Breaking News:

दर – दर भटक रही है अपने बच्चे के साथ यह महिला, जानिए खबर -

Thursday, January 18, 2018

बिग बॉस के इस प्रतिभागी का चेहरा सर्जरी से हुआ खराब, जानिए है कौन -

Thursday, January 18, 2018

प्रदेश में भू कानून में परिवर्तन की मांग को लेकर “हम” का धरना -

Thursday, January 18, 2018

शासकीय योजनाओं का हो व्यापक प्रचार-प्रसार : डाॅ.पंकज कुमार पाण्डेय -

Thursday, January 18, 2018

केंद्रीय वित्तमंत्री के समक्ष सीएम ने रखी ग्रीन बोनस की मांग -

Thursday, January 18, 2018

कांटों वाले बाबा को हर कोई देख है दंग … -

Wednesday, January 17, 2018

फिल्म पद्मावत फिर पहुंची एक बार कोर्ट, जानिए खबर -

Wednesday, January 17, 2018

बालिकाओ ने जूडो, बैडमिंटन, फुटबाल, वालीबाल, बाक्सिंग में दिखाई दम -

Wednesday, January 17, 2018

उत्तराखंड के उत्पादों का एक ही ब्रांड नेम होना चाहिए : उत्पल कुमार सिंह -

Wednesday, January 17, 2018

पर्वतीय राज्यों को मिले 2 प्रतिशत ग्रीन बोनस : सीएम -

Wednesday, January 17, 2018

सिर दर्द हो तो करे यह उपाय …. -

Monday, January 15, 2018

उत्तरायणी महोत्सव में रंगारंग कार्यक्रमों की धूम -

Monday, January 15, 2018

सौर ऊर्जा से चलने वाली कार का दिया प्रस्तुतीकरण -

Monday, January 15, 2018

सीएम ने ईको फ्रेण्डली किल वेस्ट मशीन का किया उद्घाटन -

Monday, January 15, 2018

औद्योगीकरण को बढ़ावा देने को लेकर प्रदेश में सिंगल विंडो सिस्टम लागू -

Monday, January 15, 2018

युवा क्रिकेटर के लिए भारतीय तेज गेंदबाज आरपी सिंह ने मांगी मदद -

Sunday, January 14, 2018

कक्षा सात की बालिका ने प्रधानमंत्री के लिए लिखी चिट्ठी, जानिए खबर -

Sunday, January 14, 2018

हरियाली डेवलपमेंट फाउंडेशन ने की गरीब, अनाथ एवं बेसहारा लोगो की मदद -

Sunday, January 14, 2018

रेडिमेड वस्त्रों के 670 सेंटर स्थापित किये जायेंगेः सीएम -

Sunday, January 14, 2018

सीएम ने 14 विकास योजनाओं का किया शिलान्यास -

Saturday, January 13, 2018

देश में सबसे बड़े कुष्‍ठ रोग निदान अभियान की होगी शुरुआत

Leprosy

 

19 राज्‍यों/केंद्र शासित प्रदेशों में 32 करोड़ लोगों की जांच की जाएगी

भारत से कुष्‍ठ रोग के आमूल उन्‍मूलन के लिए प्रधानमंत्री नरेन्‍द्र मोदी के दृष्टिकोण के अनुपालन में स्‍वास्‍थ्‍य एवं परिवार कल्‍याण मंत्री जे.पी. नड्डा ने राष्‍ट्रीय कुष्‍ठ निवारण कार्यक्रम की समीक्षा की। इसके अनुरुप स्‍वास्‍थ्‍य एवं परिवार कल्‍याण मंत्रालय ने अब तक का सबसे बड़ा कुष्‍ठ रोग निदान अभियान (एलसीडीसी) शुरू किया है। यह अभियान 5 सितंबर, 2016 से 19 राज्‍यों/केंद्र शासित प्रदेशों के 149 जिलों में शुरु कर दिया गया है। उक्‍त अभियान 15 दिन चलेगा और इस दौरान उपरोक्‍त जिलों के 1656 संभागों/शहरी क्षेत्रों के कुल 32 करोड़ लोगों की जांच की जाएगी। इस काम में 297604 टीमों को लगाया गया है जिनमें एक महिला आशा कर्मी और एक पुरुष स्‍वयंसेवी शामिल हैं। ये टीमें निर्धारित क्षेत्रों के प्रत्‍येक घर का दौरा करेंगी और कुष्‍ठ रोग के संबंध में परिवार के सभी सदस्‍यों की जांच करेंगी। इस अभियान के तहत जिन राज्‍यों और केंद्र शासित प्रदेशों को रखा गया है, उनमें आंध्र प्रदेश, असम, बिहार, छत्‍तीसगढ़, गुजरात, हरियाणा, झारखंड, कर्नाटक, महाराष्‍ट्र, नगालैंड, ओडिशा, तमिलनाडु, उत्‍तर प्रदेश, उत्‍तराखंड, पश्चिम बंगाल, चंडीगढ़, दादरा एवं नागर हवेली, दिल्‍ली और लक्षद्वीप शामिल हैं। इस अभियान में उन जिलों को शामिल किया गया है जहां पिछले तीन सालों में कुष्‍ठ रोग दर 10,000 की आबादी पर एक से अधिक मामलों में पाई गई है। कुष्‍ठ रोग निदान अभियान दुनिया में अपनी तरह का अनोखा कदम है जिसके तहत लक्षित आबादी के प्रत्‍येक सदस्‍य की जांच की जाएगी। यह जांच एक पुरुष और एक महिला स्‍वयंसेवी वाली खोजी टीमें करेंगी। यह जांच टीमें घर-घर जाएंगी और स्‍थानीय क्षेत्र से संबंधित योजना के अनुसार अचिन्हित कुष्‍ठ रोग के मामलों की जांच करेंगी। अभियान का उद्देश्‍य है कि प्रभावित व्‍यक्तियों में कुष्‍ठ रोग का शुरुआत में ही निदान कर लिया जाए ताकि उन्‍हें शारीरिक अक्षमता और अंगों की खराबी से बचाया जा सके। इसके अलावा ऐसे लोगों का समय पर उपचार किया जाएगा ताकि सामुदायिक स्‍तर पर रोग के फैलाव को रोका जा सके।

Leave A Comment