Breaking News:

उत्तराखंड में पांच और कोरोना पॉजिटिव मामले सामने आए, संक्रमित मरीजों की संख्या हुई 31 -

Monday, April 6, 2020

सीएम ने उत्तराखंड के जवानों की शहादत को नमन किया -

Monday, April 6, 2020

उत्तराखंड : मुख्यमंत्री कैम्प कार्यालय में बेहतर समन्वय के लिए बनाया गया कंट्रोल रूम -

Monday, April 6, 2020

पौड़ी : पाबौ में चट्टान से गिरने से महिला की मौत -

Monday, April 6, 2020

जुबिन नौटियाल ने ऑनलाइन शो से कोरोना फाइटर्स को कहा थैंक्यू -

Monday, April 6, 2020

अनूप नौटियाल व डा. दिनेश चौहान रहे कोरोना वाॅरियर -

Monday, April 6, 2020

पहल : देहरादून में 7745 भोजन पैकेट वितरित किये गये -

Sunday, April 5, 2020

सीएम त्रिवेन्द्र ने परिवार संग दीप जला कर हौसला बढाने का दिया सन्देश -

Sunday, April 5, 2020

उत्तराखंड में चार और कोरोना पाॅजीटिव मामले सामने आए, संख्या 26 हुई -

Sunday, April 5, 2020

दुःखद : जंगल की आग में जिंदा जली दो महिलाएं -

Sunday, April 5, 2020

आम आदमी की रसोईः जरूरतमंदों को दे रही भोजन और राशन -

Sunday, April 5, 2020

5 अप्रैल को रात 9 बजे 9 मिनट के लिए अपने घरों में लाईट बंद कर दीपक जलाए : सीएम त्रिवेंद्र -

Saturday, April 4, 2020

लापता व्यक्ति का शव पाषाण देवी के मंदिर पास झील से बरामद हुआ -

Saturday, April 4, 2020

देहरादून : स्वयंसेवी संस्थाओं के सहयोग से 9482 भोजन पैकेट वितरित किये गये -

Saturday, April 4, 2020

उत्तराखंड में कोरोना पॉजिटिव मामलों की संख्या हुई 22 -

Saturday, April 4, 2020

सोशियल पॉलीगोन ग्रुप ऑफ कंपनी ने मुख्यमंत्री राहत कोष में 5 लाख का चेक दिया -

Saturday, April 4, 2020

लॉकडाउन : रचायी जा रही शादी पुलिस ने रुकवाई, 15 लोगों पर मुकदमा दर्ज -

Friday, April 3, 2020

उत्तराखंड : त्रिवेन्द्र सरकार ने कोरोना वायरस से निपटने के लिए जारी किये 85 करोङ रूपए -

Friday, April 3, 2020

ऋषियों का मूल मंत्र ’तमसो मा ज्योतिर्गमय’ एक अद्भुत आइडियाः स्वामी चिदानन्द सरस्वती -

Friday, April 3, 2020

आम आदमी पार्टी के कार्यकर्ताओं ने किया रक्तदान -

Friday, April 3, 2020

जिंदा रहने के लिए गुफा की चट्टानों से टपकते पानी का किया इस्तेमाल , जानिये खबर

pehal

थाईलैंड की थाम लुआंग गुफा से बचाए गए जूनियर फुटबॉल टीम के सभी सदस्यों को को अस्पताल से छुट्टी दे दी गई। अस्पताल के मुताबिक, बच्चों का वजन बचाव अभियान के बाद से 3 किलो तक बढ़ गया है। टीम के सदस्यों के साथ कोच इकापोल चांटावांग ने प्रेस कॉन्फ्रेंस की। उन्होंने कहा कि मुश्किल हालात में जिंदा रहने के लिए टीम ने गुफा की चट्टानों से टपकने वाला पानी भी पिया था। 14 वर्षीय सदस्य अदुल साम-ओन ने गुफा से बचाए जाने पर कहा- ये चमत्कार था। सभी सदस्यों ने फुटबॉल खेली। बचाव अभियान के दौरान जान गंवाने वाले गोताखोर समन कुनन को याद किया। बच्चों की मानसिक स्थिति का ध्यान रखा गया: इकापोल ने कहा, “हमने गुफा से निकलने की कोशिश की थी, लेकिन हम नहीं निकल पाए। हम सिर्फ अधिकारियों के भरोसे नहीं रह सकते थे।” अस्पताल से निकलने पर बच्चों को डॉक्टर, रिश्तेदारों और दोस्तों ने पीले रंग की पारंपरिक पोशाक देकर बधाई दी। अस्पताल ने बताया कि बचाए जाने के बाद से अब तक टीम के सदस्यों का औसत वजन 3 किलो तक बढ़ गया है। उनका आत्मविश्वास बढ़ाने के लिए भी खास प्रोग्राम चलाया गया। न्याय मंत्रालय के अधिकारी टैवातचाई थाईक्यू ने मीडिया से बच्चों की निजता का ध्यान रखने को कहा था। उन्हें डर था कि ज्यादा अटेंशन से बच्चों की मानसिक स्थिति पर असर पड़ सकता है। थाईक्यू ने कहा- हम नहीं जानते कि बच्चे अपने दिल पर किस तरह के जख्म लेकर जा रहे हैं।

Leave A Comment