Breaking News:

उत्तराखंड : दुकान खुलने का समय प्रातः 7 बजे से सांय 7 बजे तक हुआ -

Thursday, May 28, 2020

कोरोना कहर : उत्तराखंड में कोरोना मरीजों की संख्या पहुँची 500 -

Thursday, May 28, 2020

टीवी अभिनेत्री का सड़क हादसे में हुई मौत -

Thursday, May 28, 2020

बिहार की बेटी ज्योति के मुरीद हुए विदेशी भी, जानिए खबर -

Thursday, May 28, 2020

मुख्यमंत्री स्वरोजगार योजना’’ का शुभारंभ हुआ -

Thursday, May 28, 2020

उत्तराखंड : कोरोना मरीजो की संख्या हुई 493 -

Thursday, May 28, 2020

उत्तराखंड : मुख्यमंत्री राहत कोष में आज यह दिए दान, जानिए खबर -

Wednesday, May 27, 2020

देहरादून से विशेष ट्रेन द्वारा हज़ारो मजदूर बिहार एंव उत्तर प्रदेश के लिए रवाना, जानिए खबर -

Wednesday, May 27, 2020

उत्तराखंड : कोरोना मरीजो की संख्या हुई 469, आज 69 मरीज मिले कोरोना के -

Wednesday, May 27, 2020

ऋषिकेश-धरासू हाइवे पर 440 मीटर लंबी टनल हुई तैयार, सीएम त्रिवेंद्र ने जताया आभार -

Wednesday, May 27, 2020

कोरोना का कहर : उत्तराखंड में कोरोना मरीज हुए 438 -

Wednesday, May 27, 2020

उत्तराखंड : राज्य में कोरोना मरीजो की संख्या हुई 401 -

Tuesday, May 26, 2020

“आप” पार्टी से जुड़े कई लोग, जानिए खबर -

Tuesday, May 26, 2020

उत्तराखंड : प्रदेश भाजपा ने विभिन्न समितियों का गठन किया -

Tuesday, May 26, 2020

कोरोना संक्रमित लोगों की जाँच कर रहे अस्पतालो को मिलेगा 50 लाख रूपए की प्रोत्साहन राशि -

Tuesday, May 26, 2020

उत्तराखंड : 51 कोरोना मरीज और मिले, संख्या हुई 400 -

Tuesday, May 26, 2020

नेक कार्य : पर्दे के हीरो से रियल हीरो बने सोनू सूद -

Monday, May 25, 2020

संक्रमण का दौर है सभी जनता अपनी जिम्मेदारियों को समझे : सीएम त्रिवेंद्र -

Monday, May 25, 2020

उत्तराखंड में कोरोना मरीजो की संख्या 349 हुई -

Monday, May 25, 2020

उत्तराखंड : राज्य में कोरोना मरीजो की संख्या 332 हुई -

Monday, May 25, 2020

नहीं ढूंढ पा रही एक माह से बहन व भांजी को पुलिस

police

देहरादून। विद्या विहार निवासी कालिका प्रसाद थपलियाल ने अपनी बहन व भांजी की तलाश न किये जाने पर आंदोलन करने की चेतावनी दी है। उनका कहना है कि पुलिस के उच्च अधिकारियों से वार्ता किये जाने के बाद भी आज तक इस पर किसी भी प्रकार की कोई कार्यवाही नहीं की गई है। उत्तरांचल प्रेस क्लब में पत्रकारों से बातचीत करते हुए थपलियाल ने बताया कि उनकी बहन सुनीता की शादी 18-19 अक्टूबर 2010 में गुप्तकाशी निवासी विजय राम से हिन्दू रीति रिवाज के अनुसार संपन्न हुई। उनका कहना है कि शादी के बाद से ही कम दहेज मिलने के कारण सुनीता का जेठ रमेश चन्द्र, जेठानी उमा ने सुनीता का उत्पीड़न शुरू कर दिया। उनका कहना है कि शादी के दो तीन वर्ष के बाद रमेश चन्द्र ने अपने छोटे भाई विजय राम के साथ मारपीट की तथा उसके सिर पर चोट मारी जिस पर विजयराम, सुनीता व अपनी लडकी कुमारी इशिका को लेकर देहरादून आ गये और उनको कमरा दिया गया और यहां रहने लगे। उनका कहना है कि बीते माह 19 सितंबर को सुबह अपने दोनों बच्चों इशिका व कान्हा के लेकर बडी बहन विनिता के घर गई और कहा कि वह गुप्तकाशी जा रही है और दोनों बच्चों को विजयराम के पास छोड़ दूंगी, तब उसे जिम्मेदारी का एहसास होगा किन्तु शाम तक उसके गुप्तकाशी न पहंुचने पर तमाम रिश्तेदारों व अन्य लोगों ने सुनीता के बारे में पूछताछ की और कहीं पता न लगने पर थाना पटेलनगर में गुमशुदगी लिखाई गई लेकिन तब से लेकर आज उनकी बहन व भांजी का कोई पता नहीं चल पाया है। उनका कहना है कि कान्हा की लाश हरिद्वार में मिली। इस सारे घटनाŘम में यह बात सामने आई है कि उमा देवी, रमेश चन्द्र एवं विजय राम द्वारा सुनीता का दहेज उत्पीडन तथा अन्य तरह का उत्पीड़न करने की वहज से सुनीता ने अपने दोनों बच्चों के साथ नदी में जाकर आत्महत्या कर दी, लेकिन आज तक उन लोगों पर किसी भी प्रकार की कार्यवाही नहीं हुई है और न ही किसी भी प्रकार की कोई पूछताछ की गई है। उनका कहना है कि शीघ्र ही कार्यवाही न होने पर आंदोलन किया जायेगा।

Leave A Comment