Breaking News:

उत्तराखंड : निकाय चुनाव का मतदान 18 नवंबर को -

Monday, October 15, 2018

व्यंग्यः कितना दर्द दिया मीटू के टीटू ने…..! -

Monday, October 15, 2018

टिहरी गढ़वाल के बंगसील स्कूल में सफाई अभियान की अनोखी पहल -

Monday, October 15, 2018

गडकरी, एम्स डायरेक्टर समेत आठ लोगों के खिलाफ मातृसदन दर्ज कराएगा हत्या का मुकदमा -

Monday, October 15, 2018

साधन विहीन व निर्बल वर्ग के बच्चों को यथा सम्भव पहुंचे सहायता : राज्यपाल -

Monday, October 15, 2018

#MeToo: बॉलिवुड की अभिनेत्रियों ने आरोपियों के साथ काम करने से किया इंकार -

Monday, October 15, 2018

भारतीय टीम ने वेस्ट इंडीज को हराकर हासिल की शानदार जीत -

Monday, October 15, 2018

“मैड” के सपने को मिला नया नेतृत्व -

Sunday, October 14, 2018

देश के लिए डॉ.कलाम का अद्वितीय योगदान रहा : सीएम त्रिवेंद्र -

Sunday, October 14, 2018

डिप्रेशन विश्व में हार्ट अटैक के बाद मृत्यु का दूसरा बड़ा कारण -

Sunday, October 14, 2018

रूपातंरण कार्यक्रम सराहनीय ही नहीं अनुकरणीय भीः राज्यपाल -

Sunday, October 14, 2018

केदारनाथ यात्रा : 7 लाख के पार पहुंची दर्शनार्थियों की संख्या -

Sunday, October 14, 2018

“उपहार” का निराश्रित बेटियों की शादी में सराहनीय प्रयास -

Sunday, October 14, 2018

अधिकारी एवं कर्मचारी पूरी निष्ठा व ईमानदारी से करे कार्य : सीएम -

Saturday, October 13, 2018

राज्यपाल ने किया पंतनगर विश्वविद्यालय एवं जी.जी.आई.सी.का भ्रमण -

Saturday, October 13, 2018

मिस बॉलीवुड के लिए कॉम्पीटिशन का आयोजन -

Saturday, October 13, 2018

उद्यमी के घर पर भीड़ ने किया हमला -

Saturday, October 13, 2018

उत्तराखण्ड व हरियाणा के मध्य जल्द बहुद्देशीय परियोजनाओं के सम्बन्ध में एमओयू -

Saturday, October 13, 2018

दो दशक के बाद भारत और चीन के बीच फुटबॉल मैच -

Saturday, October 13, 2018

14 अक्टूबर को हाम्रो दशैं कार्यक्रम का भव्य आयोजन -

Friday, October 12, 2018

त्रिवेंद्र सरकार उत्तराखंड की जनता के सपने को कर रही साकार , जानिये खबर

cm

देहरादून | आसन रूपी शासन चलाने की कला कुछ ही शासको के अंदर होती है जिस तरह से आसन करने में धैर्य , वातावरण , एकाग्रता, शान्ति ,अनुशासन पथ पूरक होते है वैसे ही शासन चलाने के लिए यह सब बिन्दुओ की आवश्यकता होती है और यह सभी गुण मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत के शासन काल में दिखाई पड़ रहा है | मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत के अब तक के कार्यकाल की बात करे तो सबसे पहले अपने कार्यकाल के शुरुआती दौर से अब तक जिस तरह से मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत जनता के लिए मदद के हाथ बढाये है वह अब तक के मुख्यमंत्रियों से अलग ही रहा है हा जी हम बात कर रहे है