Breaking News:

अपने सपने : पर्यावरण बचाने हेतु बच्चो ने किया लोगो को जागरूक -

Thursday, July 19, 2018

बहाली की मांग को लेकर धरना-प्रदर्शन का 79वा दिन, जानिये खबर -

Thursday, July 19, 2018

ऋषि कपूर की फिल्म “मुल्क” को U/A सर्टिफिकेट, जानिये खबर -

Thursday, July 19, 2018

जिंदा रहने के लिए गुफा की चट्टानों से टपकते पानी का किया इस्तेमाल , जानिये खबर -

Thursday, July 19, 2018

सुप्रीम कोर्ट ने खोले महिलाओ के लिए सबरीमाला मंदिर का द्वार ,जानिये खबर -

Thursday, July 19, 2018

उत्तराखंड : जर्मन डेवलपमेंट बैंक स्वच्छ पेयजल और गंगा सफाई के लिए देगा 960 करोड़ -

Wednesday, July 18, 2018

गृह मंत्री राजनाथ सिंह से मिले मुख्यमंत्री त्रिवेन्द्र सिंह रावत -

Wednesday, July 18, 2018

डॉ. हाथी का रोल कर सकते हैं सतीश कौशिक, जानिये खबर -

Wednesday, July 18, 2018

100 का नया नोट होगा ऐसा , नोटों की छपाई शुरू -

Wednesday, July 18, 2018

एयर होस्टेस अनीशिया बत्रा की मौत मामले में आरोपी पति गिरफ्तार -

Wednesday, July 18, 2018

“स्पेशल बच्चों” का जीवन संवार रही है मणि , जानिये खबर -

Wednesday, July 18, 2018

खुलेगा सीबीएसई का ट्रेनिंग सेंटर देहरादून में , जानिये खबर -

Tuesday, July 17, 2018

अंतरिक्ष उपयोग केन्द्र के निदेशक के खिलाफ प्रदर्शन हुआ तेज , जानिए खबर -

Tuesday, July 17, 2018

विलुप्त हो रही संस्कृति के संरक्षण हेतु मेलों का हो आयोजन : मुख्यमंत्री -

Tuesday, July 17, 2018

18 युवकों से रचाई शादी,लुटेरी दुल्हन हुई गिरफ्तार -

Tuesday, July 17, 2018

मोदी व अमित शाह को खून से लिखा पत्र -

Tuesday, July 17, 2018

हरेला पर कोसी नदी के पुनर्जीवन अभियान का सीएम त्रिवेंद्र ने किया शुभारम्भ -

Monday, July 16, 2018

क्रोएशिया को हरा फ्रांस 20 साल बाद बना चैंपियन -

Monday, July 16, 2018

मोहम्मद शहजाद बसपा से निष्कासित, जानिये खबर -

Monday, July 16, 2018

लकवाग्रस्त बीरा को हेल्पेज ने दिया सहारा, जानिये खबर -

Monday, July 16, 2018

पर्वतीय क्षेत्रों में चिकित्सक दे अपनी सेवाएं :रावत

harish_rawat

मुख्यमंत्री हरीश रावत ने प्रदेश के सभी क्षेत्रों में स्वास्थ्य सेवाओं की उपलब्धता सुनिश्चित करने को कहा है। विशेष तौर पर पर्वतीय क्षेत्रों पर विशेषज्ञ चिकित्सकों की सुलभता पर ध्यान देने के निर्देश उन्होने दिए हैं। स्वास्थ्य केन्द्रो को सुविधायुक्त बनाने तथा उनमें आवश्यक उपकरणों की आपूर्ति सुनिश्चित करने के निर्देश भी उन्होने दिए है। बीजापुर अतिथि गृह में स्वास्थ्य मंत्री एवं उच्चाधिकारियों के साथ ही विश्व बैंक की स्वास्थ्य सहायता योजना से सम्बंधित विशेषज्ञों के साथ आयोजित बैठक को सम्बोधित करते हुए मुख्यमंत्री रावत ने कहा कि स्वास्थ्य से सम्बंधित कार्यक्रमों को व्यवहारिक बनाया जाय। पर्वतीय क्षेत्रों में चिकित्सक अपनी सेवाएं देने के लिए वहा रूक सके इसके लिए सभी आवश्यक व्यवस्था सुनिश्चित की जाए, डाक्टरों व स्वास्थ्य कर्मियों के लिए आवास सुविधा सहित अस्पतालों में बेहतर सुविधाए उपलब्ध हो इसका ध्यान रखा जाय। उन्होने विश्व बैंक के प्रतिनिधियों से इस सम्बंध में आवश्यक सहयोग की अपेक्षा की। उनका कहना था की पूर्व में पी.पी.पी. मोड़ में संचालित कतिपय स्वास्थ्य योजनाओं के सम्बंध में पूर्व का अनुभव सही नही रहा है। अतः अब इस दिशा में काफी सजगता व गंभीरता के साथ कदम बढ़ाए जाए। उन्होने कहा की बौराड़ी (टिहरी) व खटीमा (उ0सि0न0) में पीपीपी मोड़ पर स्वास्थय सेवाओं की उपलब्धता सुनिश्चित करने के लिए भी नियम व शर्ताे को और अधिक व्यवहारिक बनाया जाए ताकि आम आदमी को और अधिक बेहतर स्वास्थ्य सुविधा उपलब्ध हो सके।उन्होेने विश्व बैंक की सहायता से आपदा ग्रस्त जनपदों के विभिन्न स्थानों धारचूला, कपकोट, जोशीमठ, गुप्तकाशी व भटवाड़ी के स्वास्थ्य केन्द्रों पर चिकित्सकों व आवश्यक चिकित्सा उपकरणों को सुनिश्चित करने को कहा। सर्जन, गाईनोलाॅजिस्ट व एनेथीसिया के डाक्टरों की कमी को दूर करने की कार्ययोजना बनाने के निर्देश भी उन्होने दिए। बैठक में स्वास्थ्य मंत्री सुरेन्द्र सिंह नेगी, अपर मुख्य सचिव राकेश शर्मा, प्रमुख सचिव मा. मुख्यमंत्री, स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण ओम प्रकाश, अपर सचिव नीरज खैरवाल के साथ ही विश्व बैंक की वरिष्ठ स्वास्थ्य विशेषज्ञ शोमिल नागपाल आदि उपस्थित थे

Leave A Comment