Breaking News:

भाई की पुकार…….. -

Monday, August 3, 2020

भाजपा उत्तराखंड में 5 अगस्त को दीपमाला प्रकाशित कर मनाएगी उत्सव -

Monday, August 3, 2020

ऋषिकेश : दुर्घटना में चोटिल मां-बेटे को स्पीकर ने अपनी गाड़ी पहुंचाया अस्पताल -

Monday, August 3, 2020

उत्तराखंड: राजभवन में दो साल से मुसीबत का सबब बना उत्पाती बंदर रेस्क्य टीम ने दबोचा -

Monday, August 3, 2020

उत्तराखंड: आज इस जिले में मिले कोरोना के 100 से अधिक मरीज, जानिए खबर -

Monday, August 3, 2020

भाषा बोली किसी भी संस्कृति एवं सभ्यता का होता है आईना : मंत्री प्रसाद नैथानी -

Sunday, August 2, 2020

रक्षाबन्धन : आंगनबाड़ी और आशा कार्यकत्रि के खाते में एक-एक हजार रुपये की सम्मान राशि मिलेगी -

Sunday, August 2, 2020

उत्तराखंड: आज इन जिलों में मिले कोरोना के अधिक मरीज, जानिए खबर -

Sunday, August 2, 2020

पाताल से भी ढूढ निकालेंगे रिया चक्रवर्ती को : बिहार पुलिस -

Sunday, August 2, 2020

देहरादून : सार्वजनिक स्थानों पर मास्क न पहनने पर 532 लोगों का चालान किया -

Sunday, August 2, 2020

उत्तर प्रदेश : कैबिनेट मंत्री कमल रानी वरुण की कोरोना से मौत -

Sunday, August 2, 2020

डमरूधारी भोला भण्डारी वीडियो गीत को किया लांच, जानिए खबर -

Saturday, August 1, 2020

उत्तराखंड : नरेश बंसल ने नई शिक्षा नीति लागू होने पर खुशी जताई -

Saturday, August 1, 2020

रक्षाबंधन के दिन सुबह 9.29 बजे तक भद्रा रहेगी, उसके बाद पूरे दिन राखी बांधने का समय -

Saturday, August 1, 2020

सकारात्मक पोस्ट के साथ दुष्प्रचार का भी जवाब दें सोशल मीडिया प्रभारीः मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र -

Saturday, August 1, 2020

उत्तराखंड: आज 264 कोरोना के नए मामले मिले -

Saturday, August 1, 2020

बद्रीनाथ धाम के प्रसाद अब देश और विदेश के श्रद्वालुओं को ऑनलाइन  मिलना शुरू, जानिए खबर -

Saturday, August 1, 2020

भारत : पूरे देश मे कोरोना मरीजो की संख्या पहुँची 17 लाख के करीब -

Saturday, August 1, 2020

उत्तराखंड: आज दो जिले को छोड़ बाकी सभी जिलों में मिले नए कोरोना मरीज, जानिए खबर -

Friday, July 31, 2020

उत्तराखंड | वरिष्ठ आईएएस अफसर ओमप्रकाश ने मुख्य सचिव पद का कार्यभार ग्रहण किया -

Friday, July 31, 2020

दोस्त ने ही की थी अंकित शर्मा की हत्या

काशीपुर । पत्नी से अवैध संबंधों के शक में दोस्त ने ही अंकित शर्माकी हत्या प्रिया मॉल के पीछे ले जाकर की थी। पुलिस ने घटना का खुलासा कर आरोपित दोस्त को गिरफ्तार कर लिया है। हत्या में प्रयुक्त चाकू और कपड़े भी बरामद हो गए हैं। हत्या का केस दर्ज कर पुलिस ने शुक्रवार को आरोपित को कोर्ट में पेश किया। 19 दिसंबर को प्रिया मॉल के पीछे मिले अज्ञात शव की शिनाख्त पुलिस के लिए सिर दर्द बन गई थी। इस ब्लाइंड केस हो खोलना पुलिस के लिए किसी चुनौती से कम नहीं था। काफी जांच पड़ताल के बाद एएसपी डॉ. जगदीश चंद्र ने अपने कार्यालय में शुक्रवार को बताया कि शव की शिनाख्त के लिए नशेडियों से पूछताछ की गई तो 21 दिसंबर को उसकी शिनाख्त टीचर्स कॉलोनी, महेशपुरा काशीपुर निवासी अंकित शर्मा पुत्र प्रमोद कुमार शर्मा के रूप में हुई। आरोपित तक पहुंचने के लिए पुलिस की पांच टीमें गठित की गईं। घटना क्षेत्र नशेडियों का अड्डा है। इसलिए नशेडियों से पूछताछ की गई। पता लगा कि घटना वाले दिन आखिरी समय में मोहम्मद दानिश निवासी मोहल्ला महेशपुरा टीचर्स कॉलोनी को उसके साथ देखा गया था। पुलिस ने उससे पूछताछ की तो वह टूट गया। उसने बताया कि अंकित उसका अच्छा दोस्त था। वह इंजेक्शन का नशा करता था। जिसने उसे भी इंजेक्शन के नशे की लत लगाई थी। नशे का इंजेक्घ्शन लेने की वजह से दानिश का अपनी पत्नी से विवाद होने लगा। वह उसे छोड़कर मायके चली गई। इसके बाद भी अंकित का ससुराल में आना-जाना लगा रहा। उसने दोस्तों में बताया कि पत्नी के उसके साथ अवैध संबंध हैं। अंकित ने ही पत्नी को उसके खिलाफ भड़काया था। अंकित को ठिकाने लगाने के लिए 18 दिसंबर को पहले उसने चाकू लिया। अंकित को वह इंजेक्शन के बहाने प्रिया मॉल के पीछे ले गया। इंजेक्शन का नशा होने के बाद उसने अंकित से इस संबंध में बात की तो दोनों के बीच हाथापाई शुरू हो गई। इस दौरान दानिश ने अंकित के सिर व नाक पर ईंट से हमला कर दिया। अंकित ने भी उस पर हमला किया। जिसके बाद उसने अंकित पर चाकू से ताबड़तोड़ हमला कर दिया। अंकित अचेत होकर नीचे गिर गया। जिसके बाद वहां पड़ी रस्सी को गले में बांधकर वह अंकित को खजूर के पेड़ के पीछे ले गया और चाकू से गला रेत दिया। एएसपी ने बताया कि घटना के दिन अंकित चार बजे घर खाना खाने के लिए आया था। जिसके बाद वह घर से चला गया। घर से निकलने के बाद दानिश अंकित से मिला और उसे अपने साथ ले गया। पुलिस ने रास्ते की सीसीटीवी फुटेज चेक की तो दोनों घटना के दिन कई जगहों पर साथ दिखे। चार माह पहले तक अंकित का परिवार दानिश के घर में किराये पर रहता था। जिसके बाद अंकित का परिवार पड़ोस के मकान में ही रहने लगा। वहीं से दोनों के बीच में अच्छी दोस्ती हो गई थी

Leave A Comment