Breaking News:

पानी बचाने के लिए , 84 साल का ‘नौजवान’ लगा रहा जी-जान -

Monday, June 17, 2019

वर्ल्ड कप 2019 : जीत के बाद विराट ने की रोहित और कुलदीप की सराहना -

Monday, June 17, 2019

वर्ल्ड कप की जीत से खुशी से झूमे रणवीर सिंह -

Monday, June 17, 2019

कथक नृत्य ने लोगो का मोहा मन ….. -

Sunday, June 16, 2019

केदारनाथ त्रासदी के छह साल, बदली तस्वीर -

Sunday, June 16, 2019

अटल आयुष्मान का “सिस्टम” मरीजों पर भारीः जन संघर्ष मोर्चा -

Sunday, June 16, 2019

सीएम त्रिवेंद्र ने महाकुंभ तैयारियों की समीक्षा की -

Sunday, June 16, 2019

पिथौरागढ़ भ्रमण पर पंहुचे मुख्यमंत्री त्रिवेन्द्र -

Sunday, June 16, 2019

युवा डाॅक्टर गावों में 4-5 वर्ष की सेवा जरूर देंः राज्यपाल -

Saturday, June 15, 2019

मानव संसाधन विकास मंत्री निशंक ने किये भोले बाबा के दर्शन -

Saturday, June 15, 2019

उत्तराखण्ड को इको सिस्टम सर्विसेज के बदले मिले प्रोत्साहन राशिः सीएम -

Saturday, June 15, 2019

गंगा की सहायक नदियों से संबंधित प्रस्ताव नमामि गंगे में हो स्वीकृत -

Saturday, June 15, 2019

नहीं दर्ज होंगे पत्रकारों पर सीधे मुकदमे : डीजीपी -

Saturday, June 15, 2019

फिल्म ‘दिल तेरे संग’ की शूटिंग देहरादून एवं मसूरी में -

Saturday, June 15, 2019

ब्रिज एवम मार्ग का सीएम त्रिवेंद्र ने किया लोकार्पण -

Friday, June 14, 2019

“ब्लड फ्रेंडस” से बड़ा कोई फ्रेंडस नही …. -

Friday, June 14, 2019

16 जून : केदारनाथ आपदा के 6 साल, जख्म आज भी हरे -

Friday, June 14, 2019

त्रिवेंद्र कैबिनेट के विस्तार की मांग पकड़ने लगी जोर….. -

Friday, June 14, 2019

15 जून से डीएवी पीजी कॉलेज में स्नातक प्रथम वर्ष के होंगे रजिस्ट्रेशन -

Friday, June 14, 2019

मेयर ने किया ‘वचन दियूॅं छौं’ वीडियो का विमोचन -

Friday, June 14, 2019

केरल: परंपरा के तहत कमल के फूलों से तौले गए नरेंद्र मोदी , जानिए खबर

तिरुवनंतपुरम | केरल के मशहूर गुरुवायूर कृष्ण मंदिर में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी शनिवार को दर्शन करने के लिए पहुंचे। त्रिशूर का गुरुवायूर मंदिर केरल के सबसे मशहूर मंदिरों में से एक है। यहां ‘तुला भरण’ पूजन परंपरा के तहत उन्हें कमल के फूलों से तौला गया। पूजा-अर्चना के लिए एक मुस्लिम किसान परिवार से 112 किलोग्राम कमल के फूल खरीदे गए थे। बताया जा रहा है कि कमल के इन फूलों को तिरुनवाया के एक मुस्लिम किसान परिवार से खरीदा गया था। लोकसभा चुनाव में प्रचंड जीत के बाद पीएम मोदी शुक्रवार को केरल पहुंचे। गुरुवायूर देवासम बोर्ड के चेयरमैन केबी मोहनदास ने बताया, ‘पीएम की पूजा के लिए 112 किलोग्राम कमल के फूल का इंतजाम किया गया है। मल्लापुरम में प्री मॉनसून की स्थिति को देखते कुछ फूल तमिलनाडु से भी मंगाए गए हैं। ‘ऐसी मान्यता है कि गुरुवायूर मंदिर में कृष्ण मूर्ति कलियुग के प्रारंभ में स्थापित की गई। त्रिशूर को केरल के द्वारका के रूप में भी जाना जाता है। पीएम की ओर से की गई विशेष पूजा में 112 किलो के कमल के फूलों का इस्तेमाल किया गया। बता दें कि पीएम मोदी दो दिवसीय केरल यात्रा पर हैं। शनिवार को गुरुवयूर मंदिर में पूजा-अर्चना के बाद पीएम मोदी एक जनसभा को भी संबोधित करेंगे। केरल में 100 साल से अधिक समय से मुस्लिम परिवारों का एक समूह कमल की खेती करता है। राज्यभर के मंदिरों में पूजा-अर्चना के दौरान इन फूलों का इस्तेमाल होता है। सूबे में ज्यादातर कमल की खेती मुस्लिम परिवार ही करते हैं। गुरुवयूर सहित आसपास के आधा दर्जन मंदिरों में ही करीब 20 हजार कमल के फूल का इस्तेमाल रोजाना होता है।

Leave A Comment