Breaking News:

उत्तराखण्ड : सीएम त्रिवेंद्र ने सांसद आदर्श ग्राम योजना की समीक्षा की -

Thursday, November 14, 2019

अंगीठी की गैस से दम घुटने के कारण मां-बेटी की मौत -

Thursday, November 14, 2019

भारतीय वन्य जीव संस्थान का दल पहुंचा परमार्थ निकेतन -

Thursday, November 14, 2019

पिथौरागढ़ विस उपचुनाव: प्रचार को कांग्रेस प्रभारी भी -

Thursday, November 14, 2019

मुख्यमंत्री ने 150 करोड़ रूपए लागत की विभिन्न विकास योजनाओं का किया लोकार्पण एवं शिलान्यास -

Thursday, November 14, 2019

जनभावनाओं के अनुरूप श्रीराम का भव्य मंदिर जल्द : सीएम योगी आदित्यनाथ -

Wednesday, November 13, 2019

उत्तराखण्ड : मंत्रिमंडल की बैठक में 27 फैसलों को मंजूरी -

Wednesday, November 13, 2019

फीस वृद्धि : छात्रों में भारी आक्रोश, की तालाबंदी -

Wednesday, November 13, 2019

उत्तराखण्ड : 25 नवंबर से शुरू होगा खेल महाकुम्भ, जानिए खबर -

Wednesday, November 13, 2019

मिसेज दून दिवा सेशन-4 फिनाले 16 नवंबर को -

Wednesday, November 13, 2019

सीएम त्रिवेन्द्र ने कुम्भ मेले के तैयारियों की समीक्षा की -

Wednesday, November 13, 2019

बुजुर्गो से ठगी करने वाला गिरफ्तार , जानिए खबर -

Tuesday, November 12, 2019

फीस वृद्धि के खिलाफ आयुष छात्रों का आंदोलन जारी -

Tuesday, November 12, 2019

धूमधाम से मनाया गया 550वां प्रकाशोत्सव -

Tuesday, November 12, 2019

पिथौरागढ़ में भूकंप के झटके, जानिए खबर -

Tuesday, November 12, 2019

बचपन की कुछ बातें और उनसे जुडी कुछ यादें….. -

Tuesday, November 12, 2019

प्रकाशपर्व: मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र ने मत्था टेक प्रदेश की खुशहाली की कामना की -

Tuesday, November 12, 2019

उत्तराखण्ड: सीएम को फोन पर धमकी देने वाला आरोपी गिरफ्तार -

Monday, November 11, 2019

छात्रो ने फैशन शो में पेश किया नया क्लेक्शन -

Monday, November 11, 2019

पौड़ी के विकास में सीता माता सर्किट होगा मील का पत्थर साबित : सीएम -

Monday, November 11, 2019

केदारनाथ आपदा : डीएनए रिपोर्ट के लिए परिजन नही कर रहे संपर्क

kedarnath-aapda

देहरादून। 2013 की केदारनाथ आपदा के 836 मृतकों का पुलिस ने हैदराबाद की लैब से डीएनए टेस्ट कराया था, जिसमें 192 मृतकों के परिजनों ने भी डीएनए टेस्ट के लिए अपने सैंपल दिये थे। डीएनए टेस्ट को कराने में पुलिस के करीब 83 लाख रुपये खर्च हुए हैं। पुलिस ने धनराशि देने के लिए शासन को पत्र लिखा है। आश्चर्य की बात यह है कि फिलहाल कोई भी परिजन डीएनए रिपोर्ट के लिए संपर्क नही कर रहा है। रामसिंह मीणा एडीजी प्रशासन का कहना है कि शासन को धनराशि के लिए कई बार पत्र लिखा जा चुका है। मगर शासन से अभी कोई जबाव नहीं मिला है। उनका कहना है कि पुलिस अभी भी इस बात का इंताजार कर रही है कि अगर कोई भी परिजन डीएनए रिपोर्ट की जांच के लिए आते हैं तो पुलिस रिपोर्ट की जांच कराने को तैयार है। फिलहाल उनका कहना है कि पुलिस ने आपदा के सभी मृतकों का वैरीफिकेशन कराया था। जिसके आधार पर परिजनों को मृतक का डेथ सर्टिफिकेट जारी किए गए थे। पुलिस का कहना है कि यही वजह है अब लोग डीएनए रिपोर्ट के लिए नहीं आ रहे हैं और ना ही वे डीएनए रिपोर्ट की जांच कराना चाहते हैं। फिलहाल पुलिस सभी 836 आपदा के मृतकों की रिपोर्ट को लेकर काफी संजीदा है। उनका कहना है कि पुलिस अभी भी इस बात का इंतजार कर रही है कि अगर कोई परिजन किसी तरह की रिपोर्ट डीएनए के बार में चाहते हैं तो पुलिस उसे उपलब्ध कराने के लिए तैयार है।

Leave A Comment