Breaking News:

कोरोना से बचे : उत्तराखंड में आज कोरोना मरीजो की संख्या 1085 हुई , 42 नए मरीज मिले -

Wednesday, June 3, 2020

अभिनेत्री ने जहर खाकर की खुदकुशी, जानिए खबर -

Wednesday, June 3, 2020

मुझे बदनाम करने की साजिश : फुटबॉल कोच विरेन्द्र सिंह रावत -

Wednesday, June 3, 2020

मोदी 2.0 : पहले साल लिए गए कई ऐतिहासिक निर्णय -

Wednesday, June 3, 2020

कोरोना से बचे : उत्तराखंड में कोरोना मरीजो की संख्या 1066 हुई -

Wednesday, June 3, 2020

सराहनीय पहल : एक ट्वीट से अपनों के बीच घर पहुंचा मानसिक दिव्यांग मनोज -

Tuesday, June 2, 2020

कोरोना से बचे : उत्तराखंड में कोरोना मरीजो की संख्या हुई 1043 -

Tuesday, June 2, 2020

उत्तराखंड : मुख्यमंत्री स्वरोजगार योजना में करें अब आनलाईन आवेदन -

Tuesday, June 2, 2020

10 वर्षीय आन्या ने अपने गुल्लक के पैसे देकर मजदूर का किया मदद -

Tuesday, June 2, 2020

उत्तराखंड में कोरोना मरीजो की संख्या 999 हुई, 243 मरीज हुए ठीक -

Tuesday, June 2, 2020

कोरोना से बचे : उत्तराखंड में आज कोरोना मरीजो की संख्या हुई 958 -

Monday, June 1, 2020

उत्तराखंड : कोरोना मरीजो की संख्या 929 हुई, चम्पावत में 15 नए मामले मिले -

Monday, June 1, 2020

जागरूकता: तंबाकू छोड़ने की जागरूकता के लिए स्वयं तत्पर होना जरूरी -

Monday, June 1, 2020

मदद : गांव के छोटे बच्चों को पढ़ा रही भावना -

Monday, June 1, 2020

नही रहे मशहूर संगीतकार वाजिद खान -

Monday, June 1, 2020

नेक कार्य : जरूरतमन्दों के लिए हज़ारो मास्क बना चुकी है प्रवीण शर्मा -

Sunday, May 31, 2020

कोरोना से बचे : उत्तराखंड में कोरोना मरीजो की संख्या पहुँची 907, आज 158 कोरोना मरीज मिले -

Sunday, May 31, 2020

सोशल डिस्टन्सिंग के पालन से कोरोना जैसी बीमारी से बच सकते है : डाॅ अनिल चन्दोला -

Sunday, May 31, 2020

कोरोंना से बचे : उत्तराखंड में मरीजो की संख्या 802 हुई -

Sunday, May 31, 2020

उत्तराखंड : 1152 लोगों को दून से विशेष ट्रेन से बेतिया बिहार भेजा गया -

Sunday, May 31, 2020

दूनवासियों ने लगाई तर्ला नागल जंगल को बचाने की गुहार

देहरादून । देहरादून के शिक्षित छात्रों के संगठन, मेकिंग अ डिफरेंस बाय बींग द डिफरेंस (मैड) ने तर्ला नागल जंगल को बचाने के लिए आयोजित की गयी सितिजेन वॉक मे हिस्सा लिया। तर्ला नगाल जंगल को एमडीडीए ने एक सिटी पार्क बनाने के लिए चिन्हित किया है। नागरिकों ने एमडीडीए की इस अस्थिर योजना, जिससे कि तर्ला नागल मे रह रहे अनेक पक्षी प्रजातियों और जानवरों को खतरा हो सक्ता है, उसके खिलाफ आवाज उठाई। मैड के करन कपूर ने कहा, एमडीडीए का नाम बदल कर मसूरी देहरादून विनाश प्राधिकरन रख देना चाहिए क्योंकि वह आजकल यही काम कर रहे हैं। तर्ला नागल एक खूबसूरत जंगली इलाका है और हम एमडीडीए को उसे ऐसे बर्बाद नही करने देंगे। शहर के विभिन्न हिस्सों से नागरिकों ने इस अभियान मे हिस्सा लिया। बहुत से फोटोग्राफर और सुबह चलने वाले लोग जो इस इलाके मे सालों से आते रहे हैं, उन्होने यहाँ के वन्य जीवन के साथ हुए अपने अनुभव सांझा किए। इस वॉक की शुरुआत अशीष गर्ग ने की जिसमे राजपुर कम्युनिटी इनिशिएटिव की रीनू पौल, प्रमुख के परम्जीत कक्कर, फ्रेंड्स ऑफ दून के भरत शर्मा, सिटीजनस ऑफ ग्रीन दून के हिमांशु शर्मा से समर्थन मिला। मैड की ओर से करन कपूर, श्रेया रोहिल्ला, राहुल गुरु, करन्बीर, कनिका, खुशाली, और दरिश ने इस वॉक मे भाग लिया।

Leave A Comment