Breaking News:

उत्तराखंड : मुख्यमंत्री स्वरोजगार योजना में करें अब आनलाईन आवेदन -

Tuesday, June 2, 2020

10 वर्षीय आन्या ने अपने गुल्लक के पैसे देकर मजदूर का किया मदद -

Tuesday, June 2, 2020

उत्तराखंड में कोरोना मरीजो की संख्या 999 हुई, 243 मरीज हुए ठीक -

Tuesday, June 2, 2020

कोरोना से बचे : उत्तराखंड में आज कोरोना मरीजो की संख्या हुई 958 -

Monday, June 1, 2020

उत्तराखंड : कोरोना मरीजो की संख्या 929 हुई, चम्पावत में 15 नए मामले मिले -

Monday, June 1, 2020

जागरूकता: तंबाकू छोड़ने की जागरूकता के लिए स्वयं तत्पर होना जरूरी -

Monday, June 1, 2020

मदद : गांव के छोटे बच्चों को पढ़ा रही भावना -

Monday, June 1, 2020

नही रहे मशहूर संगीतकार वाजिद खान -

Monday, June 1, 2020

नेक कार्य : जरूरतमन्दों के लिए हज़ारो मास्क बना चुकी है प्रवीण शर्मा -

Sunday, May 31, 2020

कोरोना से बचे : उत्तराखंड में कोरोना मरीजो की संख्या पहुँची 907, आज 158 कोरोना मरीज मिले -

Sunday, May 31, 2020

सोशल डिस्टन्सिंग के पालन से कोरोना जैसी बीमारी से बच सकते है : डाॅ अनिल चन्दोला -

Sunday, May 31, 2020

कोरोंना से बचे : उत्तराखंड में मरीजो की संख्या 802 हुई -

Sunday, May 31, 2020

उत्तराखंड : 1152 लोगों को दून से विशेष ट्रेन से बेतिया बिहार भेजा गया -

Sunday, May 31, 2020

पूर्व सीएम हरीश रावत ने किया जनता से संवाद, जानिए खबर -

Sunday, May 31, 2020

प्रदेश में खेती को व्यावसायिक सोच के साथ करने की आवश्यकताः सीएम त्रिवेंद्र -

Sunday, May 31, 2020

अनलॉक के रूप में लॉकडाउन , जानिए खबर -

Saturday, May 30, 2020

कोरोना का कोहराम : उत्तराखंड में आज कोरोना मरीजो की संख्या हुई 749 -

Saturday, May 30, 2020

रहा है भारतीय पत्रकारिता का अपना एक गौरवशाली इतिहास -

Saturday, May 30, 2020

पहचान : फ्री ऑन लाइन कोचिंग दे रहे फुटबाल कोच विरेन्द्र सिंह रावत, जानिए खबर -

Saturday, May 30, 2020

एक वर्ष की सफलता ने प्रधानमंत्री मोदी को बनाया विश्व नेता : सीएम त्रिवेंद्र -

Saturday, May 30, 2020

देश में सबसे बड़े कुष्‍ठ रोग निदान अभियान की होगी शुरुआत

Leprosy

 

19 राज्‍यों/केंद्र शासित प्रदेशों में 32 करोड़ लोगों की जांच की जाएगी

भारत से कुष्‍ठ रोग के आमूल उन्‍मूलन के लिए प्रधानमंत्री नरेन्‍द्र मोदी के दृष्टिकोण के अनुपालन में स्‍वास्‍थ्‍य एवं परिवार कल्‍याण मंत्री जे.पी. नड्डा ने राष्‍ट्रीय कुष्‍ठ निवारण कार्यक्रम की समीक्षा की। इसके अनुरुप स्‍वास्‍थ्‍य एवं परिवार कल्‍याण मंत्रालय ने अब तक का सबसे बड़ा कुष्‍ठ रोग निदान अभियान (एलसीडीसी) शुरू किया है। यह अभियान 5 सितंबर, 2016 से 19 राज्‍यों/केंद्र शासित प्रदेशों के 149 जिलों में शुरु कर दिया गया है। उक्‍त अभियान 15 दिन चलेगा और इस दौरान उपरोक्‍त जिलों के 1656 संभागों/शहरी क्षेत्रों के कुल 32 करोड़ लोगों की जांच की जाएगी। इस काम में 297604 टीमों को लगाया गया है जिनमें एक महिला आशा कर्मी और एक पुरुष स्‍वयंसेवी शामिल हैं। ये टीमें निर्धारित क्षेत्रों के प्रत्‍येक घर का दौरा करेंगी और कुष्‍ठ रोग के संबंध में परिवार के सभी सदस्‍यों की जांच करेंगी। इस अभियान के तहत जिन राज्‍यों और केंद्र शासित प्रदेशों को रखा गया है, उनमें आंध्र प्रदेश, असम, बिहार, छत्‍तीसगढ़, गुजरात, हरियाणा, झारखंड, कर्नाटक, महाराष्‍ट्र, नगालैंड, ओडिशा, तमिलनाडु, उत्‍तर प्रदेश, उत्‍तराखंड, पश्चिम बंगाल, चंडीगढ़, दादरा एवं नागर हवेली, दिल्‍ली और लक्षद्वीप शामिल हैं। इस अभियान में उन जिलों को शामिल किया गया है जहां पिछले तीन सालों में कुष्‍ठ रोग दर 10,000 की आबादी पर एक से अधिक मामलों में पाई गई है। कुष्‍ठ रोग निदान अभियान दुनिया में अपनी तरह का अनोखा कदम है जिसके तहत लक्षित आबादी के प्रत्‍येक सदस्‍य की जांच की जाएगी। यह जांच एक पुरुष और एक महिला स्‍वयंसेवी वाली खोजी टीमें करेंगी। यह जांच टीमें घर-घर जाएंगी और स्‍थानीय क्षेत्र से संबंधित योजना के अनुसार अचिन्हित कुष्‍ठ रोग के मामलों की जांच करेंगी। अभियान का उद्देश्‍य है कि प्रभावित व्‍यक्तियों में कुष्‍ठ रोग का शुरुआत में ही निदान कर लिया जाए ताकि उन्‍हें शारीरिक अक्षमता और अंगों की खराबी से बचाया जा सके। इसके अलावा ऐसे लोगों का समय पर उपचार किया जाएगा ताकि सामुदायिक स्‍तर पर रोग के फैलाव को रोका जा सके।

Leave A Comment