Breaking News:

उत्तराखण्ड का एडवेंचर टूरिज्म जल्द ही एमटीवी पर दिखेगा -

Thursday, February 20, 2020

सीएम ने बागेश्वर में 44 योजनाओं का किया शिलान्यास एवं लोकार्पण -

Thursday, February 20, 2020

उत्तराखंड में 10 हजार लोगो को आप पार्टी से जोड़ने का लक्ष्यः एसएस कलेर -

Thursday, February 20, 2020

‘इण्डिया ड्रोन फेस्टिवल-2.0‘ का सीएम त्रिवेंद्र ने किया शुभारम्भ -

Thursday, February 20, 2020

नैनीताल हाईकोर्ट के अगले चीफ जस्टिस होंगे आर.बी. मलिमथ -

Thursday, February 20, 2020

गैरसैंण में विधानसभा सत्र तीन मार्च से, जानिए खबर -

Thursday, February 20, 2020

आयोग की परीक्षाओं में न होने पाए कोई गड़बड़ी : सीएम त्रिवेंद्र -

Wednesday, February 19, 2020

जरा हटके : पत्नी से लड़ाई झगड़ा फिर पति का शांतिभंग में चालान, जानिए खबर -

Wednesday, February 19, 2020

परिवर्तन नहीं, अफवाहें विरोधियों का षड़यंत्रः भगत -

Wednesday, February 19, 2020

दुराचार का आरोपी गिरफ्तार, जेल भेजा -

Wednesday, February 19, 2020

उत्तराखंड : एनडी तिवारी के “पाँच साल” की राह पर सीएम त्रिवेंद्र -

Wednesday, February 19, 2020

देवभूमि में ‘पॉलीटेक्निक स्पोर्ट्स मीट 2020’ का समापन -

Tuesday, February 18, 2020

आढ़तियों के चालान पर पूर्व अध्यक्ष आए बचाव में, जानिए खबर -

Tuesday, February 18, 2020

वैलनेस और आयुष का मुख्य डेस्टीनेशन है उत्तराखण्ड: सीएम त्रिवेन्द्र -

Tuesday, February 18, 2020

जरा हटके : समुद्र में ढाई किमी तैरेंगे डॉ आदेश -

Tuesday, February 18, 2020

उत्तरकाशी: भागीरथी में गिरी कार , छह की मौत -

Tuesday, February 18, 2020

सीएम हर बुधवार व गुरूवार विधानसभा कार्यालय में, जानिए खबर -

Tuesday, February 18, 2020

केजरीवाल के शपथ ग्रहण में शामिल हुए “आप” उत्तराखंड के नेता -

Monday, February 17, 2020

उत्तराखंड: राष्ट्रीय पुरस्कार के लिए भडोली गांव का हुआ चयन -

Monday, February 17, 2020

अनशन : साध्वी पद्मावती की हालत बिगड़ी, ऋषिकेश एम्स रेफर -

Monday, February 17, 2020

देहरादून घूमने आए तीन छात्र यमुना नदी में डूबे

विकासनगर । उत्तर प्रदेश के मुजफ्फरनगर जिले से देहरादून घूमने आए छात्रों के दल में शामिल तीन छात्र नहाते वक्त यमुना नदी में डूब गए। स्थानीय तैराकों ने इनमें से एक को बचा लिया, जबकि अन्य दो का कुछ पता नहीं चल पाया। मूल रूप से कारगिल निवासी तीनों बच्चे अनाथ हैं और मुजफ्फरनगर स्थित डीएन पब्लिक स्कूल में पढ़ते हैं। यहां संधावली कस्बे में अलजहरा चेरीटेबल फाउंडेशन संस्था अनाथ बच्चों की देखरेख कर रही थी। स्कूल का संचालन यही संस्था करती है। वही 170 बच्चों को पिकनिक पर लेकर आई हुई है। हादसा शनिवार शाम के वक्त हुआ। मुजफ्फरनगर के संधावली से तीन बसों में ये सभी बच्चे टूर पर आए हुए हैं। दोपहर में उन्होंने भारतीय वन अनुसंधान संस्थान का भ्रमण किया। इसके बाद वे विकासनगर से करीब आठ किलोमीटर दूर इमामबाड़ा अंबाड़ी पहुंचे। इस बीच छह बच्चे डाकपत्थर बैराज के पास यमुना नदी की तरफ चले गए। इनमें से अनवर (17 वर्ष) पुत्र मोहम्मद मूल निवासी लंकरचे कारगिल लददाक, मोहम्मद हुसैन (17 वर्ष) मूल निवासी सोत कारगिल और मोहम्मद जफर अली (13वर्ष) पुत्र मोहम्मद अली मूल निवासी लंकरचे कारगिल नदी में नहाने उतर गए। जबकि उनके साथी छात्र वहीं किनारे बैठ गए। इसी दरम्यान मोहम्मद जफर पानी तेज बहाव में बहने लगा, यह देख अनवर व हुसैन उसे बचाने के लिए गहरे पानी में उतर उतरे और देखते ही देखते दोनों डूब गए। साथी छात्रों की चीख पुकार सुनकर बैराज रोड से गुजर रहे आदिल और इकराम ने उन्हें बचाने की कोशिश की, लेकिन वह अनवर को ही बचा पाए। बाकी तेज बहाव में गुम हो गए। अनवर को स्थानीय लोगों ने पास स्थित कालिंदी अस्पताल में भर्ती कराया। प्राथमिक उपचार के बाद उसे हायर सेंटर रेफर कर दिया गया। जल पुलिस और स्थानीय तैराकों ने नदी में डूबे छात्रों की तलाश में रेस्क्यू चलाया, लेकिन उनका कुछ पता नहीं चला। जल पुलिस के देरी से पहुंचने पर लोगों ने नाराजगी जाहिर की। टूर में साथ आए शिक्षक मौहम्मद हैदर ने बताया कि ये बच्चे बगैर बताए नहाने चले गए थे। थानाध्यक्ष ने बताया कि लापता छात्रों की तलाश की जा रही है। टूर में साथ आया स्टाफ भले ही बच्चों के बगैर अनुमति के नहाने जाने की बात कह रहा हो, लेकिन सवाल सुरक्षा का है। बच्चे कैसे वहां से निकल कर नदी तट पर पहुंच गए, उनकी देखरेख में किसकी ड्यूटी लगाई थी, उनके स्तर पर क्यों लापरवाही बरती गई, इन सवालों को स्टाफ के पास कोई जवाब नहीं है।

Leave A Comment