Breaking News:

उत्तराखंड में पांच और कोरोना पॉजिटिव मामले सामने आए, संक्रमित मरीजों की संख्या हुई 31 -

Monday, April 6, 2020

सीएम ने उत्तराखंड के जवानों की शहादत को नमन किया -

Monday, April 6, 2020

उत्तराखंड : मुख्यमंत्री कैम्प कार्यालय में बेहतर समन्वय के लिए बनाया गया कंट्रोल रूम -

Monday, April 6, 2020

पौड़ी : पाबौ में चट्टान से गिरने से महिला की मौत -

Monday, April 6, 2020

जुबिन नौटियाल ने ऑनलाइन शो से कोरोना फाइटर्स को कहा थैंक्यू -

Monday, April 6, 2020

अनूप नौटियाल व डा. दिनेश चौहान रहे कोरोना वाॅरियर -

Monday, April 6, 2020

पहल : देहरादून में 7745 भोजन पैकेट वितरित किये गये -

Sunday, April 5, 2020

सीएम त्रिवेन्द्र ने परिवार संग दीप जला कर हौसला बढाने का दिया सन्देश -

Sunday, April 5, 2020

उत्तराखंड में चार और कोरोना पाॅजीटिव मामले सामने आए, संख्या 26 हुई -

Sunday, April 5, 2020

दुःखद : जंगल की आग में जिंदा जली दो महिलाएं -

Sunday, April 5, 2020

आम आदमी की रसोईः जरूरतमंदों को दे रही भोजन और राशन -

Sunday, April 5, 2020

5 अप्रैल को रात 9 बजे 9 मिनट के लिए अपने घरों में लाईट बंद कर दीपक जलाए : सीएम त्रिवेंद्र -

Saturday, April 4, 2020

लापता व्यक्ति का शव पाषाण देवी के मंदिर पास झील से बरामद हुआ -

Saturday, April 4, 2020

देहरादून : स्वयंसेवी संस्थाओं के सहयोग से 9482 भोजन पैकेट वितरित किये गये -

Saturday, April 4, 2020

उत्तराखंड में कोरोना पॉजिटिव मामलों की संख्या हुई 22 -

Saturday, April 4, 2020

सोशियल पॉलीगोन ग्रुप ऑफ कंपनी ने मुख्यमंत्री राहत कोष में 5 लाख का चेक दिया -

Saturday, April 4, 2020

लॉकडाउन : रचायी जा रही शादी पुलिस ने रुकवाई, 15 लोगों पर मुकदमा दर्ज -

Friday, April 3, 2020

उत्तराखंड : त्रिवेन्द्र सरकार ने कोरोना वायरस से निपटने के लिए जारी किये 85 करोङ रूपए -

Friday, April 3, 2020

ऋषियों का मूल मंत्र ’तमसो मा ज्योतिर्गमय’ एक अद्भुत आइडियाः स्वामी चिदानन्द सरस्वती -

Friday, April 3, 2020

आम आदमी पार्टी के कार्यकर्ताओं ने किया रक्तदान -

Friday, April 3, 2020

कैलाश अस्पताल देगा मोटापे की समस्या से मुक्ति, जानिये खबर

kailash

देहरादून। यदि आप मोटापे की वजह से परेशान हैं तो अब घबराने की जरूरत नहीं है। देहरादून के कैलाश हास्पिटल में दूरबीन द्वारा मोटापा कम करने की अत्याधुनिक सुरक्षित सर्जरी उपलब्ध है। इस हास्पिटल में अभी कुछ दिनों पूर्व एक 115 वर्षीय युवती का मोटापा कम करने का सफल आप्रेशन किया गया, इस आपे्रशन के बाद युवती का वजन 40 किलो कम हो गया। कैलाश हाॅस्पिटल में आयोजित पत्रकार वार्ता में अस्पताल के निदेशक पवन शर्मा व वरिष्ठ चिकित्सक डा. विशाल कुलश्रेष्ठ ने बताया कि इस हास्पिटल में मोटापा कम करने की अत्याधुनिक सुरक्षित सर्जरी उपलब्ध है। उन्होंने कहा कि कहा कि मोटापा एक विश्वव्यापी बीमारी है, इसे आधुनिक तनावपूर्ण जीवनशैली, गलत खाने की आदतों और शारीरिक व्यायाम की कमी ने जन्म दिया। मोटापे के कारण इंसान के कई तरह की समस्याएं उत्पन्न हो जाती है। मोटापे के कारण हृदय रोग, उच्च रक्तचाप, मधुमेह टाइप-2, जोड़ांे का दर्द, अवसाद, कैंसर जैसी बीमारियांे से जूझना पड़ता है। अमेरिका, चीन और भारत मोटापे की समस्या से सबसे अधिक प्रभावित हैं। उन्होंने कहा कि मोटापा ही हृदय रोग का महत्वपूर्ण कारण है। बैरिएट्रिक और मैटाबोलिक सर्जरी एक क्रांतिकारी तकनीक है, जिसके द्वारा मोटापे पर विजय प्राप्त की जा सकती है। सह सुरक्षित, बेदाग व लागत प्रभावी समाधान है। 95 प्रतिशत मधुमेह के रोगियों में सर्जरी के पश्चात मुधमेह का निराकरण हो जाता है और इंसुलिन व मधुमेह की दवाओं की आवश्यकता खत्म हो जाती है। हरदय रोगियो, उच्च रक्तचाप और गठिया में बैरिएट्रिक सर्जरी के महत्वपूर्ण लाभ देखे गए हैं। कैलाश हास्पिटल देहरादून में अब यह अत्याधुनिक सुरक्षित सर्जरी उपलब्ध है। कैलाश अस्पताल की बैरिएट्रिक सर्जरी टीम इस सर्जरी को विश्वस्तरीय मानकों का ध्यान में रखते हुए करती है।

Leave A Comment