Breaking News:

देहरादून : लिफाफे और मास्क निर्माण प्रशिक्षण कार्यशाला आयोजित हुई -

Saturday, August 8, 2020

उत्तराखंड : सीएम त्रिवेंद्र ने अधीनस्थ सेवा चयन आयोग भवन का किया लोकार्पण -

Saturday, August 8, 2020

देहरादून : एसएसपी ने किए 6 उप निरीक्षकों के तबादले -

Saturday, August 8, 2020

उत्तराखंड: आज इन जिलों में मिले अधिक कोरोना मरीज, जानिए खबर -

Friday, August 7, 2020

उत्तराखंड : हथकरघा और हस्तशिल्प उत्पादों को अमेजन के माध्यम से आनलाईन बिक्री का सीएम त्रिवेंद्र ने किया शुभारंभ -

Friday, August 7, 2020

भारत : देश मे कोरोना संक्रमित 20 लाख पार, जानिए खबर -

Friday, August 7, 2020

स्कूटी व बाइक चोर गिरोह गिरफ्तार, जानिए खबर -

Friday, August 7, 2020

एक बेहतर टीम का हाथ होता हैं किसी बड़े और पवित्र उद्देश्य की सफलता के पीछेः डीएम देहरादून -

Friday, August 7, 2020

अंतराष्ट्रीय अचीवरस अवार्ड से सम्मानित हुए विरेन्द्र सिंह रावत -

Friday, August 7, 2020

उत्तराखंड : कोरोना से मरने वालो की संख्या पहुँची सौ के पार, हरिद्वार में 71 और मरीज मिले -

Thursday, August 6, 2020

मुख्यमंत्री स्वरोजगार योजना की देख – रेख हेतु प्रकोष्ठ का गठन -

Thursday, August 6, 2020

उत्तराखंड: आज सात जिलों में मिले कोरोना के अधिक मामले , जानिए खबर -

Thursday, August 6, 2020

एक और अभिनेता के किया आत्महत्या, जानिए खबर -

Thursday, August 6, 2020

सीएम त्रिवेन्द्र सिंह रावत अपने आवास में जलाए दिये, जानिए खबर -

Thursday, August 6, 2020

उत्तराखंड : 18 आईएएस समेत 19 अफसरों के दायित्वों में किया गया फेरबदल -

Thursday, August 6, 2020

सुना था कि भगवान होते हैं, लेकिन वेलमेड हॉस्पिटल में मुझे साक्षात दर्शन हुए … -

Thursday, August 6, 2020

उत्तराखंड: आज 246 नए कोरोना मरीज मिले , जानिए खबर -

Wednesday, August 5, 2020

कई वर्षों के संघर्ष के बाद आज यह स्वर्णिम अवसर आया : सीएम त्रिवेंद्र -

Wednesday, August 5, 2020

वर्षो बाद आज रच गया इतिहास, जानिए खबर -

Wednesday, August 5, 2020

सिविल सेवा परीक्षा परिणाम : रामनगर के शुभम अग्रवाल ने हासिल किए 43वीं रैंक -

Wednesday, August 5, 2020

उत्तराखण्ड श्रद्धा, विश्वास एवं आस्था की है भूमि: सीएम त्रिवेंद्र

देहरादून | मुख्यमंत्री त्रिवेन्द्र सिंह रावत ने कहा कि उत्तराखण्ड श्रद्धा, विश्वास एवं आस्था की भूमि है। भारतीय संस्कृति की प्रतीक गंगा का उद्भव यही से हुआ है। हमारे संत महात्मा हमारी समृद्ध सांस्कृतिक विरासत के संवाहक है। हमारे संतो ने सदैव ही समाज को सदमार्ग पर चलने की प्रेरणा दी है, चाहे वह पर्यावरण संरक्षण की बात हो या वृक्षारोपण अथवा नदियों के पुनर्जीवीकरण हो सभी उद्देश्यों की प्राप्ति के लिये संतो ने समाज का मार्गदर्शन किया है तथा समाज को प्रेरणा प्रदान की है। शुक्रवार को परमार्थ निकेतन ऋषिकेश में संत नर्मदानंद बापजी द्वारा सम्पादित की जा रही 10,300 कि0मी0 लम्बी द्वादस ज्योर्तिलिंगों की यात्रा का उत्तराखण्ड में स्वागत करते हुए मुख्यमंत्री श्री त्रिवेन्द्र ने संत नर्मदानंद द्वारा राष्ट्र व समाज हित में की जा रही यात्रा को समाज व मानव कल्याण के लिये कल्याणकारी बताया। उन्होंने कहा कि समाज कल्याण के लिये हमारे संतो के प्रयास सदैव सार्थक हुए हैं। पर्यावरण संरक्षण एवं गंगा की शुद्धता के लिये किये जा रहे संत नर्मदानंद के प्रयास फलीभूत होंगे, इसकी उन्होंने कामना की।
मुख्यमंत्री त्रिवेन्द्र ने कहा कि पर्यावरण के प्रति भारत समय पर जागा है। इस दिशा में किये जा रहे प्रयासों से एक संदेश भी गया है। उन्होंने कहा कि हमारा प्रयास है कि गंगा गोमुख से गंगासागर तक निर्मल हो, गंगा ही नही देश की हर नदी स्वच्छ हो इसके लिये देश में जागरूकता का व्यापक प्रसार भी हुआ है।  संत नर्मदानंद ने कहा कि उनके द्वारा जल, जीवन व जंगल की रक्षा को लेकर यह यात्रा की जा रही है। देवभूमि उत्तराखण्ड भगवान केदार एवं गंगा का उद्गम क्षेत्र है। इस पावन क्षेत्र से उन्होंने यात्रा की शुरूआत की है। उन्होंने उत्तराखण्ड में पर्यावरण संरक्षण एवं गंगा स्वच्छता के लिये मुख्यमंत्री के प्रयासों की सराहना की। उन्होंने कहा कि उनकी यह कामना है कि गंगा की पवित्रता व जल की शुद्धता जितनी हरिद्वार में है वह आगे भी हमें प्राप्त होती रहे। उन्होंने कहा कि पर्यावरण के प्रति जागरूकता समाज व प्रकृति के लिये हितकर है।  इस अवसर पर स्वामी चिदानन्द मुनि ने कहा कि स्वामी नर्मदानंद जी द्वारा देवभूमि के साथ ही योग एवं ध्यान की इस पावन भूमि से अपनी राष्ट्रहित व समाज हित से जुड़ी यात्रा की शुरूआत नये आयाम स्थापित करेगी। उन्होंने कहा कि स्वामी जी द्वारा 12 ज्योर्तिलिंगो की यह यात्रा पैदल सम्पन्न होगी जो समाज को नया सन्देश देगी। 

Leave A Comment