Breaking News:

कोरोना से बचे : उत्तराखंड में कोरोना मरीजो की संख्या हुई 1043 -

Tuesday, June 2, 2020

उत्तराखंड : मुख्यमंत्री स्वरोजगार योजना में करें अब आनलाईन आवेदन -

Tuesday, June 2, 2020

10 वर्षीय आन्या ने अपने गुल्लक के पैसे देकर मजदूर का किया मदद -

Tuesday, June 2, 2020

उत्तराखंड में कोरोना मरीजो की संख्या 999 हुई, 243 मरीज हुए ठीक -

Tuesday, June 2, 2020

कोरोना से बचे : उत्तराखंड में आज कोरोना मरीजो की संख्या हुई 958 -

Monday, June 1, 2020

उत्तराखंड : कोरोना मरीजो की संख्या 929 हुई, चम्पावत में 15 नए मामले मिले -

Monday, June 1, 2020

जागरूकता: तंबाकू छोड़ने की जागरूकता के लिए स्वयं तत्पर होना जरूरी -

Monday, June 1, 2020

मदद : गांव के छोटे बच्चों को पढ़ा रही भावना -

Monday, June 1, 2020

नही रहे मशहूर संगीतकार वाजिद खान -

Monday, June 1, 2020

नेक कार्य : जरूरतमन्दों के लिए हज़ारो मास्क बना चुकी है प्रवीण शर्मा -

Sunday, May 31, 2020

कोरोना से बचे : उत्तराखंड में कोरोना मरीजो की संख्या पहुँची 907, आज 158 कोरोना मरीज मिले -

Sunday, May 31, 2020

सोशल डिस्टन्सिंग के पालन से कोरोना जैसी बीमारी से बच सकते है : डाॅ अनिल चन्दोला -

