Breaking News:

उत्तराखंड : दुकान खुलने का समय प्रातः 7 बजे से सांय 7 बजे तक हुआ -

Thursday, May 28, 2020

कोरोना कहर : उत्तराखंड में कोरोना मरीजों की संख्या पहुँची 500 -

Thursday, May 28, 2020

टीवी अभिनेत्री का सड़क हादसे में हुई मौत -

Thursday, May 28, 2020

बिहार की बेटी ज्योति के मुरीद हुए विदेशी भी, जानिए खबर -

Thursday, May 28, 2020

मुख्यमंत्री स्वरोजगार योजना’’ का शुभारंभ हुआ -

Thursday, May 28, 2020

उत्तराखंड : कोरोना मरीजो की संख्या हुई 493 -

Thursday, May 28, 2020

उत्तराखंड : मुख्यमंत्री राहत कोष में आज यह दिए दान, जानिए खबर -

Wednesday, May 27, 2020

देहरादून से विशेष ट्रेन द्वारा हज़ारो मजदूर बिहार एंव उत्तर प्रदेश के लिए रवाना, जानिए खबर -

Wednesday, May 27, 2020

उत्तराखंड : कोरोना मरीजो की संख्या हुई 469, आज 69 मरीज मिले कोरोना के -

Wednesday, May 27, 2020

ऋषिकेश-धरासू हाइवे पर 440 मीटर लंबी टनल हुई तैयार, सीएम त्रिवेंद्र ने जताया आभार -

Wednesday, May 27, 2020

कोरोना का कहर : उत्तराखंड में कोरोना मरीज हुए 438 -

Wednesday, May 27, 2020

उत्तराखंड : राज्य में कोरोना मरीजो की संख्या हुई 401 -

Tuesday, May 26, 2020

“आप” पार्टी से जुड़े कई लोग, जानिए खबर -

Tuesday, May 26, 2020

उत्तराखंड : प्रदेश भाजपा ने विभिन्न समितियों का गठन किया -

Tuesday, May 26, 2020

कोरोना संक्रमित लोगों की जाँच कर रहे अस्पतालो को मिलेगा 50 लाख रूपए की प्रोत्साहन राशि -

Tuesday, May 26, 2020

उत्तराखंड : 51 कोरोना मरीज और मिले, संख्या हुई 400 -

Tuesday, May 26, 2020

नेक कार्य : पर्दे के हीरो से रियल हीरो बने सोनू सूद -

Monday, May 25, 2020

संक्रमण का दौर है सभी जनता अपनी जिम्मेदारियों को समझे : सीएम त्रिवेंद्र -

Monday, May 25, 2020

उत्तराखंड में कोरोना मरीजो की संख्या 349 हुई -

Monday, May 25, 2020

उत्तराखंड : राज्य में कोरोना मरीजो की संख्या 332 हुई -

Monday, May 25, 2020

धरना : हम करे तो अराजक और बीजेपी करे तो लोकतान्त्रिक

kejriwal_dharna

आम आदमी पार्टी के नेता संजय सिंह ने कहा की केजरीवाल जब मुख्यमंत्री रहते धरना पर बैठे थे तो सबसे ज्यादा हाय तौबा बीजेपी ने मचाई थी , मीडिया द्वारा भी इस मुद्दे को आगे बढ़ाया गया था |बड़ा आश्चर्य हुआ कि इक्कीसवी सदी के भारत में पहली बार प्रचंड बहुमत से बनी केंद्र सरकार को न केवल संसद परिसर में धरना पर बैठना पड़ा बल्कि अपने सभी ( लगभग 300 से भी अधिक ) सांसदों के साथ लोकतंत्र बचाओ लोकतंत्र बचाओ के नारे के साथ मार्च भी करना पड़ा ? आखिर क्यों ?. इसके पहले विदित हो की ४९ दिन के समय में केजरीवाल सरकार ने जब महिला सुरक्षा पर धरना दिया था तो केजरीवाल सरकार को बीजेपी अराजकता और नौटंकी की उपाधि से नवाजा था |वही आप नेता आशुतोष का कहना है इसे राजनीति का खेल कहे या समय का कालचक्र | केजरीवाल जब सडको पर उतरे तो उन्हे मशवरा दिया गया था की, सत्ता मे रहते हुए वो लोग सडको पर उतर कर देश को क्या संदेश देना चाहते है? आप सत्ता मे हो, आप काम करो, सडको पर उतरने की नौटंकी मत करो और आज पूरा का पूरा केन्द्रीय मंत्रीगण सडको पर उतरा है |

Leave A Comment