Breaking News:

आत्मनिर्भर भारत में पंचायतों की महत्वपूर्ण भूमिका: सीएम त्रिवेंद्र -

Monday, July 13, 2020

पुलिस की यह वर्दी तुम्हारे बाप की गुलामी करने के लिए नहीं पहनी है…. -

Monday, July 13, 2020

उत्तरांचल पंजाबी महासभा महानगर युवा इकाई अध्यक्ष बने सन्तोष नागपाल -

Monday, July 13, 2020

खिलाड़ी वित्तिय तौर पर मजबूत हो : फेडरर -

Monday, July 13, 2020

अभिनेत्री रेखा का बंगला सील, जानिए क्यों -

Monday, July 13, 2020

कोरोना योद्धा : भारतीय चिकित्सा परिषद उत्तराखंड द्वारा विजय कुमार नौटियाल सम्मानित -

Sunday, July 12, 2020

फिल्म के किरदार के लिए सब कुछ न्योछावर कर बैठे “मेजर मोहम्मद अली शाह” , जानिए खबर -

Sunday, July 12, 2020

कोरोना से बचे : उत्तराखंड में कोरोना मरीजो की संख्या हुई 3537, आज कुल 120 नए मरीज मिले -

Sunday, July 12, 2020

रमाकांत जायसवाल की कैंसर पीड़ित पत्नी की मदद को आगे आये सलमान, जानिए खबर -

Sunday, July 12, 2020

पूर्व डब्ल्यूडब्ल्यूई स्टार जल्द ही मां बनने वाली है, तस्वीरें वायरल -

Sunday, July 12, 2020

जरा हटके : प्रकृति के बीच फैशन शो -

Sunday, July 12, 2020

अमिताभ बच्चन के बाद अभिषेक बच्चन की जाँच में भी कोरोना पॉजिटिव मिला -

Sunday, July 12, 2020

अमिताभ बच्चन को हुआ कोरोना, अस्पताल में भर्ती -

Saturday, July 11, 2020

कोरोना से बचे : उत्तराखंड में कोरोना मरीजो की संख्या हुई 3417, आज कुल 45 नए मरीज मिले -

Saturday, July 11, 2020

रिकवरी रेट में उत्तराखण्ड देश में लद्दाख के बाद दूसरे नम्बर पर -

Saturday, July 11, 2020

पांच वर्ष एक झटके में निकल गए : शाहिद कपूर -

Saturday, July 11, 2020

आखिर क्यों मैदान में खिलाड़ी, अंपायर घुटने के बल बैठे, जानिए खबर -

Saturday, July 11, 2020

अमेरिका विश्व स्वास्थ्य संगठन से हुआ अलग, जानिए क्यों -

Saturday, July 11, 2020

प्रत्येक व्यक्ति को अपनी सुविधा और कौशल के अनुसार व्यवसाय चयन करने का रोजगार प्रदान करने का अवसर : मदन कौशिक -

Friday, July 10, 2020

कोरोना से बचे : उत्तराखंड में कोरोना मरीजो की संख्या हुई 3373, आज कुल 68 नए मरीज मिले -

Friday, July 10, 2020

कभी कभी युद्ध जरुरी हो जाता है : पीएम

narendra-modi-at-ramleela

लखनऊ के ऐशबाग रामलीला मैदान में पीएम नरेंद्र मोदी लोगो को सम्बोधित करते हुए कहा की मुझे आज अति प्राचीन रामलीला, उस समारोह में सम्मिलित होने का सौभाग्‍य मिला है। हिन्‍दुस्‍तान की धरती का ये वो भू-भाग है, जिस भू-भाग ने दो ऐसे तीर्थरूप जीवन हमें दिए हैं- एक प्रभु राम और दूसरे श्री कृष्‍ण, इसी धरती से मिले। और ऐसी धरती पर विजयादशमी के पर्व पर आ करके नमन करना, इससे बड़ा जीवन का सौभाग्‍य क्‍या हो सकता है? इस बार का मंचन का विषय रहा है आतंकवाद। आतंकवाद ये मानवता का दुश्‍मन है, और प्रभु राम मानवता का प्रतिनिधित्‍व करते हैं; मानवता के उच्‍च मूल्‍यों का प्रतिनिधित्‍व करते हैं; मानवता के आदर्शों का प्रतिनिधित्‍व करते हैं; मर्यादाओं को रेखांकित करते हैं; और विवेक, त्‍याग, तपस्‍या, उसकी एक मिसाल हमारे बीच छोड़ करके गए हैं। और इसलिए और आतंकवाद के खिलाफ सबसे पहले कौन लड़ा था? कोई फौजी था क्‍या? कोई नेता था क्‍या? रामायण गवाह है कि आतंकवाद के खिलाफ सबसे पहले लड़ाई किसी ने लड़ी थी तो वो जटायु ने लड़ी थी। एक नारी के सम्‍मान के लिए रावण जैसी सामर्थ्‍यवान शक्ति के खिलाफ एक जटायु जूझता रहा, लड़ता रहा। आज भी अभय का संदेश कोई देता है तो जटायु देता है। और इसलिए सवा सौ करोड़ देशवासी- हम राम तो नहीं बन पाते हैं, लेकिन अनाचार, अत्‍याचार, दुराचार के सामने हम जटायु के रूप में तो कोई भूमिका अदा कर सकते हैं। अगर सवा सौ करोड़ देशवासी एक बन करके आतंकवादियों की हर हरकत पर अगर ध्‍यान रखें, चौकन्‍ने रहें तो आतंकवादियों का सफल होना बहुत मुश्किल होता है। उन्होंने कहा कभी कभी युद्ध भी जरूरी हो जाते है जब देश रक्षा को लेकर पानी सर से ऊपर चला जाता है |

Leave A Comment