Breaking News:

एकता कपूर और जितेंद्र हरिद्वार में करेंगे महाआरती , जानिए खबर -

Monday, December 10, 2018

पहल : एक साथ विवाह बंधन में बंधे 21 जोड़े -

Monday, December 10, 2018

सीएम ने की विभिन्न निर्माण कार्यों का शिलान्यास, जानिए खबर -

Sunday, December 9, 2018

पौराणिक मेले हमारी पहचान : सीएम त्रिवेंद्र -

Sunday, December 9, 2018

मैड और एनसीसी की टीम ने रिस्पना को किया साफ़ -

Sunday, December 9, 2018

राष्ट्रीय जनसंपर्क सम्मेलन : हिमालय और गंगा राष्ट्र का गौरव -

Sunday, December 9, 2018

दून नगर निगम बढ़ाएगा हाउस टैक्स, जानिए खबर -

Sunday, December 9, 2018

आईएमए पीओपीः 347 कैडेट बने भारतीय सेना का हिस्सा -

Saturday, December 8, 2018

सीएम त्रिवेंद्र 40वें आॅल इण्डिया पब्लिक रिलेशन्स काॅन्फ्रेंस का किया शुभारम्भ -

Saturday, December 8, 2018

कर्ज से परेशान किसान ने की आत्महत्या की कोशिश, हालत गंभीर -

Saturday, December 8, 2018

सीएम त्रिवेंद्र किये कई घोषणाएं , जानिए खबर -

Saturday, December 8, 2018

‘केदारनाथ’ फिल्म के नाम से ऐतराज: सतपाल महाराज -

Saturday, December 8, 2018

मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र करेंगे राष्ट्रीय जनसंपर्क सम्मेलन का शुभारंभ -

Friday, December 7, 2018

सीएम एप ने दिलाई गरीब परिवारों को धुएं से मुक्ति, जानिए खबर -

Friday, December 7, 2018

गावस्कर : विराट नहीं भारत के ओपनर करेंगे सीरीज का फैसला -

Friday, December 7, 2018

मीका सिंह को छेड़छाड़ मामले में कोर्ट में पेश किए जाएंगे -

Friday, December 7, 2018

सड़क पर बच्चे का जन्म, जानिए खबर -

Friday, December 7, 2018

गन्ना किसानों का बकाया भुगतान जल्द, जानिए खबर -

Friday, December 7, 2018

फैशन में करियर की अपार संभावनाएंः पूर्व मिस इंडिया इको ख्याती -

Thursday, December 6, 2018

उत्तराखंड : 1111 पुरूष व महिला होमगार्डस की नई भर्तियां जल्द -

Thursday, December 6, 2018

त्रिवेंद्र सरकार उत्तराखंड की जनता के सपने को कर रही साकार , जानिये खबर

cm

देहरादून | आसन रूपी शासन चलाने की कला कुछ ही शासको के अंदर होती है जिस तरह से आसन करने में धैर्य , वातावरण , एकाग्रता, शान्ति ,अनुशासन पथ पूरक होते है वैसे ही शासन चलाने के लिए यह सब बिन्दुओ की आवश्यकता होती है और यह सभी गुण मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत के शासन काल में दिखाई पड़ रहा है | मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत के अब तक के कार्यकाल की बात करे तो सबसे पहले अपने कार्यकाल के शुरुआती दौर से अब तक जिस तरह से मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत जनता के लिए मदद के हाथ बढाये है वह अब तक के मुख्यमंत्रियों से अलग ही रहा है हा जी हम बात कर रहे है उस कई वाक्या की जब सीएम त्रिवेंद्र सिंह रावत अपने काफिले को रोक कर सड़क पर पड़े घायल व्यक्ति को अस्पताल पहुचाने का सराहनीय कार्य किये | सीएम का यह कदम जनता के लिए प्रेरणास्रोत रहा | अब तक जितने भी मुख्यमंत्री अपनी कार्यशैली से जनता के हित को लेकर योजनाओ को जमीनी माला पिरोया है उसमे अपने अब तक के कार्यकाल में त्रिवेंद्र सिंह रावत सबसे ऊपरी पायदान पर आते है | विदित हो की राज्य में अब तक पुलिस विभाग को आपराधिक केस जाँच को लेकर फंड की कोई व्यवस्था नही थी जो अब त्रिवेन्द्र सरकार द्वारा इस पर फंड जारी कर एक अहम फैसला लिया है | वही अब तक के अपने कार्यकाल में त्रिवेंद्र सरकार राज्य की शिक्षा, स्वास्थ्य, रोजगार पर अनेक साहसिक रूपी योजनाएं लाई गयी है जो वर्तमान में धरातल पर भी दिखाई दे रही है शिक्षा के क्षेत्र में सबसे अहम फैसला पूरे राज्य के स्कूलों में एनसीईआरटी किताबों को लागू करना रहा जिससे आम जनता को अपने बच्चों को शिक्षित करने में उन पर आर्थिक बोझ कम होगा यही नही प्राइवेट स्कूलो की फीस में मनमानी वृद्धि पर भी त्रिवेंद्र सरकार ने लगाम लगा रखी है इस पर कड़े कदम उठाये गए | एक तरफ कही न कही यह भी है कि त्रिवेंद्र सरकार को उच्च शिक्षा के प्रति जनता हित मे कई कठोर कदम भी उठाने भी होंगे जो सीधे जरूरतमंद छात्र -छात्राओं के शिक्षा के लिए अच्छा पथ प्रशस्त हो सके | प्रदेश में स्वास्थ्य सुविधाओं को बेहतर बनाना राज्य सरकार की शीर्ष प्राथमिकताओं में से एक हैं। राज्य सरकार बनने के बाद पहले वर्ष एक हजार डाॅक्टरों की नियुक्ति का लक्ष्य रखा गया था, जिसके मुकाबले 1140 डाॅक्टरों की नियुक्ति की जा चुकी है। सूचना प्रौद्योगिकी का उपयोग करते हुए सरकार ने टेली मेडिसिन, टेली रेडियोलाॅजी एवं डिजिटल पैथोलाॅजी के क्षेत्र में तेजी से आगे बढ़ रही है। वही पहाड़ो पर पिथौरागढ़, पौड़ी एवं टिहरी के जिला अस्पतालों में आईसीयू के लिए कार्य प्रगति पर है। त्रिवेंद्र सरकार का पहला बजट जहा एतिहासिक रहा वही वही इस विषय पर जनता के कई सुझाव को भी इस बार बजट में शामिल किये जो त्रिवेंद्र सरकार का एक सराहनीय कदम रहा | वही पहली बार पूरा बजट सत्र कामकाज के लिए भी जाना गया | राज्य में भ्र्ष्टाचार को जड़ से उखाड़ फेकने को लेकर सीएम त्रिवेंद्र सिंह रावत अनेक कड़े फैसले लिए है जिसका परिणाम भ्र्ष्टाचारियो के अंदर खौप के रूप में जनता के बीच दिखाई दे रही है | राज्य में बेरोजगारी को दूर करने को लेकर त्रिवेंद्र सरकार जहां अनेक विभागों में रोजगार प्रदान करने के लिए पद श्रीजीत कर रहे है तो वही कौशल योजना के तहत अनेक युवाओ महिलाओ को स्वरोजगार के दरवाजे भी खोले रहे है | कार्यकाल में अब तक त्रिवेंद्र सिंह रावत राज्य के सफल मुखिया के रूप में छाप छोड़ी है इससे कही न कही राज्य की जनता के सीएम त्रिवेंद्र सिंह रावत के प्रति अपेक्षाएं दो गुनी हो गयी है |

Leave A Comment