Breaking News:

उत्तरकाशी : बस खाई में गिरी, 14 लोगों की मौत -

Sunday, November 18, 2018

शादी से पहले वोट डालने पहुंचे युवक और युवती -

Sunday, November 18, 2018

सीएम ने शांतिपूर्ण व उत्साहपूर्ण मतदान के लिए मतदाताओं का जताया आभार -

Sunday, November 18, 2018

निकाय चुनावः प्रत्याशियों के भाग्य का फैसला मतपेटियों में बंद -

Sunday, November 18, 2018

जरा हट के : ब्याज पर पैसे लेकर ग्रामीणों ने खुद बनाई डेढ़ सौ मीटर लम्बी सड़क -

Sunday, November 18, 2018

देहरादून : दुष्कर्म का आरोप लगाने वाली युवती के सोमवार को दर्ज होंगे बयान -

Saturday, November 17, 2018

वरिष्ठ पत्रकार अनूप गैरोला का निधन -

Saturday, November 17, 2018

मिस उत्तराखंड : मिस रेडिएंट स्किन एंड ब्यूटीफुल हेयर सब प्रतियोगिता का आयोजन -

Saturday, November 17, 2018

सभी नागरिक अपने मताधिकार का करे प्रयोग : सीएम -

Saturday, November 17, 2018

मतदाता चुनेेंगे शहर की सरकार …. -

Saturday, November 17, 2018

राष्ट्र निर्माण में युवाओं की भूमिका अहम -

Friday, November 16, 2018

चैटर्जी बहनों द्वारा बांसुरी प्रदर्शन का आयोजन -

Friday, November 16, 2018

आखिरी दिन कांग्रेस ने रोड शो में झोंकी ताकत -

Friday, November 16, 2018

स्टिंग ऑपरेशन केस : उमेश शर्मा को मिली जमानत -

Friday, November 16, 2018

त्रिवेंद्र एवं अजय भट्ट ने मांगे भाजपा प्रत्याशियों के लिए वोट -

Friday, November 16, 2018

निकाय चुनाव : 9399 लाइसेंसी शस्त्रों को किया गया जमा -

Friday, November 16, 2018

भारतीय लोकतंत्र के चौथे स्तंभ के रूप में प्रेस की महत्वपूर्ण भूमिका : सीएम -

Thursday, November 15, 2018

स्टिंग मामला : नार्को व ब्रेन मैपिंग टेस्ट पर हाईकोर्ट ने लगाई रोक -

Thursday, November 15, 2018

हिमालया ने लॉन्च किया ‘‘खुश रहो, खुशहाल रहो’’ -

Thursday, November 15, 2018

नजूल भूमि पर बसे किसी भी परिवार को उजड़ने नहीं दिया जायेगा : सीएम -

Thursday, November 15, 2018

उत्तराखंड : राज्यपाल ने जरूरतमंद बच्चो एवं वृद्धजन के बीच बिताये समय

uk

देहरादून/बागेश्वर। राज्यपाल बेबी रानी मौर्य ने उत्तराखण्ड की काशी कही जाने वाली सरयू गोमती के तट पर स्थित बागेश्वर में बागनाथ मंदिर में जाकर पूजा अर्चना की और देश की सुख समृद्धि की कामना की। उन्होंने इस अवसर पर मंदिर से जुड़े पुजारियों एवं अन्य गणमान्य व्यक्तियों से मंदिर के इतिहास के बारे में जानकारी प्राप्त की। इस अवसर पर मंदिर समिति व गणमान्य व्यक्तियों के द्वारा राज्यपाल को प्रतीक चिन्ह व कलश भेंट किया गया। इस अवसर पर उन्होंने कहा कि आस-पास के क्षेत्र का सौन्दर्यीकरण के साथ-साथ बाहर से आने वाले श्रद्धालुओं व पर्यटकों को किसी प्रकार की असुविधा न हो इसके लिए वाहनों के खड़े होने के लिए पार्किंग स्थलों को विकसित किया जाय। उन्होंने कहा कि यहाॅ पर पर्यटन सम्बन्धी अनेक कार्य किये जा सकते है जिसके लिए एक ठोस कार्ययोजना तैयार