Breaking News:

उत्तराखंड : निकाय चुनाव का मतदान 18 नवंबर को -

Monday, October 15, 2018

व्यंग्यः कितना दर्द दिया मीटू के टीटू ने…..! -

Monday, October 15, 2018

टिहरी गढ़वाल के बंगसील स्कूल में सफाई अभियान की अनोखी पहल -

Monday, October 15, 2018

गडकरी, एम्स डायरेक्टर समेत आठ लोगों के खिलाफ मातृसदन दर्ज कराएगा हत्या का मुकदमा -

Monday, October 15, 2018

साधन विहीन व निर्बल वर्ग के बच्चों को यथा सम्भव पहुंचे सहायता : राज्यपाल -

Monday, October 15, 2018

#MeToo: बॉलिवुड की अभिनेत्रियों ने आरोपियों के साथ काम करने से किया इंकार -

Monday, October 15, 2018

भारतीय टीम ने वेस्ट इंडीज को हराकर हासिल की शानदार जीत -

Monday, October 15, 2018

“मैड” के सपने को मिला नया नेतृत्व -

Sunday, October 14, 2018

देश के लिए डॉ.कलाम का अद्वितीय योगदान रहा : सीएम त्रिवेंद्र -

Sunday, October 14, 2018

डिप्रेशन विश्व में हार्ट अटैक के बाद मृत्यु का दूसरा बड़ा कारण -

Sunday, October 14, 2018

रूपातंरण कार्यक्रम सराहनीय ही नहीं अनुकरणीय भीः राज्यपाल -

Sunday, October 14, 2018

केदारनाथ यात्रा : 7 लाख के पार पहुंची दर्शनार्थियों की संख्या -

Sunday, October 14, 2018

“उपहार” का निराश्रित बेटियों की शादी में सराहनीय प्रयास -

Sunday, October 14, 2018

अधिकारी एवं कर्मचारी पूरी निष्ठा व ईमानदारी से करे कार्य : सीएम -

Saturday, October 13, 2018

राज्यपाल ने किया पंतनगर विश्वविद्यालय एवं जी.जी.आई.सी.का भ्रमण -

Saturday, October 13, 2018

मिस बॉलीवुड के लिए कॉम्पीटिशन का आयोजन -

Saturday, October 13, 2018

उद्यमी के घर पर भीड़ ने किया हमला -

Saturday, October 13, 2018

उत्तराखण्ड व हरियाणा के मध्य जल्द बहुद्देशीय परियोजनाओं के सम्बन्ध में एमओयू -

Saturday, October 13, 2018

दो दशक के बाद भारत और चीन के बीच फुटबॉल मैच -

Saturday, October 13, 2018

14 अक्टूबर को हाम्रो दशैं कार्यक्रम का भव्य आयोजन -

Friday, October 12, 2018

उत्तराखंड : जर्मन डेवलपमेंट बैंक स्वच्छ पेयजल और गंगा सफाई के लिए देगा 960 करोड़

cs-uk

जर्मन डेवलपमेंट बैंक (केएफडब्लू) स्वच्छ पेयजल और गंगा सफाई के लिए 960 करोड़ रुपये देगा। पहले चरण में यह कार्य हरिद्वार और ऋषिकेश में शुरू किया जाएगा। इस सिलसिले में जर्मन डेवलपमेंट बैंक का मिशन दल मुख्य सचिव उत्पल कुमार सिंह से सचिवालय में मिला। मिशन दल ने बताया कि हरिद्वार और ऋषिकेश में अप्रैजल का कार्य पूरा कर लिया गया है। अप्रैजल रिपोर्ट केएफडब्लू को सौंपी जाएगी। दिसंबर में जल संसाधन मंत्रालय और केएफडब्लू के बीच सहमति पत्र पर हस्ताक्षर हो जाने की संभावना है। जर्मनी के विशेषज्ञों की देखरेख में 15 एसटीपी के निर्माण और 10 नेटवर्किंग का कार्य किया जाएगा। इसके अलावा शुद्ध पेयजल के लिए भी आधुनिक तकनीक का इस्तेमाल किया जाएगा। दूसरे चरण में अन्य शहरों को भी लिया जाएगा। मुख्य सचिव ने केएफडब्लू के मिशन दल को हरिद्वार में लगने वाले अगले कुम्भ के पहले गंगा नदी को स्वच्छ बनाने के राज्य सरकार के संकल्प से अवगत कराया। उन्होंने अनुरोध किया कि केएफडब्लू 2022 तक अपनी परियोजना पूरी कर ले। इसके लिए राज्य सरकार सहयोग करेगी। बैठक में केएफडब्लू की साउथ एशिया हेड कार्ला बर्क, सचिव पेयजल अरविंद सिंह ह्यांकी, परियोजना निदेशक नमामि गंगे राघव लांगर सहित अन्य अधिकारी उपस्थित थे।

Leave A Comment