Breaking News:

आईपीएल : पंजाब टीम ने कोटला की पिच को धीमा करार दिया -

Friday, April 19, 2019

दून संस्कृति ने धूमधाम से मनाई बैसाखी -

Friday, April 19, 2019

सचिवालय कूच करेंगे 108 सेवा के कर्मचारी , जानिए ख़बर -

Friday, April 19, 2019

हनुमान जयंती पर सुंदरकांड का आयोजन, 51 किलो का लड्डू चढ़ाया -

Friday, April 19, 2019

दिव्यांग बच्चे किसी से कम नहीं होते : राज्यपाल -

Friday, April 19, 2019

फिल्म ‘मेंटल है क्या’ के लिए खड़ी हुई नई मुश्किल , जानिए ख़बर -

Friday, April 19, 2019

विभिन्न सामाजिक कार्यों के साथ अनमोल इंडस्ट्रीज ने पूरे किये अपने 25 वर्ष -

Thursday, April 18, 2019

पत्रकार बिजेन्द्र कुमार यादव पर हुए प्राणघातक हमले के मामले की होगी जांच, डीजीपी ने दिए आदेश -

Thursday, April 18, 2019

IPL 2019: ‘ब्रोमांस’ करते नजर आए धवन और पंड्या -

Thursday, April 18, 2019

सेना अधिकारी है दिशा की बहन शेयर की वर्दी वाली तस्वीर -

Thursday, April 18, 2019

दो बच्चों की मां छह बच्चों के पिता के साथ शादी की जिद पर अड़ी, जानिये खबर -

Thursday, April 18, 2019

उत्तराखंड : अप्रैल में बर्फबारी …. -

Thursday, April 18, 2019

बल्लीवाला फ्लाईओवर तीन सालों के भीतर ली 20 लोगों की मौते -

Thursday, April 18, 2019

जून के पहले सप्ताह में उत्तराखण्ड बोर्ड का परीक्षा परिणाम ! -

Wednesday, April 17, 2019

चैपिंयन मामले में अंतिम फैसला केंद्रीय नेतृत्व का : भट्ट -

Wednesday, April 17, 2019

उत्तराखंड : बारिश और बर्फबारी से फिर ठंड ने दी दस्तक -

Wednesday, April 17, 2019

बारातघर में घुसी बेकाबू कार, तीन लोगों की मौत -

Wednesday, April 17, 2019

बेटे रोहित की मौत प्राकृतिक : उज्जवला शर्मा -

Tuesday, April 16, 2019

ऊंचाई वाले इलाकों में हुई बर्फवारी -

Tuesday, April 16, 2019

स्वास्थ्य सुविधाओं को सुदृढ़ करने को लेकर केंद्रीय स्वास्थ्य सचिव से चर्चा की -

Tuesday, April 16, 2019

झील के पानी की गुणवत्ता समय-समय पर जांची जायः मंडलायुक्त

uk

नैनीताल। नैनी झील का पानी पेयजल के तौर पर शहर के वाशिन्दों के साथ ही आने वाले पर्यटकों द्वारा प्रयोग किया जाता है। शहर में पेयजल की आपूर्ति के लिए झील ही एकमात्र साधन है जिससें शहर व आप पास के क्षेत्रों को पेयजल आपूर्ति की जा रही है। झील के पानी की गुणवत्ता समय-समय पर जाॅची जाये। यह बात आयुक्त कुमायू मण्डल राजीव रौतेला ने झील विकास कार्यों की समीक्षा के दौरान कही। उन्होंने कहा कि लोगों को शुद्ध एवं गुणवत्तायुक्त पेयजल की आपूर्ति करना हमारा दायित्व है। इस काम के लिए जल संस्थान और सिंचाई विभाग दोनों संयुक्त रूप से समय-समय पर नैनी झील के पानी का नमूना लेकर आधुनिकतम प्रयोगशालाओं से उनकी जाॅच कराये। उन्होंने महाप्रबन्धक जल संस्थान डीके मिश्रा को निर्देश दिये कि वह सिंचाई विभाग के साथ समन्वय कर झील के पानी के नमूने लें। उन्होंने हिदायत दी कि झील में आने वाले नाले जहाॅ-जहाॅ झील में प्रवेश कर रहे हैं, उन स्थानों के साथ ही झील के मध्य व अन्य कोनो के पानी के सम्पल लिए जाये। आयुक्त ने जिलाधिकारी विनोद कुमार सुमन से कहा कि नैनी झील की सफाई के लिए झील के पास सीवर ट्रीटमेन्ट प्लांट (एसटीपी) लगाये जाने की जुरूरत है इसके लिए आईआईटी रूड़की ने भी अपनी रिपोर्ट में उल्लेख किया है। उन्होंने जिलाधिकारी से कहा कि वह एसटीपी निर्माण के लिए विशेषज्ञों के मार्ग दर्शन में एक कार्य योजना तैयार करें ताकि एसटीपी स्थापना की दिशा में कार्यवाही की जा सके। गौरतलब है कि वर्तमान में रूसी बाईपास पर एसटीपी कार्यरत है। आयुक्त द्वारा अधिकारियों के साथ लोअर माल रोड की मरम्मत कार्यों की समीक्षा करते हुए अधिशासी अभियन्ता चन्दन सिंह नेगी से कहा कि नन्दा देवी महोत्सव आयोजन का समय नज़दीक आता जा रहा है, ऐसे में लोअर माल रोड पर मरम्मत का कार्य युद्ध स्तर पर किया जाये ताकि माॅ नन्दा के डोले को परम्परागत तौर पर लोअर माल रोड से गुजारा जा सके। उन्होंने जिलाधिकारी से कहा कि डोला विसर्जन के समय लोअर माल रोड पर श्रद्धालुओं को ही अनुमति दी जाये। लोअर माल रोड की नाजुक स्थिति को ध्यान में रखते हुए डोले के साथ गुजरने वाले वाहनों को एहतियात के तौर पर अपर माल रोड से गुजारा जाये। इसके लिए प्रशासन को चाहिए कि मेला आयोजकों से वार्ता कर निर्णय लिया जाये। उन्होंने कहा कि मेले में जो भी दुकाने झूले व अन्य भारी सामान लगाया जा रहा है उसका ट्रान्सपोर्टेशन अपर माल रोड से न किया जाये। मेला प्रारम्भ होने और उसके बाद झूले व मेले का अन्य सामान कालाढुंगी रोड से वापस भेजा जाये। आयुक्त ने जिलाधिकारी श्री सुमन से कहा कि नैनी झील का स्तर काफी संतोष जनक है, झील लबालब भरी हुई है, झील के पानी का डिस्चार्ज किया जा रहा है। पानी डिस्चार्ज करने के स्थान पर शहरवासियों एवं श्रद्धालुओ के लिए पेयजल उलब्धता के लिए पेयजल आपूर्ति के समय को बढ़ाने के लिए प्रशासन विचार कर ले ताकि मेला अवधि में पेयजल की कोई दिक्कत न रहे। बैठक में अपर जिलाधिकारी हरबीर सिंह, अधिशासी अभियन्ता लोनिवि सीएस नेगी, सहायक अभियन्ता डीएस बिष्ट, एमएम जोशी सहित अन्य अधिकारी उपस्थित थे।

Leave A Comment