Breaking News:

हेल्प मी वेलफेयर सोसायटी ने गरीबों की मदद किये -

Tuesday, April 7, 2020

उत्तराखंड में पांच और कोरोना पॉजिटिव मामले सामने आए, संक्रमित मरीजों की संख्या हुई 31 -

Monday, April 6, 2020

सीएम ने उत्तराखंड के जवानों की शहादत को नमन किया -

Monday, April 6, 2020

उत्तराखंड : मुख्यमंत्री कैम्प कार्यालय में बेहतर समन्वय के लिए बनाया गया कंट्रोल रूम -

Monday, April 6, 2020

पौड़ी : पाबौ में चट्टान से गिरने से महिला की मौत -

Monday, April 6, 2020

जुबिन नौटियाल ने ऑनलाइन शो से कोरोना फाइटर्स को कहा थैंक्यू -

Monday, April 6, 2020

अनूप नौटियाल व डा. दिनेश चौहान रहे कोरोना वाॅरियर -

Monday, April 6, 2020

पहल : देहरादून में 7745 भोजन पैकेट वितरित किये गये -

Sunday, April 5, 2020

सीएम त्रिवेन्द्र ने परिवार संग दीप जला कर हौसला बढाने का दिया सन्देश -

Sunday, April 5, 2020

उत्तराखंड में चार और कोरोना पाॅजीटिव मामले सामने आए, संख्या 26 हुई -

Sunday, April 5, 2020

दुःखद : जंगल की आग में जिंदा जली दो महिलाएं -

Sunday, April 5, 2020

आम आदमी की रसोईः जरूरतमंदों को दे रही भोजन और राशन -

Sunday, April 5, 2020

5 अप्रैल को रात 9 बजे 9 मिनट के लिए अपने घरों में लाईट बंद कर दीपक जलाए : सीएम त्रिवेंद्र -

Saturday, April 4, 2020

लापता व्यक्ति का शव पाषाण देवी के मंदिर पास झील से बरामद हुआ -

Saturday, April 4, 2020

देहरादून : स्वयंसेवी संस्थाओं के सहयोग से 9482 भोजन पैकेट वितरित किये गये -

Saturday, April 4, 2020

उत्तराखंड में कोरोना पॉजिटिव मामलों की संख्या हुई 22 -

Saturday, April 4, 2020

सोशियल पॉलीगोन ग्रुप ऑफ कंपनी ने मुख्यमंत्री राहत कोष में 5 लाख का चेक दिया -

Saturday, April 4, 2020

लॉकडाउन : रचायी जा रही शादी पुलिस ने रुकवाई, 15 लोगों पर मुकदमा दर्ज -

Friday, April 3, 2020

उत्तराखंड : त्रिवेन्द्र सरकार ने कोरोना वायरस से निपटने के लिए जारी किये 85 करोङ रूपए -

Friday, April 3, 2020

ऋषियों का मूल मंत्र ’तमसो मा ज्योतिर्गमय’ एक अद्भुत आइडियाः स्वामी चिदानन्द सरस्वती -

Friday, April 3, 2020

केवल कन्या इंटर कॉलेज ने की एक अच्छी पहल, जानिये खबर

pahal

मंगलौर। आपकी लाडली स्कूल पहुंची या नहीं, स्कूल से छुट्टी किस समय हुई इसका मैसेज अभिभावकों को मिल जाएगा। मंगलौर के केवल कन्या पाठशाला इंटर कॉलेज ने भी इसकी शुरूआत कर दी है। मंगलौर के केवल कन्या पाठशाला इंटर कॉलेज में आयोजित पत्रकार वार्ता में प्रबंधक डॉ. रविन्द्र कपूर ने कहा कि देहात क्षेत्र के अभिभावक अभी तक बेटियों के स्कूल पहुंचने को लेकर चिंतित रहते हैं। उनकी बेटियों के प्रति ¨चता जायज भी है। ऐसे में स्कूल प्रबंधन अभिभावकों की ¨चता को दूर करने के लिए कदम उठाने जा रहा है। इसके तहत कॉलेज में दो स्मार्ट गेट लगाए जा रहे हैं। इन गेट से होकर ही छात्राएं स्कूल पहुंचेगी और छुट्टी होने पर वापस इसी गेट से आना होगा। गेट पास होते ही अभिभावक के मोबाइल फोन पर छात्रा के आने-जाने का मैसेज पहुंच जाएगा। कॉलेज की प्रधानाचार्या डॉ. सविता वत्स ने कहा कि बेटी बचाओ, बेटी पढ़ाओ को लेकर चल रही योजना को सार्थक करने की दिशा में यह कदम उठाया गया है। उन्होंने कहा कि यदि अभिभावक चाहेंगे तो उनको एक डिवाइस भी दी जाएगी। इससे वह छात्रा के बारे में जानकारी हासिल कर सकेंगे। इस मौके पर डॉ. सुरेश सैनी, सहायक प्रबंधक गुलशन अरोड़ा, अजयकांत आदि मौजूद रहे।

Leave A Comment