीब भूखा ना सोए : सीएम त्रिवेन्द्र -

Saturday, March 28, 2020

हरिद्वार और पिथौरागढ़ के लिए मेडिकल कॉलेज की स्वीकृति, सीएम ने केंद्र सरकार का जताया आभार -

Saturday, March 28, 2020

उत्तराखंड में कोरोना वायरस संक्रमण का छठा मामला, जानिए खबर -

Saturday, March 28, 2020

दिल्ली में फंसे उत्तराखंड के 109 लोगों को घर पहुँचाने का इंतजाम किया त्रिवेन्द्र सरकार ने -

Friday, March 27, 2020

पहले कोरोना मरीज तीन आईएफएस अधिकारियों का रिपोर्ट आई निगेटिव, सीएम ने डॉक्टरों दी बधाई -

Friday, March 27, 2020

मदद : 200 से ज्यादा जरूरतमंद को खिलाया भोजन -

Friday, March 27, 2020

आवश्यक वस्तुओं और सेवाओं की उपलब्धता सुनिश्चित करने के सीएम त्रिवेन्द्र ने दिए निर्देश -

Friday, March 27, 2020

लॉकडाउन में रामायण की वापसी , दूरदर्शन पर एक बार फिर -

Friday, March 27, 2020

उत्तराखंड : आवश्यक वस्तुओं के लिए न लगाएं भीड़, 27 मार्च को समय हुआ प्रातः 7 बजे से दोपहर 1 बजे तक -

Thursday, March 26, 2020

दून पुलिस ने जारी किये हेल्पलाइन नंबर, जानिए खबर -

Thursday, March 26, 2020

उत्तराखंड : छात्रों से स्कूल खुलने के बाद ही लिया जाए शुल्क, सभी स्कूलों को निर्देश -

Thursday, March 26, 2020

घर पर रहे और सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करे -

Thursday, March 26, 2020

कोरोना वायरस महामारी को रोकने के लिए सरकार ने कई प्रभावी कदम उठाए : सीएम त्रिवेन्द्र -

Wednesday, March 25, 2020

नवरात्रि पर लोगों ने घरों में की पूजा-अर्चना -

Wednesday, March 25, 2020

उत्तराखंड में एक मरीज कोरोना पॉजिटिव पाया गया, 5 मरीज में एक मरीज हुआ ठीक -

Wednesday, March 25, 2020

उत्तराखंड विधानसभा में बजट पारित, सदन अनिश्चितकाल के लिए स्थगित -

Wednesday, March 25, 2020

तपोवन क्षेत्र के हर गली मोहल्ले को सैनिटाइज किया गया, जानिए खबर -

Wednesday, March 25, 2020

जिला प्रशासन व एचआरडीए ने असहाय गरीबो को बांटे भोजन पैकेट -

Tuesday, March 24, 2020

उत्तराखंड के उत्पादों का एक ही ब्रांड नेम होना चाहिए : उत्पल कुमार सिंह

CS

देहरादून | मुख्य सचिव उत्पल कुमार सिंह ने सचिवालय में हिमोत्थान परियोजना के राज्य स्तरीय स्टीयरिंग कमेटी की बैठक की अध्यक्षता की। कहा कि हिमोत्थान सोसाइटी को मृदा परीक्षण कर किसानों को हेल्थ कार्ड भी देना चाहिए। किसानों को बताया जाय कि किस मिट्टी में कौनसी फसल का उत्पादन हो सकता है। आर्गेनिक खेती को बढ़ावा देने के लिए भी कार्य करना चाहिए। इसके साथ ही कौशल विकास पर भी फोकस करने की जरूरत है।उत्तराखंड के उत्पादों का एक ही ब्रांड नेम होना चाहिए। इससे उत्तराखंड की पहचान बनेगी। बैठक में बताया गया कि हिमोत्थान जल स्रोतों की मैपिंग और सूख रहे स्रोतों के पुनर्जीवीकरण के लिए 300 गांवों में कार्य कर रहा है। इसके साथ ही अपने फेडरेशन के माध्यम से जल की गुणवत्ता पर भी कार्य किया जा रहा है। बताया गया कि विभिन्न कृषि उत्पादों के बीज का उत्पादन भी किया जा रहा है। इस वर्ष 300 क्विंटल बीज का उत्पादन कर किसानों को वितरित किया गया है। इससे फसल का उत्पादन बढ़ा है। हिमोत्थान सोसाइटी ग्राम्य विकास, कृषि, वानिकी, पशुपालन, शिक्षा, डेरी आदि विभागों और विशेषज्ञ संस्थानों के साथ मिलकर कार्य कर रहा है। बताया गया कि 10 पर्वतीय जनपदों में 35 क्लस्टर के माध्यम से 650 गांवों में कार्य किया जा रहा है। इससे 63000 लोगों को लाभ मिल रहा है। 18000 घरों के लिए 10 फसलों के उत्पादन और बाजार लिंकेज का कार्य किया जा रहा है। वर्ष 2018 से 2022 तक किसानों की आमदनी दोगुनी करने के लिए मिशन मोड में कार्य करने की योजना बनाई गई है। पशुओं को चारा उपलब्ध कराने के लिए 1100 हैक्टर जमीन पर उत्पादन किया जा रहा है। इससे 500 गांवों के 25000 परिवारों को लाभ मिल रहा है। 100 गांवों में 12 क्लस्टर बनाकर 2000 पशुपालकों को बकरी पालन का लाभ दिया जा रहा है। इसके अलावा स्वरोजगार, शिक्षाए, स्वच्छता, शुद्ध पेयजल, कौशल विकास की दिशा में भी कार्य किया जा रहा बैठक में अध्यक्ष हिमोत्थान सोसाइटी विभा पूरी दास, प्रमुख सचिव ग्राम्य विकास मनीषा पंवार, अपर सचिव युगल किशोर पंत, एमडी वन निगम एस.टी.एस.लेप्चा, हिमोत्थान के अरूण पांधी, प्रोफेसर बी.के.जोशी सहित अन्य वरिष्ठ अधिकारी उपस्थित थे।

Leave A Comment