Breaking News:

टाइगर श्रॉफ और अभिनेत्री दिशा पटानी की आगामी फ़िल्म “बागी 2” का ट्रेलर लांच -

Thursday, February 22, 2018

दक्षिण अफ्रीका ने भारत को दुसरे टी-20 मैच में 6 विकेट से हराया, सीरीज में 1-1 की बराबरी -

Thursday, February 22, 2018

कमल हासन ने शुरू की अपनी सियासी पारी -

Thursday, February 22, 2018

न्यायिक हिरासत में “आप” विधायक -

Thursday, February 22, 2018

EPFO ने ब्याज दर घटाकर की 8.55% -

Thursday, February 22, 2018

पांचमुखी हनुमानजी की करे पूजा… -

Wednesday, February 21, 2018

तीसरी शादी को लेकर इमरान खान थे दबाव में , जानिए खबर -

Wednesday, February 21, 2018

ऐतिहासिक झंडा मेला दून में छह मार्च से -

Wednesday, February 21, 2018

कथन इंडसइंड बैंक का …. -

Wednesday, February 21, 2018

पापड़ बेचने वाले के रोल से हुई शुरुआत … -

Tuesday, February 20, 2018

मोदी- माल्या को भारत लाने की कोशिशों में अब तक कितना खर्च, जानिए खबर -

Tuesday, February 20, 2018

दामाद ने सास पर पत्नी को देह व्यापार में धकेलने का लगाया आरोप -

Tuesday, February 20, 2018

नरसिंग देवता महायज्ञ का हुआ शुभारंभ -

Tuesday, February 20, 2018

11 हजार से अधिक बच्चों के साथ सीएम ने गाया वंदेमातरम -

Tuesday, February 20, 2018

बैंक की एक शाखा में तीन साल से ज्यादा नहीं रहेंगे अधिकारी -

Monday, February 19, 2018

शत्रुघ्‍न सिन्हा का प्रधानमंत्री मोदी पर निशाना… -

Monday, February 19, 2018

पीएम मोदी को पाकिस्तान का 2.86 लाख का बिल -

Monday, February 19, 2018

गुजरात निकाय चुनाव: बीजेपी ने दी कांग्रेस को शिकस्त -

Monday, February 19, 2018

भाजपा मुख्यालय का पता बदला -

Sunday, February 18, 2018

त्रिपुरा विधानसभा चुनाव में पिछली बार से 17% कम वोटिंग -

Sunday, February 18, 2018

जब बिना ड्राइवर के चल पड़ी रेल इंजन…

trainजब दो ट्रेन के इंजन लगभग 10 किमी तक बिना ड्राइवर के चले गए तो उस समय त्रिची रेलवे जंक्शन पर अफरा-तफरी मच गई । बताया जा रहा है कि इनके ब्रेक फेल हो गए थे। इस घटना के बाद रेलवे के अधिकारियों में खलबली मच गई। इन ट्रेन के इंजनों ने दो स्थानीय स्टेशन और एक नदी का पुल पार कर दिया था। 15 मिनट बाद इन पर काबू पाया जा सका। इस घटना में कोई हताहत नहीं हुआ, क्योंकि ट्रेनों का उसी रूट पर जाना पहले से तय था, जिस रास्ते में घटना हुई। रेलवे सूत्रों के मुताबिक, एक लोको पायलट ने प्लेटफॉर्म पर इंजनों को पैसेंजर ट्रेन से जोड़ने के लिए उतारा था। टेक्निकल स्टाफ डिब्बों को जोड़ने ही वाला था कि उसे एक इंजन में गड़बड़ी नजर आई। रेलवे सूत्रों के मुताबिक ड्राइवर दो इंजन को प्लेटफॉर्म नंबर 1A पर इन्हें जोड़ने के लिए लाया था। टेक्निकल स्टाफ जब इनको जोड़ने की तैयारी कर रहा था तभी इंजन अपने आप चलने लगा। आनन फानन में ड्राइवर ने टेक्निकल स्टाफ को सूचना दी कि इतने में दूसरा इंजन भी अपने आप चलने लगा। ब्रेक फेल होने के कारण इनको रोकना मुश्किल हो रहा था। 10 किमी तक ये इंजन बिना चालक के ही चलते रहे फिर पटरियों पर पत्थर रखकर इन्हें रोका जा सका। फिलहाल इस मामले की जांच चल रही है।

Leave A Comment