Breaking News:

आगामी महाकुम्भ को प्लास्टिक मुक्त बनाया जायेगा : त्रिवेन्द्र सिंह रावत -

Monday, July 23, 2018

टैलेंट शो प्रतिभा को निखारने में एक बेहतर प्लेटफार्मः शैल -

Monday, July 23, 2018

अजब गजब : “तेल चोर” सक्रिय गिरोह सीसीटीवी कैमरे में कैद -

Monday, July 23, 2018

रिस्पना टू ऋषिपर्णा अभियान में हजारों की संख्या मे जुटे लोग -

Sunday, July 22, 2018

निस्वार्थ भाव से मां गंगा की सेवा में जुटे हैं युवा, जानिए खबर -

Sunday, July 22, 2018

राज्य सरकार के योजनाओं की जानकारी आम जनता तक पहुंचाए भाजपा कार्यकर्ता : मुख्यमंत्री त्रिवेन्द्र -

Sunday, July 22, 2018

Social-Media पर झूठे व भ्रामक सन्देश पर होगी कड़ी कार्रवाई -

Sunday, July 22, 2018

जीएसटी : रजिस्ट्रेशन होगा अनिवार्य अब 20 लाख के टर्न ओवर पर -

Sunday, July 22, 2018

शैल का नया गीत “कोका” बना युवा दिलो का धड़कन -

Saturday, July 21, 2018

मुख्यमंत्री केरवां गांव से रिस्पना पुनर्जीविकरण का करेंगे शुभारंभ जानिये खबर -

Saturday, July 21, 2018

डब्ल्यूआईसी इंडिया में फोटो प्रदर्शनी को कला प्रेमियों ने सराहा -

Saturday, July 21, 2018

देशभर में सेब का हब बन सकता है उत्तराखण्ड, जानिये खबर -

Saturday, July 21, 2018

सीएम त्रिवेंद्र कल केरवां गांव से रिस्पना पुनर्जीविकरण का करेंगे शुभारंभ -

Saturday, July 21, 2018

2026 में FIFA वर्ल्ड कप खेल सकता है भारत यदि …. -

Saturday, July 21, 2018

त्रिवेंद्र सरकार उत्तराखंड की जनता के सपने को कर रही साकार , जानिये खबर -

Friday, July 20, 2018

पूजा बेदी द्वारा फिक्की फ्लो के लिए ‘लाइफ ट्रांसफॉर्मेशन’ कार्यशाला -

Friday, July 20, 2018

पर्यटन व वन विभाग के मध्य उचित समन्वय आवश्यक : मुख्यमंत्री -

Friday, July 20, 2018

धरती के इतिहास में वैज्ञानिकों ने खोजा ‘मेघालय युग’ जानिये खबर -

Friday, July 20, 2018

सोनाली बेंद्रे ने बेटे रणवीर के लिए लिखी दिल छू जाने वाली बातें , जानिये खबर -

Friday, July 20, 2018

विकास कार्यों में धीमापन बरदाश्त नहींः मुख्यमंत्री -

Friday, July 20, 2018

झारखंड के कतरास में 230 लोगों ने मांगी इच्छा मृत्यु , जानिए ख़बर

rail

कतरास | झारखंड के कतरास में एक ऐसी ख़बर आ रही है जो सभी को अचम्भित कर रहा है जी हां वहा के 230 लोगों ने राष्ट्रपति को खत लिखकर इच्छा मृत्यु की मांग की है. दरअसल, झारखंड में रेल मंत्रालय ने 15 जून 2017 को 34 किलोमीटर लंबी धनबाद- चंद्रपुर रेल लाइन को बंद कर दिया था. ये रेल लाइन 1894 से चल रही थी. इस रास्ते में रेल ट्रैक के नीचे कोयले की खदान में आग जल रही है और आगे भी आग का खतरा है यह दावा रेल मंत्रालय करता आ रहा है इस प्रभाव के कारण इलाके में काम ठप्प होने और जीवन यापन पर मार पड़ने के चलते 230 लोगों ऐसा खत लिखने को मजबूर हो गए हैं. यही नहीं यहां के स्थानीय निवासी एवं समाजसेवी राकेश रंजन यादव ने इस रेल लाइन बंद को लेकर भूख हड़ताल भी कर चुके है वही अन्य संगठनों द्वारा इसको लेकर विरोध प्रदर्शन भी किया गया | लेकिन फैसला जस का तस स्थिर है | जानकारी हो की यही एक रेल लाइन है जो इस इलाके को एक तरफ राजधानी रांची और दूसरी तरफ आदिवासी बहुल संथाल परगना को जोड़ती है. हाल में झारखंड कांग्रेस के प्रभारी आरपीएन सिंह से भी इन लोगों ने मुलाकात कर अपनी व्यथा बताई. इसके बाद आरपीएन सिंह ने इस पूरे मामले पर रेल मंत्री पीयूष गोयल को खत लिखकर रेल लाइन बन्द करने पर फिर से विचार करने को कहा है. आरपीएन ने खत में लिखा है कि, 26 जोड़ी ट्रेन रोजाना 3 लाख यात्रियों और 20 हज़ार टन कोयले को लाती ले जाती थी. कुल मिलाकर करीब 7 लाख लोग इससे सीधे तौर पर प्रभावित हैं.

Comments
3 Responses to “झारखंड के कतरास में 230 लोगों ने मांगी इच्छा मृत्यु , जानिए ख़बर”
  1. Abhishek sinha - छात्र नेता says:

    इच्छामृत्यु के अलावा और कोई चारा बचता ही कहाँ है ,, जब कतरास वासियों की लाइफ लाइन ही बंद है , लोगो का रोजगार ही छीन गया है तो क्या करेंगे जी के ।।

  2. RAKESH KUMAR saw says:

    Ache din ane wale or sari vikash Jane wali hai

  3. sumit gaur says:

    bhai ay sarkar kese ke sunai wali nhi ketna bhi kuch kar lo ay hitler ke sarkar hai apni apni chlatee hai

Leave A Comment