Breaking News:

सिविल सेवा परीक्षा परिणाम : रामनगर के शुभम अग्रवाल ने हासिल किए 43वीं रैंक -

Wednesday, August 5, 2020

दुःखद : सात साल की मासूम बच्ची को गुलदार ने बनाया निवाला -

Wednesday, August 5, 2020

उत्तराखंड : चार आईएएस समेत 14 अधिकारियों के दायित्वों किया गया फेरबदल -

Wednesday, August 5, 2020

सराहनीय : आत्मनिर्भर भारत अभियान की ओर अग्रसर “हिमालय ट्री” -

Tuesday, August 4, 2020

उत्तराखंड : 5100 घी के दियों से जगमगायेगा मुख्यमंत्री आवास -

Tuesday, August 4, 2020

उत्तराखंड: आठ हजार के पार पहुँचा कोरोना मरीजो की संख्या , जानिए खबर -

Tuesday, August 4, 2020

“छुमका गिरा रे बरेली के बाज़ार में” के गाने में बरेली बाजार ही क्यों , जानिए खबर -

Tuesday, August 4, 2020

‘रक्षा बंधन’ फिल्म बनाएंगे अक्षय कुमार, जानिए खबर -

Tuesday, August 4, 2020

भारत : कोरोना मरीजों की पूरे देश मे 18 लाख से अधिक संख्या पहुँची -

Tuesday, August 4, 2020

भाई की पुकार…….. -

Monday, August 3, 2020

भाजपा उत्तराखंड में 5 अगस्त को दीपमाला प्रकाशित कर मनाएगी उत्सव -

Monday, August 3, 2020

ऋषिकेश : दुर्घटना में चोटिल मां-बेटे को स्पीकर ने अपनी गाड़ी पहुंचाया अस्पताल -

Monday, August 3, 2020

उत्तराखंड: राजभवन में दो साल से मुसीबत का सबब बना उत्पाती बंदर रेस्क्य टीम ने दबोचा -

Monday, August 3, 2020

उत्तराखंड: आज इस जिले में मिले कोरोना के 100 से अधिक मरीज, जानिए खबर -

Monday, August 3, 2020

भाषा बोली किसी भी संस्कृति एवं सभ्यता का होता है आईना : मंत्री प्रसाद नैथानी -

Sunday, August 2, 2020

रक्षाबन्धन : आंगनबाड़ी और आशा कार्यकत्रि के खाते में एक-एक हजार रुपये की सम्मान राशि मिलेगी -

Sunday, August 2, 2020

उत्तराखंड: आज इन जिलों में मिले कोरोना के अधिक मरीज, जानिए खबर -

Sunday, August 2, 2020

पाताल से भी ढूढ निकालेंगे रिया चक्रवर्ती को : बिहार पुलिस -

Sunday, August 2, 2020

देहरादून : सार्वजनिक स्थानों पर मास्क न पहनने पर 532 लोगों का चालान किया -

Sunday, August 2, 2020

उत्तर प्रदेश : कैबिनेट मंत्री कमल रानी वरुण की कोरोना से मौत -

Sunday, August 2, 2020

पर्यावरण संरक्षण भी देश प्रेम व राष्ट्र सेवाः राज्यपाल

देहरादून । पर्यावरण संरक्षण प्रत्येक नागरिक का कर्तव्य है। पर्यावरण संरक्षण भी देश प्रेम व राष्ट्र सेवा है। धार्मिक व अध्यात्मिक संस्थाएं भी पर्यावरण संरक्षण के लिये आगे आये। राज्यपाल बेबी रानी मौर्य ने गुरूवार को परमार्थ निकेतन ऋषिकेश में आयोजित श्री राम कथा में प्रतिभाग करते हुए यह विचार व्यक्त किये। राज्यपाल मौर्य ने कहा कि भारतीय अध्यात्म में प्रकृति, पेड़-पौधे, जल और नदियों को पूजा जाता है तथा प्रकृति के सानिध्य में रहने के लिये प्रेरित किया जाता है। वैदिक धर्म, संस्कृति व परम्पराएं हमेशा से ही पर्यावरण संरक्षण एवं जल संरक्षण के प्रति समर्पित रहे हैं। राज्यपाल ने कहा कि लोग रामकथा के श्रवण से शुद्ध अन्तःकरण से मानवता की सेवा के लिये प्रेरित होंगे ऐसी आशा है। देवभूमि उत्तराखण्ड में पाॅलिथीन मुक्त पर्यावरण व निर्मल गंगा हेतु सभी को प्रयास करने होंगे। भारत को विश्व गुरू बनाने हेतु सभी को दृढ़ सकंल्प लेना होगा। उन्होंने मातृ भाषा हिन्दी व संस्कृत भाषा के अधिकाधिक प्रयोग को प्रोत्साहित करने की बात भी कही। इस अवसर पर परमार्थ निकेतन के अध्यक्ष स्वामी चिदानन्द सरस्वती, कथावाचक मुरलीधर जी महाराज तथा अन्य गणमान्य लोग उपस्थित थे।

Leave A Comment