Breaking News:

मां नहीं बन सकी पर 51 बेसहारा बच्चों की है माँ -

Saturday, December 9, 2017

गहरी निंद्रा में सोया है आपदा प्रबंधन विभाग, जानिए खबर -

Saturday, December 9, 2017

राज्य सरकार लोकायुक्त को लेकर गंभीर नहींः इंदिरा ह्रदयेश -

Saturday, December 9, 2017

सरकार ने जनता की आशाओं को विश्वास में बदलाः सीएम -

Saturday, December 9, 2017

उत्तराखण्ड क्रिकेट के हित में एक मंच पर आएं क्रिकेट एसोसिएशन: दिव्य नौटियाल -

Saturday, December 9, 2017

बीजेपी सांसद मोदी की कार्यशैली से नाराज होकर दिया इस्तीफा -

Friday, December 8, 2017

चीन की रिटेल कारोबार पर बढ़ती पकड़ से भारतीय रिटेलर परेशान -

Friday, December 8, 2017

जरूरतमंद लोगों के लिए गर्म कपड़े डोनेशन कैंप की शुरूआत -

Friday, December 8, 2017

बाल रंग शिविर का आयोजन -

Friday, December 8, 2017

युवाओं को देश प्रेम और देश भक्ति की सीख दे रहा यूथ फ़ाउंडेशन -

Friday, December 8, 2017

निकायों में सीमा विस्तार को लेकर विरोध प्रदर्शन तेज़ -

Thursday, December 7, 2017

गुजरात चुनाव : इस बार मणिनगर सीट है “हॉट” -

Thursday, December 7, 2017

पाकिस्तान ने ‘कपूर हवेली’ में दी श्रद्धांजलि, जानिये खबर -

Thursday, December 7, 2017

बढ़ सकती है आधार लिंक करने की आखिरी तारीख -

Thursday, December 7, 2017

अपर निदेशक सूचना ने दिवंगत पत्रकार की पत्नी को तीन लाख का चैक सौंपा -

Wednesday, December 6, 2017

तो इटली में विराट और अनुष्का बधेंगे शादी के बंधन में …! -

Wednesday, December 6, 2017

एबीवीपी ने मनाया सामाजिक समरसता दिवस -

Wednesday, December 6, 2017

सीएम ने मृतक होमगार्ड जवानों की पत्नियों को 5-5 लाख की धनराशि किये वितरित -

Wednesday, December 6, 2017

भीख मांगते मिली थी मेजर की बेटी, जानिए खबर -

Tuesday, December 5, 2017

17 दिसम्बर को आयोजित मैराथन में भाग जरूर ले , जानिये खबर -

Tuesday, December 5, 2017

गोलीबारी में किसानों की मौत की न्यायिक जांच के आदेश

MP

भोपाल। मध्य प्रदेश में किसानों के आंदोलन ने आक्रमक रूप ले लिया है. यहां मंदसौर में किसानों के ≈पर फ़ायरिंग की गई है और ख़बर आ रही है कि दो किसानों की मौत हो गई है. हंगामे के बाद मंदसौर में क∂र्यू लगा दिया गया है. मुख्यमंत्री ने गोलीबारी में किसानों की मौत की न्यायिक जांच के आदेश दिए हैं। इससे पूर्व मंदसौर में चल रहे किसान आंदोलन के दौरान प्रदर्शनकारियों के एक गुट ने वाहनों में तोडफ़ोड़ की. प्रदर्शन के हिंसक होने और आग लगाए जाने के आरोपों के बाद हालात संभालने के लिए मौके पर पहुंची सीआरपीएफ की टीम ने मोर्चा संभाला. दोनों पक्षों में आपसी पथराव के बाद फायरिंग हुई।मध्य प्रदेश के गृहमंत्री भूपेंद्र सिंह ने कहा कि पुलिस के द्वारा कोई फायरिंग नहीं हुई है, पिछले पांच-छह दिनों से मंदसौर और नीमच में असमाजिक तत्व आगजनी और लूटपाट करने का काम कर रहे हैं. सरकार ने निर्देश दिए थे कि प्रदर्शनकारियों पर कोई सख्ती नहीं होनी चाहिए. पुलिस के साथ कई दिनों से मारपीट हो रही है, एक पुलिसकम की आंख फूट गई, लेकिन हमने फिर भी किसी भी सख्ती के निर्देश नहीं दिए. हमने जांच के आदेश दे दिए हैं। गौरतलब है कि मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चैहान के दखल के बाद किसानों के एक वर्ग ने किसानों की हड़ताल को वापस लेने का ऐलान किया तो लगा कि दूध सब्ज़ी जैसे चीज़ों की किल्लत खत्म होगी, लेकिन किसानों के बीच फूट पड़ गई है. आंदोलन में अगुवा भारतीय किसान यूनियन और राष्ट्रीय किसान मज़दूर संघ ने संघर्ष का रास्ता नहीं छोडऩे का ऐलान किया है। मध्य प्रदेश में 1-10 जून तक किसानों की हड़ताल में सियासत हावी हो गई है, राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ से जुड़े भारतीय किसान संघ ने मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चैहान के साथ बैठक के बाद आंदोलन खत्म करने का फैसला किया है, लेकिन आंदोलन में अगुवा भारतीय किसान यूनियन और राष्ट्रीय किसान मज़दूर संघ ने संघर्ष का रास्ता नहीं छोडऩे का ऐलान किया है।मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चैहान ने बैठक के बाद ट्विटर पर लिखा था कि मुझे खुशी है कि मध्यप्रदेश में किसानों ने अपना आंदोलन समाप्त कर दिया है. मध्यप्रदेश सरकार किसान हितैषी सरकार है तथा सदैव किसानों के कल्याण के लिए कार्य करती रहेगी. मध्य प्रदेश के किसानों ने अपनी उपज के वाजिब दाम दिलाने सहित 20 सूत्रीय मांगों को लेकर एक जून से 10 जून तक आंदोलन की घोषणा की थीय चैहान ने ट्वीट किया कि तीन..चार दिन में आठ रुपये प्रति किलोग्राम के हिसाब से प्याज की खरीद शुरू हो जाएगी और इस महीने के अंत तक जारी रहेगी. मुख्यमंत्री ने एक अन्य ट्वीट में कहा, गर्मियों में, सरकार मूंग की दाल को न्यूनतम समर्थन मूल्य पर खरीदेगी. उन्होंने आंदोलन के दौरान किसानों के खिलाफ दर्ज मामले वापस लेने की भी घोषणा की।

Leave A Comment