Breaking News:

’संपर्क फ़ॉर समर्थन’ अभियान की तरफ कदम दर कदम, जानिये खबर -

Sunday, June 24, 2018

जुलाई में उत्तराखण्ड में दस्तक देगा मानसून -

Sunday, June 24, 2018

पर्वतीय क्षेत्र में एनसीसी मुख्यालय एवं एकेडमी के लिए जगह होगी उपलब्ध -

Sunday, June 24, 2018

उदय शंकर नाट्य अकादमी में कलाकारों ने दी सांस्कृतिक प्रस्तुतियां -

Sunday, June 24, 2018

पौधारोपण के क्षेत्र में मैती आंदोलन के प्रयास सराहनीय : सीएम त्रिवेन्द्र -

Sunday, June 24, 2018

उत्तराखण्ड में शूटिंग करना मेरा सौभाग्य : मधुरिमा तुली -

Sunday, June 24, 2018

महाराष्ट्र व उत्तराखण्ड के सूचना विभाग ने साझा किये अपने अपने अनुभव -

Sunday, June 24, 2018

अनुसूचित जाति व जनजाति में उद्यमशीलता को बढ़ावा देने पर फोकस : सीएम त्रिवेंद्र -

Saturday, June 23, 2018

‘‘ओक तसर विकास परियोजना’’ का सीएम त्रिवेंद्र ने किया शुभारम्भ -

Saturday, June 23, 2018

चैलाई के प्रसाद के रूप में तीन गुना मिल रहा फायदा, जानिए ख़बर -

Saturday, June 23, 2018

अमित शाह 24 जून को दून दौरे पर, जानिए ख़बर -

Saturday, June 23, 2018

औद्योगिक विकास योजना को लेकर कार्यशाला का आयोजन, जानिए ख़बर -

Saturday, June 23, 2018

साहसिक पर्यटन गतिविधियों पर रोक के फैसले का अध्ययन किया जा रहा : मुख्यमंत्री त्रिवेन्द्र -

Friday, June 22, 2018

हाईकोर्ट ने गंगा में राफ्टिंग सहित सभी वॉटर स्पोर्ट्स पर लगया बैन जानिए ख़बर -

Friday, June 22, 2018

सीएम ने की अनेक विभागो के कार्यो की जनपदवार समीक्षा , जानिए ख़बर -

Friday, June 22, 2018

पति ने पत्नी को पीटने की मांगी इजाजत जानिए ख़बर -

Friday, June 22, 2018

देश की रक्षा के लिए उत्तराखंड का एक और लाल शहीद -

Friday, June 22, 2018

फिल्म ‘सत्यमेव जयते’ का पहला पोस्टर रिलीज़ -

Friday, June 22, 2018

जम्मू कश्मीर में एनएसजी कमांडो तैनात, करेंगे आतंकियों का सफाया -

Friday, June 22, 2018

यात्रियों को विमान से उतारने के लिए AC किया तेज़, जानिए ख़बर -

Friday, June 22, 2018

उत्तराखण्ड : मुख्यमंत्री ने श्रीनगर एवं चौरास को जोड़ने वाले पुल का किया लोकार्पण

मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत ने श्रीनगर में श्रीनगर एवं चौरास को जोड़ने वाले 3637.43 लाख रूपये की लागत से निर्मित 190 मीटर लम्बे स्व0 हेमवती नन्दन बहुगुणा डबल लेन पुल का लोकार्पण किया। इसके साथ ही मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र ने 9 करोड़ 41  लाख रूपये की लागत से निर्मित चैरास को जाने वाली द्वितीय चरण के दो किमी रोड का शिलान्यास किया। इस पुल के निर्माण से श्रीनगर एवं चौरास के बीच आवागमन की सुविधा प्राप्त हो सकेगी। इसके पश्चात मुख्यमंत्री  त्रिवेन्द्र ने बेस अस्पताल में ई-डिजिटल पर्ची तथा डैशबोर्ड का उद्घाटन किया। उन्होंने कहा कि आज से राज्य के तीस अस्पतालों में ई-डिजिटल पर्ची सिस्टम जिसके अन्तर्गत ओ.पी.डी. पंजीकरण प्रणाली शुरू होगी। उन्होंने कहा कि ई-हैल्थ सेंटर के माध्यम से स्वास्थ्य सेवाओं को सुलभ एवं सस्ता बनाने के क्षेत्र में सरकार का यह महत्वपूर्ण कदम है। इसके पश्चात मुख्यमंत्री ने वीर चंद्रसिंह गढ़वाली राजकीय आयुर्वेदिक शोध संस्थान में ई-स्टूडियो तथा टैली मेडिसिन सेवाओं का लोकार्पण किया। इस अवसर पर आयोजित कार्यक्रम में मुख्यमंत्री  त्रिवेन्द्र ने उपस्थित जनसमूह को हिन्दू नववर्ष चैत्र नवरात्रि की हार्दिक बधाई दी। उन्होंने कहा कि दूरस्थ क्षेत्रों को स्वास्थ्य सुविधाएं उपलब्ध कराना सरकार की प्राथमिकता है। उन्होंने कहा कि यह कड़वी सच्चाई और यथार्थ है कि कोई भी डाक्टर पहाड़ में अपनी सेवा नहीं देने चाहता। जबकि राज्य में सबसे अच्छा वेतन डाक्टरों को दिया जा रहा है। उन्होंने कहा कि राज्य के 36 अस्पतालों से टैली रेडियोलॉजी एवं टैली मेडिसिन के माध्यम से बेहतर स्वास्थ्य सुविधायें उपलब्ध करायी जा रही हैं तथा स्वास्थ्य सेवाओं को अपग्रेड किया जा रहा है। उन्होंने बताया कि सरकार का विजन है कि आगामी 2020 तक राज्य के प्रत्येक दस किमी के दायरे में सभी लोगों को स्वास्थ्य सुविधायें उपलब्ध करायी जाएंगी। उन्होंने कहा कि स्वास्थ्य सुविधाओं की बेहतरी के लिए लोग अपने सुझाव बेवसाइट व टोल फ्री 1905 के माध्यम से भी दे सकते हैं। उन्होंने बताया कि राज्य में अभी तक 1141 डाक्टरों की नियुक्ति की जा चुकी है। इसके अलावा 450 ए.एन.एम. की भर्ती प्रक्रिया पूर्ण हो चुकी है तथा शीघ्र ही पांच सौ और ए.एन.एम. की भर्ती होगी। उन्होंने बताया कि अब प्रत्येक जिला चिकित्सालय में आई.सी.यू. की सुविधा भी लोगों को मिल सकेगी। मुख्यमंत्री ने कहा कि राज्य में चारधाम यात्रा ऑलवेदर रोड तथा रेल यातायात के साथ ही राज्य के 27 केद्रों को हवाई कनैक्टिविटी से भी जोड़े जाने की कार्यवाही गतिमान है। उन्होंने कहा कि राज्य में पर्यटन को बढ़ावा देने के लिए 13 नये डेस्टिनेशन विकसित किये जाएंगे। इस अवसर पर उन्होंने कहा कि मेडिकल कॉलेज के लिए 6 एसोशिएट प्रोफेसरों की नियुक्ति की गई है। शीघ्र ही अन्य एसोसिएट प्रोफेसरों की नियुक्ति की जाएगी। उन्होंने बताया कि मेडिकल कालेज के लिए दो एम्बुलेंस, विभिन्न चिकित्सक आवासों व हॉस्टल आदि कार्यों को भी पूरा किया जाएगा साथ ही दो सौ बेडों के वार्ड का भी काम शीघ्र पूरा किया जाएगा। मुख्यमंत्री ने कहा कि आशा कार्यकर्ता को स्वास्थ्य सेवाओं में दिये जा रहे योगदान पर 2 लाख रूपये दुर्घटना बीमा राज्य सरकार द्वारा मुहैया कराया जाएगा। उन्होंने आशा कार्यकत्रियों को प्रशिक्षण एवं उपकरण देने के उपरान्त उन्हें बेहतर पुष्टाहार तैयार कर अपनी आर्थिकी को बढ़ाने को कहा। उन्होंने कहा कि कुपोषित बच्चों के लिए आशा कार्यकत्रियों के माध्यम से पुष्टाहार मुहैया कराया जाएगा। उन्होंने कार्यक्रम में कहा कि अब लोगों को कैंसर, कार्डियोलॉजी, हृदय सम्बंधी जांच के लिए भटकना नहीं पड़ेगा तथा आगामी माहों में सरकार द्वारा डिजिटल लैब की भी स्थापना की जाएगी। इस अवसर पर मुख्यमंत्री ने बेस चिकित्सालय के लिए रेडियोलॉजिस्ट पद पर डा. एबी अरोनी को हाथोंहाथ नियुक्ति पत्र देकर तैनात किया। मुख्यमंत्री ने कहा कि वन विभाग में फोरेस्ट गार्ड की भर्ती के लिए 28 वर्ष तक के विज्ञान के साथ ही कला वर्ग के इंटरमीडिएट पास नौजवान आवेदन कर सकते हैं। इस अवसर पर मुख्यमंत्री ने राज्य प्रोत्साहन राशि वितरण हेतु आशा कार्यकत्रियों को 25-25 हजार रूपये को चैक भी मुख्य चिकित्साधिकारी के माध्यम से उपलब्ध कराये। इस अवसर पर स्वास्थ्य सेवाओं के लिए बेहतर कार्य करने वाली खिर्सू ब्लाक की आशा कार्यकत्री नंदा चमोली को प्रथम पुरस्कार रूपया पांच हजार का चैक, प्रशस्ती पत्र, अंगवस्त्र, द्वितीय पुरस्कार में विकास खंड कोट की मधु देवी को तीन हजार का चैक, प्रशस्ती पत्र, अंगवस्त्र तथा एकेश्वर की कांती देवी को तृतीय पुरस्कार के रूप में एक हजार का चैक, प्रशस्ती पत्र, अंगवस्त्र इसके अलावा आशा फैसिलिलेटर के लिए प्रथम पुरस्कार खिर्सू ब्लाक की संगीता देवी को पांच हजार का चैक, प्रशस्ती पत्र, अंगवस्त्र, द्वितीय पुरस्कार परसुंडाखाल की पिंकी रावत को तीन पांच हजार का चैक, प्रशस्ती पत्र, अंगवस्त्र तथा तृतीय पुरस्कार के रूप में बीरोंखाल ब्लाक की रजनी देवी के एक पांच हजार का चैक, प्रशस्ती पत्र, अंगवस्त्र भेंट किया। जबकि ब्लाक कॉर्डिनेटर के रूप में अनीता कुकरेती को पांच पांच हजार का चैक, प्रशस्ती पत्र, अंगवस्त्र देकर सम्मानित किया।

Leave A Comment