उस कई वाक्या की जब सीएम त्रिवेंद्र सिंह रावत अपने काफिले को रोक कर सड़क पर पड़े घायल व्यक्ति को अस्पताल पहुचाने का सराहनीय कार्य किये | सीएम का यह कदम जनता के लिए प्रेरणास्रोत रहा | अब तक जितने भी मुख्यमंत्री अपनी कार्यशैली से जनता के हित को लेकर योजनाओ को जमीनी माला पिरोया है उसमे अपने अब तक के कार्यकाल में त्रिवेंद्र सिंह रावत सबसे ऊपरी पायदान पर आते है | विदित हो की राज्य में अब तक पुलिस विभाग को आपराधिक केस जाँच को लेकर फंड की कोई व्यवस्था नही थी जो अब त्रिवेन्द्र सरकार द्वारा इस पर फंड जारी कर एक अहम फैसला लिया है | वही अब तक के अपने कार्यकाल में त्रिवेंद्र सरकार राज्य की शिक्षा, स्वास्थ्य, रोजगार पर अनेक साहसिक रूपी योजनाएं लाई गयी है जो वर्तमान में धरातल पर भी दिखाई दे रही है शिक्षा के क्षेत्र में सबसे अहम फैसला पूरे राज्य के स्कूलों में एनसीईआरटी किताबों को लागू करना रहा जिससे आम जनता को अपने बच्चों को शिक्षित करने में उन पर आर्थिक बोझ कम होगा यही नही प्राइवेट स्कूलो की फीस में मनमानी वृद्धि पर भी त्रिवेंद्र सरकार ने लगाम लगा रखी है इस पर कड़े कदम उठाये गए | एक तरफ कही न कही यह भी है कि त्रिवेंद्र सरकार को उच्च शिक्षा के प्रति जनता हित मे कई कठोर कदम भी उठाने भी होंगे जो सीधे जरूरतमंद छात्र -छात्राओं के शिक्षा के लिए अच्छा पथ प्रशस्त हो सके | प्रदेश में स्वास्थ्य सुविधाओं को बेहतर बनाना राज्य सरकार की शीर्ष प्राथमिकताओं में से एक हैं। राज्य सरकार बनने के बाद पहले वर्ष एक हजार डाॅक्टरों की नियुक्ति का लक्ष्य रखा गया था, जिसके मुकाबले 1140 डाॅक्टरों की नियुक्ति की जा चुकी है। सूचना प्रौद्योगिकी का उपयोग करते हुए सरकार ने टेली मेडिसिन, टेली रेडियोलाॅजी एवं डिजिटल पैथोलाॅजी के क्षेत्र में तेजी से आगे बढ़ रही है। वही पहाड़ो पर पिथौरागढ़, पौड़ी एवं टिहरी के जिला अस्पतालों में आईसीयू के लिए कार्य प्रगति पर है। त्रिवेंद्र सरकार का पहला बजट जहा एतिहासिक रहा वही वही इस विषय पर जनता के कई सुझाव को भी इस बार बजट में शामिल किये जो त्रिवेंद्र सरकार का एक सराहनीय कदम रहा | वही पहली बार पूरा बजट सत्र कामकाज के लिए भी जाना गया | राज्य में भ्र्ष्टाचार को जड़ से उखाड़ फेकने को लेकर सीएम त्रिवेंद्र सिंह रावत अनेक कड़े फैसले लिए है जिसका परिणाम भ्र्ष्टाचारियो के अंदर खौप के रूप में जनता के बीच दिखाई दे रही है | राज्य में बेरोजगारी को दूर करने को लेकर त्रिवेंद्र सरकार जहां अनेक विभागों में रोजगार प्रदान करने के लिए पद श्रीजीत कर रहे है तो वही कौशल योजना के तहत अनेक युवाओ महिलाओ को स्वरोजगार के दरवाजे भी खोले रहे है | कार्यकाल में अब तक त्रिवेंद्र सिंह रावत राज्य के सफल मुखिया के रूप में छाप छोड़ी है इससे कही न कही राज्य की जनता के सीएम त्रिवेंद्र सिंह रावत के प्रति अपेक्षाएं दो गुनी हो गयी है |

Leave A Comment