Breaking News:

उत्तराखण्ड: सीएम को फोन पर धमकी देने वाला आरोपी गिरफ्तार -

Monday, November 11, 2019

छात्रो ने फैशन शो में पेश किया नया क्लेक्शन -

Monday, November 11, 2019

पौड़ी के विकास में सीता माता सर्किट होगा मील का पत्थर साबित : सीएम -

Monday, November 11, 2019

सिन्मिट कम्युनिकेशन्स द्वारा मिस टैलेंटेड का आयोजन -

Monday, November 11, 2019

सीएम त्रिवेंद्र 550वें प्रकाश उत्सव एवं कार्तिक पूर्णिमा पर प्रदेशवासियों को दी शुभकामनाएं -

Monday, November 11, 2019

शहर के इस हालात पर अवैध टैक्सी स्टैंड जिम्मेदार, जानिए खबर -

Sunday, November 10, 2019

एक दिसम्बर को केंद्रीय कूर्मांचल परिषद का द्विवार्षिक चुनाव -

Sunday, November 10, 2019

सीएम त्रिवेंद्र ने फिल्म “शुभ निकाह” का मुहूर्त शॉट लिया -

Sunday, November 10, 2019

पौड़ी सांसद तीरथ सिंह रावत घायल, ऋषिकेश एम्स में भर्ती -

Sunday, November 10, 2019

डीएम सविन बंसल की एक पहलः स्कूूली बच्चों को सिखा रहे चित्रकारी -

Sunday, November 10, 2019

रास्ते में पड़े सिंगल यूज प्लास्टिक को भी उठाएं: सीएम त्रिवेंद्र -

Sunday, November 10, 2019

IPL-2020 : तीन नए शहर होगे सकते है शामिल , जानिए खबर -

Saturday, November 9, 2019

उत्तराखंड सैन्यधाम और विद्याधाम भी : रक्षामंत्री राजनाथ सिंह -

Saturday, November 9, 2019

आयुष्मान की सबसे बड़ी ओपनर बनी ‘बाला’, जानिए खबर -

Saturday, November 9, 2019

सीएम त्रिवेंद्र ने हिन्दी, गढ़वाली एवं कुमांऊनी फिल्मकारों को अनुदान राशि के चेक किये वितरित -

Saturday, November 9, 2019

अयोध्या में मंदिर भी और मस्जिद भी, जानिए खबर -

Saturday, November 9, 2019

मिसेज दून दिवा सीजन-4 का फिनाले 16 को , जानिए खबर -

Saturday, November 9, 2019

उत्तराखंड देश विदेशो में बनाई अपनी खास पहचान : सीएम -

Friday, November 8, 2019

सहायक अभियोजन अधिकारी पद के लिए करे 20 तक आवेदन -

Friday, November 8, 2019

सपने वो होते हैं जो सोने नहीं देतेः घिल्ड़ियाल -

Friday, November 8, 2019

उत्पीड़न के खिलाफ शीला रावत का धरना जारी

देहरादून। महिला कर्मी का उत्पीड़न के खिलाफ धरना प्रदर्शन आज ग्यारहवें दिन भी अंतरिक्ष उपयोग केंद्र, निकट अनुराग चैक (बसन्त विहार) में जारी रहा। इस अवसर पर अनेक संगठनों के पदाधिकारियों ने अपना समर्थन दिया। उनका कहना है कि शीघ्र ही महिला कर्मचारी की बहाली नहीं की गई तो आंदोलन को तेज किया जायेगा। इस अवसर पर महिला कर्मी शीला रावत ने कहा कि निदेशक ने उनका अपमान किया है और उनका आर्थिक स्रोतः भी खत्म कर दिया है। उनका कहना है कि निदेशक ने लगातार मेरा मानसिक शोषण कर रखा है।  उनका कहना है कि वह अभी तक भी अपना तानाशाही व्यवहार अपनाये हुए हैं। उनका कहना है कि जब तक उन्हें ससम्मान जॉब नहीं मिल जाती, तब तक लड़ाई जारी रहेगी। उनका कहना है कि विभाग में सात वर्ष से निरन्तर कार्यरत महिला कर्मी को उत्पीड़न कर बाहर करने के निर्णय को वापस लेकर, ससम्मान विभाग में वापसी की जाये और आउट सोर्स पर तैनात सभी कर्मियों की विभाग में स्थाई नियुक्ति देने, प्रतिनियुक्ति पर तैनात निदेशक एम.पी.एस. बिष्ट पर महिला उत्पीड़न व तानाशाही को लेकर कार्यवाही की जाये। उनका कहना है कि विभाग में व्याप्त अनियमित्ताओं की निष्पक्ष जांच किये जाने एवं विभाग में महिला उत्पीड़न रोकने के लिए, वूमैन सेल का गठन करने की पुरजोर मांग की गई। इस अवसर पर अन्य वक्ताओं ने कहा कि शीध्र ही महिला कर्मी शीला रावत की बहाली नहीं की गई तो इसके लिए सडकों पर उतरकर आंदोलन को तेज किया जायेगा। धरने के समर्थन में रजनी मलासी, कमला बहुगुणा, सुलोचना बहुगुणा, प्रिया सिल्सवाल, जयदीप सकलानी, सुशील सैनी, कुलदीप मधवाल, सत्यवीर सिंह, राजेंद्र सिंह, सुधीर बुटोला, योधराज त्यागी, रमेश रावत, उत्तम भंडारी, कुलदीप मधवाल आदि मौजूद रहे।

Leave A Comment