Breaking News:

उत्तराखंड : मुख्यमंत्री राहत कोष में आज यह दिए दान, जानिए खबर -

Wednesday, May 27, 2020

देहरादून से विशेष ट्रेन द्वारा हज़ारो मजदूर बिहार एंव उत्तर प्रदेश के लिए रवाना, जानिए खबर -

Wednesday, May 27, 2020

उत्तराखंड : कोरोना मरीजो की संख्या हुई 469, आज 69 मरीज मिले कोरोना के -

Wednesday, May 27, 2020

ऋषिकेश-धरासू हाइवे पर 440 मीटर लंबी टनल हुई तैयार, सीएम त्रिवेंद्र ने जताया आभार -

Wednesday, May 27, 2020

कोरोना का कहर : उत्तराखंड में कोरोना मरीज हुए 438 -

Wednesday, May 27, 2020

उत्तराखंड : राज्य में कोरोना मरीजो की संख्या हुई 401 -

Tuesday, May 26, 2020

“आप” पार्टी से जुड़े कई लोग, जानिए खबर -

Tuesday, May 26, 2020

उत्तराखंड : प्रदेश भाजपा ने विभिन्न समितियों का गठन किया -

Tuesday, May 26, 2020

कोरोना संक्रमित लोगों की जाँच कर रहे अस्पतालो को मिलेगा 50 लाख रूपए की प्रोत्साहन राशि -

Tuesday, May 26, 2020

उत्तराखंड : 51 कोरोना मरीज और मिले, संख्या हुई 400 -

Tuesday, May 26, 2020

नेक कार्य : पर्दे के हीरो से रियल हीरो बने सोनू सूद -

Monday, May 25, 2020

संक्रमण का दौर है सभी जनता अपनी जिम्मेदारियों को समझे : सीएम त्रिवेंद्र -

Monday, May 25, 2020

उत्तराखंड में कोरोना मरीजो की संख्या 349 हुई -

Monday, May 25, 2020

उत्तराखंड : राज्य में कोरोना मरीजो की संख्या 332 हुई -

Monday, May 25, 2020

ऑटो-रिक्शा चालकों ने की आर्थिक सहायता की मांग -

Sunday, May 24, 2020

दुःखद : महिला ने फांसी लगाकर की आत्महत्या -

Sunday, May 24, 2020

अन्नपूर्णा रोटी बैंक चैरिटेबल ट्रस्ट पुलिस कर्मियों को पुष्प भेंट किया सम्मान -

Sunday, May 24, 2020

उत्तराखंड में कोरोना मरीजो कि संख्या हुई 317 -

Sunday, May 24, 2020

उत्तराखंड: राज्य में कोरोना मरीजो की संख्या हुई 298 -

Sunday, May 24, 2020

पानी में डूबकर दम घुटने से हुई युवती की मौत -

Saturday, May 23, 2020

जब ट्रेन छोड़ के भागा चालाक

 

indian_railway

अजब गजब की ख़बरे तो बहुत सी होती है पर यह ख़बर आप को चौका भी सकती है|ख़बर है यूपी राज्य की जहां एक ट्रेन चालक आवश्कता से अधिक ड्यूटी से तंग आ कर माल गाड़ी ट्रेन को बीच रास्ते में ही छोड़ के गुम हो गया| धनवाद से कोयला लादकर ऊँचाहार जा रही माल गाड़ी को ट्रेन चालक जब छोड़ कर चला गया तब उसी समय अन्य गाड़ियों का आना जाना बाधित हो गया|रेलवे प्रशासन ने आनन फानन मेंदूसरे चालक की व्यवस्था कर इस नाटकीय घटना को समाप्त करने की सफल कोशिश की गई|जाँच पङताल के बाद गुम हुए चालक के सामने आने पर घटना की सही वजह बता चल पाया|चालक का कहना था की ड्यूटी का समय बढ़ाने के साथ साथ कोई अतरिक्त राहत न मिलने पर मैंने ऐसा कदम उठाया| चालक के इस कदम से जहाँ रेलवे प्रशासन सन्न है वही लोग इस घटना को ठहाकों के बीच चिट कुले लेने से नही चुके|

Leave A Comment