Breaking News:

अधिकारियों व कार्मिकों को निरन्तर प्रशिक्षण की जरूरत , जानिए खबर -

Tuesday, December 11, 2018

एनआईटी मामला : हाईकोर्ट ने राज्य,एनआईटी और केंद्र सरकार को जवाब दाखिल करने को कहा -

Tuesday, December 11, 2018

जनसंपर्क और मीडिया लोक कल्याणकारी राज्य की प्रमुख विशेषता : राज्यपाल -

Monday, December 10, 2018

मानव अधिकार दिवस : इस वर्ष 2090 वाद में से 1434 वाद निस्तारित -

Monday, December 10, 2018

एकता कपूर व माही गिल गंगाआरती में हुए शामिल -

Monday, December 10, 2018

एकता कपूर और जितेंद्र हरिद्वार में करेंगे महाआरती , जानिए खबर -

Monday, December 10, 2018

पहल : एक साथ विवाह बंधन में बंधे 21 जोड़े -

Monday, December 10, 2018

सीएम ने की विभिन्न निर्माण कार्यों का शिलान्यास, जानिए खबर -

Sunday, December 9, 2018

पौराणिक मेले हमारी पहचान : सीएम त्रिवेंद्र -

Sunday, December 9, 2018

मैड और एनसीसी की टीम ने रिस्पना को किया साफ़ -

Sunday, December 9, 2018

राष्ट्रीय जनसंपर्क सम्मेलन : हिमालय और गंगा राष्ट्र का गौरव -

Sunday, December 9, 2018

दून नगर निगम बढ़ाएगा हाउस टैक्स, जानिए खबर -

Sunday, December 9, 2018

आईएमए पीओपीः 347 कैडेट बने भारतीय सेना का हिस्सा -

Saturday, December 8, 2018

सीएम त्रिवेंद्र 40वें आॅल इण्डिया पब्लिक रिलेशन्स काॅन्फ्रेंस का किया शुभारम्भ -

Saturday, December 8, 2018

कर्ज से परेशान किसान ने की आत्महत्या की कोशिश, हालत गंभीर -

Saturday, December 8, 2018

सीएम त्रिवेंद्र किये कई घोषणाएं , जानिए खबर -

Saturday, December 8, 2018

‘केदारनाथ’ फिल्म के नाम से ऐतराज: सतपाल महाराज -

Saturday, December 8, 2018

मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र करेंगे राष्ट्रीय जनसंपर्क सम्मेलन का शुभारंभ -

Friday, December 7, 2018

सीएम एप ने दिलाई गरीब परिवारों को धुएं से मुक्ति, जानिए खबर -

Friday, December 7, 2018

गावस्कर : विराट नहीं भारत के ओपनर करेंगे सीरीज का फैसला -

Friday, December 7, 2018

कैदियों को स्वालम्बी बनाने के लिये करनी होगी नई पहल : डीएम

pehchan

अल्मोड़ा। कैदियों को स्वालम्बी बनाने के लिये हम सबको एक नई पहल करनी होगी। यह बात जिलाधिकारी ईवा आशीष ने ऐतिहासिक जेल अल्मोड़ा में एस0बी0आई0 के ग्रामीण स्वरोजगार प्रशिक्षण संस्थान के तत्वाधान में जेल में चलाये जा रहे प्रशिक्षण कार्यक्रम के अवसर पर कही। उन्होंने कहा कि जिला उद्योग केन्द्र द्वारा प्रायोजित इस कार्यक्रम में 21 पुरूश कैदियों को डिब्बा बनाने व 09 महिला कैदियों को सिलाई-बुनाई प्रषिक्षण दिया जा रहा है। उन्होंने कहा कि कैदियों द्वारा बनाये जा रहे डिब्बों को व्यापार मण्डल से बात कर बाजार में बेचने की व्यवस्था की जायेगी ताकि कैदी रोजगार से जुड सके। जिन कैदियों का सजा का समय कम रह गया है वे इस प्रषिक्षण से काफी खुष है उनका कहना है कि इससे हमें रोजगार मिलेगा और हम आत्मनिर्भर बन सकेंगे। जिलाधिकारी ने कहा कि इस तरह की पहल अपने आप में एक अनूठी पहल है इससे जहां एक ओर कैदी रोजगार से जुडेगे वही दूसरी ओर उनकी आय बढेगी वही वह अपने समय का सद्प्रयोग कर पायेंगे साथ ही उनका गलत प्रवृति की ओर ध्यान न जाय इसलिये भी यह पहल की गयी है। उन्होंने कहा कि भविष्य में इस तरह के और भी प्रषिक्षण चलाये जायेगे ताकि कैदी अधिक से अधिक स्वरोजगार से जुड सके। जिलाधिकारी इस अवसर पर जेल में महिला कैदियों के साथ रह रहे छोटे बच्चों को खिलौने व पाव दर्द से पीड़ित कैदियों को नि-कैप भी वितरित किये। इस अवसर पर जिला उद्योग केन्द्र के महाप्रबन्धक दीपक मुरारी ने कहा कि जिलाधिकारी की प्रेरणा से ही हम इस कार्य को करा रहे है। इस तरह के अभिनव प्रयोग के सफल होने पर उद्योग विभाग की ओर से भविश्य में अन्य कार्यक्रम भी चलाने का प्रयास करेंगे। आर0सेटी के निदेषक पी0सी0 जोषी ने कहा कि जनपद में यह अपने आप का एक नया प्रयोग है जिसकी एक नई षुरूआत जनपद में षुरू की गयी है। इस अवसर पर जेल अधीक्षक सहित अन्य लोग उपस्थित थे।

Leave A Comment