कर ली जाय। उसके पश्चात उन्होंने अनेक लोगों से वार्ता की। इसके उपरान्त, राज्यपाल नीलेश्वर स्थित राजकीय आश्रम पद्धति विद्यालय व वृद्धा आश्रम में पहुॅची। इस अवसर पर उन्होंने वहाँ रह रहे बच्चों से भी वार्ता की और उन्हें फल, कपड़े भी वितरित किये। उन्होंने कहा कि समाज के निर्बल, असहाय व वृद्धजनों की सेवा करने का हमें संकल्प लेना होगा तभी हमारा जीवन सार्थक माना जायेगा। इस अवसर पर उन्होंने वहाॅ पर रह रहे बच्चों को और वृद्धजनों को कपड़े एवं कम्बल भी वितरित किये। भोजनालय एवं अन्य परिसरों का निरीक्षण करने पर सभी व्यवस्थायें ठीक पाये जाने पर राज्यपाल ने संतोष व्यक्त किया। राज्यपाल ने गणमान्य व्यक्तियों से अपील की कि वे स्वतः सद्भावनाओं से समाज के इन वर्ग के लोगों को यथासम्भव सहायता दें। उन्होंने आश्रम में बच्चों को कहा कि अच्छा चरित्रवान व संस्कारवान बनना आवश्यक है। माता पिता एवं गुरूजनों व अपने से बड़े लोगों का आदर करें। तद्पश्चात राज्यपाल ने लो.नि.वि. निरीक्षण भवन बागेश्वर में आम जनता एवं जनप्रतिनिधियों व गणमान्य व्यक्तियों से मुलाकात की और उनकी समस्यायें सुनी। उन्होंने कहा कि बागेश्वर स्वच्छता में प्रथम स्थान पर है। नगर क्षेत्र के भ्रमण के दौरान क्षेत्र की स्वच्छता की प्रशंसा की। तथा आम जनता से अपील की कि स्वच्छता एवं अन्य विकास कार्यों में सम्बन्धित अधिकारियों का सहयोग प्रदान करें ताकि किये जा रहे विकास कार्यों को समय से धरातल पर लाया जा सके।

uk

उन्होंने अपने सम्बोधन में कहा कि बेटियों को बचाने और उन्हें उच्च मुकाम तक पहुॅचाने के लिए पढ़ाई के क्षेत्र में सहयोग प्रदान करें। उन्होंने गरीब निर्बल व असहाय लोगों को आम जनता से सहयोग प्रदान करने को कहा। राज्यपाल ने वृक्ष प्रेमी किशन सिंह मलड़ा के द्वारा किये जा रहे वृक्षारोपण के कार्यों की सराहना की और उन्हें सम्मानित करते हुए उन्हें वृक्ष पुरूष की उपाधि दी। उन्होंने कहा कि इस तरह से भविष्य में भी निरंतर कार्य करते रहें तथा अन्य युवाओ को भी उनसे प्रेरणा लेनी होगी। उन्होंने इस दौरान प्रधानमंत्री उज्ज्वला योजना, प्रधानमंत्री आवास योजना, शौचालय के सम्बन्ध में जनपदस्तरीय अधिकारियों को निर्देश दिये कि जो भी पात्र व्यक्ति हो उसे योजना का लाभ देना सुनिश्चित करें। कहा कि उत्तराखण्ड सहित जनपद बागेश्वर को पाॅलीथिन मुक्त बनाना है इसलिए पाॅलीथीन का उपयोग कतई न हो, सामग्री ले जाने हेतु कपड़े का थैली का प्रयोग करने को कहा। उन्होंने कहा कि जो भी प्रत्यावेदन आज प्राप्त हुए है जिलाधिकारी को कहा कि इन प्रत्यावेदनों पर यथाशीघ्र कार्यवाही करना सुनिश्चित करें। इसके बाद राज्यपाल आर.सी.टी. भवन कठायतबाड़ा में महिला किसान संगोष्ठी में गयी। वहाॅ महिला किसानों से सीधे संवाद करते हुए उनके द्वारा किये जा रहे गतिविधियों की जानकारी प्राप्त की और कृषि के क्षेत्र में नये नये प्रयोगों से खेती करने को कहा ताकि स्वरोजगार के साथ-साथ आजीविका व आर्थिक स्थिति को भी मजबूत किया जा सके।

Leave A Comment