Sunday, May 31, 2020

कोरोंना से बचे : उत्तराखंड में मरीजो की संख्या 802 हुई -

Sunday, May 31, 2020

उत्तराखंड : 1152 लोगों को दून से विशेष ट्रेन से बेतिया बिहार भेजा गया -

Sunday, May 31, 2020

पूर्व सीएम हरीश रावत ने किया जनता से संवाद, जानिए खबर -

Sunday, May 31, 2020

प्रदेश में खेती को व्यावसायिक सोच के साथ करने की आवश्यकताः सीएम त्रिवेंद्र -

Sunday, May 31, 2020

अनलॉक के रूप में लॉकडाउन , जानिए खबर -

Saturday, May 30, 2020

कोरोना का कोहराम : उत्तराखंड में आज कोरोना मरीजो की संख्या हुई 749 -

Saturday, May 30, 2020

रहा है भारतीय पत्रकारिता का अपना एक गौरवशाली इतिहास -

Saturday, May 30, 2020

पहचान : फ्री ऑन लाइन कोचिंग दे रहे फुटबाल कोच विरेन्द्र सिंह रावत, जानिए खबर -

Saturday, May 30, 2020

जिलाधिकरी मंगेश घिल्डियाल चन्द्रशिला से तुंगनाथ धाम तक की साफ सफाई

pehal

रुद्रप्रयाग। डीएम हो तो ऐसा जी हां जो खुद जिलाधिकरी चन्द्रशिला पहुंचे और चन्द्रशिला से तुंगनाथ धाम तक सफाई अभियान चलाया। इस दौरान उन्होंने जगह-जगह फैले प्लास्टिक कचरे को एकत्रित किया। जिलाधिकारी ने स्थानीय लोगों को स्वच्छता बरतने के निर्देश दिए। उन्होंने कहा कि बुग्यालों के संरक्षण पर ध्यान देने की जरूरत है और इसके लिए सबसे पहले प्लास्टिक प्रदूषण को पूरी तरह साफ करने की जरूरत है। निरीक्षण के दौरान जिलाधिकारी ने दुगलबिट्टा में लोनिवि के निरीक्षण भवन के पास बने गैंग क्वाटर को अन्यत्र शिफ्ट कर उसकी जगह अस्थाई टैंट लगाने के निर्देश दिए। इसके लिए उन्होंने तहसीलदार तत्काल कार्यवाही करने को कहा। जिलाधिकारी मंगेश घिल्डियाल ने पर्यटक स्थल दुगलबिट्टा व चोपता के साथ ही तृतीय केदारनाथ तुंगनाथ और चन्द्रशिला का स्थलीय निरीक्षण किया और भगवान तुंगनाथ के दर्शन किए। इस दौरान जिलाधिकारी ने दुगलबिट्टा और चोपता में लगातार हो रहे अतिक्रमण पर खासी नाराजगी जताई। पूर्व में अतिक्रमण हटाने के बाद फिर उन्हीं स्थानों पर लोगों द्वारा अतिक्रमण करने पर जिलाधिकारी ने तीन दिन के भीतर अतिक्रमण हटाने के निर्देश दिए। उन्होंने तहसीलदार को सख्त निर्देश दिए कि हाईकोर्ट के आदेशों का जो पालन नहीं करता है और जबरन अतिक्रमण करता है, उसके खिलाफ सख्त कार्यवाही अमल में लाई जाए। जिलाधिकारी ने निरीक्षण के दौरान पाया कि दुगलबिट्टा और चोपता के मध्य कई जगहों र फिर से लोगों द्वारा बुग्यालों पर अतिक्रमण किया गया है, जिस पर जिलाधिकारी ने अतिक्रमणकारियों को जमकर फटकार लगाई। उन्होंने कहा कि हार्टकोर्ट की ओर साफ निर्देश दिए गए है और यदि उसके बावजूद भी बुग्यालों पर अतिक्रमण किया जाता है तो उसे किसी भी कीमत पर बर्दाश्त नहीं किया जाएगा। उन्होंने तहसीलदार को सभी अतिक्रमणकारियों के खिलाफ जल्द से जल्द कार्यवाही करने के निर्देश दिए। वहीं जिलाधिकारी ने चोपता, दुगलबिट्टा में जगह-जगह गंदगी फैली होने पर भी रोश व्यक्त किया। उन्होंने स्थानीय व्यापारियों को फटकार लगाई कि अपने आस-पास साफ-सफाई रखना व्यक्ति की पहली प्राथमिकता है, लेकिन उसके बावजूद भी पर्यटक स्थलों पर इस तरह गंदगी फैली होना शर्मनाक है। इसके साथ ही किसी भी व्यापारी के प्रतिष्ठानों के बाहर कूडे़दान नहीं पाए गए, जिस पर जिलाधिकारी ने तहसीलदार को पांच-पांच हजार रूपए के चालान काटने के निर्देश दिए। इसके साथ ही जिलाधिकारी ने सरपंच उषाड़ा और मक्कू को निर्देश दिए कि सभी व्यापारियों से प्रति माह एक-एक हजार रूपए लेकर सफाई कर्मचारी को मानदेय पर रखें। इसके बाद जिलाधिकारी तृतीय केदार तुगनाथ धाम पहुंचे। यहां उन्होंने सबसे पहले भोले बाबा के दर्शन किए। जिसके बाद जिलाधिकारी ने मंदिर के आस-पास चल रहे निर्माण कार्यों का निरीक्षण किया और पूरी गुणवत्ता के साथ कार्य करने के निर्देश दिए। उन्होंने निर्माण इकाई एडीबी को जल्द से जल्द कार्य पूरा करने के निर्देश दिए। तुंगनाथ के बाद इस अवसर पर जिला पर्यटन अधिकारी पीके गौतम, तहसीलदार उखीमठ जयवीर राम बधाणी, जिला आपदा प्रबंधन अधिकारी हरीश चन्द्रा सहित सरपंच और संबंधित विभागीय अधिकारी मौजूद थे।

Leave A Comment