Breaking News:

सात बार विधायक रहे भगवती सिंह के पास ना अपना घर है ना गाड़ी, जानिए खबर -

Saturday, September 21, 2019

सीएम त्रिवेंद्र वरिष्ठ पत्रकार चंद्रशेखर जोशी की पत्नी आरती बडोनी जोशी के निधन पर जताया शोक -

Friday, September 20, 2019

देहरादून में जहरीली शराब पीने से छह लोगों की मौत -

Friday, September 20, 2019

लाखों की स्मैक के साथ एक दबोचा -

Friday, September 20, 2019

गुरुकुल कांगड़ी विश्वविद्यालय : 11 छात्रों को प्रतिष्ठित कंपनियों में प्लेसमेंट -

Friday, September 20, 2019

शराब कारखाने लगाने की नीति पर हो पुनर्विचार : साध्वी प्राची -

Friday, September 20, 2019

देहरादून : फैशन वीक 20 सितंबर से, जानिए खबर -

Thursday, September 19, 2019

सुपर 30 के संस्थापक आनंद अमेरिका में हुए सम्मानित -

Thursday, September 19, 2019

पंचायत चुनाव : महिला कांग्रेस की प्रदेश अध्यक्ष ने पर्यवेक्षक नियुक्त किए -

Thursday, September 19, 2019

ईमानदारी की मिशाल किया पेश, जानिए खबर -

Thursday, September 19, 2019

केदारनाथ के दरबार मे थल सेनाध्यक्ष -

Thursday, September 19, 2019

त्रिवेंद्र सरकार के ढाई वर्ष : उत्तराखंड राज्य के विकास दर में हुई वृद्धि -

Wednesday, September 18, 2019

केजरीवाल सरकार : मजदूर की बेटी शशि बनेगी एमबीबीएस -

Wednesday, September 18, 2019

पुलिस कर्मियों के सामने ‘बेघर’ का संकट -

Wednesday, September 18, 2019

डेंगू और अब स्वाइन फ्लू का अटैक -

Wednesday, September 18, 2019

पंचायत चुनाव: विकास खण्ड मुख्यालय पर होगा चुनाव चिन्ह आवंटन -

Wednesday, September 18, 2019

गरीब बच्चों को राज्यपाल ने स्कूल टिफिन और छाते उपहार स्वरूप किये भेंट -

Tuesday, September 17, 2019

मोटोरोला ने लांच किया स्मार्ट टीवी , जानिए खबर -

Tuesday, September 17, 2019

पीएम नरेन्द्र मोदी के जन्मोत्सव पर चित्र प्रदर्शनी का सीएम त्रिवेंद्र ने किया शुभारंभ -

Tuesday, September 17, 2019

सिर पर हेल्मेट होती तो बच जाती लगभग पचास हज़ार लोगों की जान , जानिए खबर -

Tuesday, September 17, 2019

कृषक उत्पादक संगठन पर हुई समीक्षा बैठक

देहरादून | नाबार्ड, उत्तराखण्ड क्षेत्रीय कार्यालय, देहरादून ने 12 जून, 2019 को राज्य में कृषक उत्पादक संगठन (FPO) के समक्ष आने वाले मुद्दों और चुनौतियों पर चर्चा के लिए एक राज्य स्तरीय सलाहकार समिति की बैठक का आयोजन किया। यह बैठक नीतिगत सुधारों और भारत सरकार या अन्य हितधारकों द्वारा राज्य में एफपीओ आंदोलन को और मजबूत करने के लिए शुरू किए जानी वाली पहलों पर केंद्रित थी। सुनील चावला, मुख्य महाप्रबंधक ने बैठक की अध्यक्षता करते हुए राज्य में एफपीओ को मजबूत करने की आवश्यकता पर बल दिया तथा कहा कि कृषक उत्पादक संगठनों को विशेष रूप से मूल्य श्रृंखला और गैर-कृषि गतिविधियों में कार्य करने पर ध्यान देना चाहिए। राज्य में एफपीओ आंदोलन की व्यापक अवलोकना पर भूपेंद्र कुमावत (एजीएम-एफएसडीडी) द्वारा पीपीटी के माध्यम से प्रस्तुतीदी जिसमें कृषक उत्पादक संगठन उत्पत्ति, स्थिति और आगे कीयोजनाओं जैसे लगभग सभी पहलुओं को शामिल किया गया है। नाबार्ड ने राज्य सरकार से एफपीओ पर केंद्रीत एक किया कि निर्दिष्ट नीति अपनाने का आग्रह किया ताकि किसानों व अन्य हितधारकों को कृषक उत्पादक संगठन के समक्ष आने वाली विभिन्न चुनौतियों का सामना करने में सक्षम बनाया जा सके। इस अवसर पर उपस्थित बैंकरों और अन्य हितधारकों ने ग्रामीण समृद्धि के लिए नाबार्ड के प्रयासों की सराहना की और कृषि क्षेत्र में एक इंद्रधनुषी क्रांति हासिल करने की दिशा में अपना समर्थन सुनिश्चित किया। बैठक में बागवानी और कृषि विभाग के संयुक्त निदेशक डॉ. जगदीश चंद्रा, सुरेश राम व लतिका शर्मा भारतीय रिज़र्व बैंक, राज्य स्तरीय बैंकर समिति से स्वतंत्र कुमार,उत्तराखंड ग्रामीण बैंक से एस.एम श्रीवास्तव,उत्तराखंड राज्य सहकारी बैंक से ए.पी. सिंह, ILSP से संजय सक्सेना, IFFCO से नीरज कुमार तथा राज्य भर से 37 कृषक उत्पादक संगठन को प्रोहत्सान देने वाली संस्थाओं जो 77 कृषक उत्पादक संगठन का प्रतिनिधित्व करती है के सदस्य भी मौजूद थे।

Leave A Comment