Breaking News:

कोरोना से बचे : उत्तराखंड में आज कोरोना मरीजो की संख्या हुई 1153 आज 68 नए मरीज मिले -

Thursday, June 4, 2020

पांच जून को अधिकांश जगह बारिश की संभावना -

Thursday, June 4, 2020

कोरोना से बचे : उत्तराखंड में आज कोरोना मरीजो की संख्या हुई 1145 -

Thursday, June 4, 2020

जागरूकता और सख्ती पर विशेष ध्यान हो : सीएम त्रिवेंद्र -

Thursday, June 4, 2020

दुःखद : बॉलीवुड कास्टिंग निदेशक का निधन -

Thursday, June 4, 2020

वक्त का फेर : चैम्पियन तीरंदाज सड़क पर बेच रही सब्जी -

Thursday, June 4, 2020

कोरोना से बचे : उत्तराखंड में आज कोरोना मरीजो की संख्या 1085 हुई , 42 नए मरीज मिले -

Wednesday, June 3, 2020

अभिनेत्री ने जहर खाकर की खुदकुशी, जानिए खबर -

Wednesday, June 3, 2020

मुझे बदनाम करने की साजिश : फुटबॉल कोच विरेन्द्र सिंह रावत -

Wednesday, June 3, 2020

मोदी 2.0 : पहले साल लिए गए कई ऐतिहासिक निर्णय -

Wednesday, June 3, 2020

कोरोना से बचे : उत्तराखंड में कोरोना मरीजो की संख्या 1066 हुई -

Wednesday, June 3, 2020

सराहनीय पहल : एक ट्वीट से अपनों के बीच घर पहुंचा मानसिक दिव्यांग मनोज -

Tuesday, June 2, 2020

कोरोना से बचे : उत्तराखंड में कोरोना मरीजो की संख्या हुई 1043 -

Tuesday, June 2, 2020

उत्तराखंड : मुख्यमंत्री स्वरोजगार योजना में करें अब आनलाईन आवेदन -

Tuesday, June 2, 2020

10 वर्षीय आन्या ने अपने गुल्लक के पैसे देकर मजदूर का किया मदद -

Tuesday, June 2, 2020

उत्तराखंड में कोरोना मरीजो की संख्या 999 हुई, 243 मरीज हुए ठीक -

Tuesday, June 2, 2020

कोरोना से बचे : उत्तराखंड में आज कोरोना मरीजो की संख्या हुई 958 -

Monday, June 1, 2020

उत्तराखंड : कोरोना मरीजो की संख्या 929 हुई, चम्पावत में 15 नए मामले मिले -

Monday, June 1, 2020

जागरूकता: तंबाकू छोड़ने की जागरूकता के लिए स्वयं तत्पर होना जरूरी -

Monday, June 1, 2020

मदद : गांव के छोटे बच्चों को पढ़ा रही भावना -

Monday, June 1, 2020

पहल : मैड ने केरल के लिए जुटाई राहत सामग्री

MAD

 

देहरादून के शिक्षित छात्रों के संगठन मेकिंग ए डिफ्फरेंस बाई बींग द डिफ्फरेंस (मैड) ने इन दिनों केरल में आई भीषण बाढ़ से प्रभावित लोगों की सहायता करने के लिए कमर कस ली है। युवा छात्रों के इस संगठन ने शहर के नागरिकों के साथ मिल कर केरल के लिए राहत सामग्री एकत्रित कर उसे दिल्ली पहुचाने की कमर तोड़ मुहीम शुरू कर दी है। इस मुहीम के अंतर्गत छात्रों ने शहर भर में 24 जगह अपने राहत सामग्री केंद्र बनाए है जहां सभी शहर वासी अपना अभिदान दे सकते है। शहर वासियों ने मैड को ढेर सारी पानी की बोतलें, गैर विनाशशील खाद्य पदार्थ, नए वस्त्र, ड्राई फ्रूट्स, मेडिकल किट्स इत्यादि दान दिए है जिन्हें इन युवा छात्रों ने भली भाँति विभाजित कर छांट कर सावधानी से पैक कर, जन शताब्दी के माध्यम से दिल्ली में ऐम्स व केरल हाउस तक पहुचाया है। छात्रों के इस संगठन ने केदारनाथ आपदा में राहत सामग्री पहुचाने में अहम भूमिका निभाई थी। अपने उसी तजुर्बे के कारण छात्रों ने 2014 में जम्मू कश्मीर में आई भीषण बाढ़ में अपना योगदान दिया था व 2015 में नेपाल में आए भूकंप में भी दिल्ली में सत्यापित माध्यम से राहत सामग्री नेपाल पहुँचाई थी। उसी तजुर्बे को ध्यान में रखते हुए मैड ने इस बार भी सत्यापित माध्यमों से संपर्क साधा है ताकि दून वासियों द्वारा दी गई राहत सामग्री सुनिश्चित तौर पर केरल पहुच सके। इस अभियान में देहरादून में मैड के 35 स्वयंसेवक, व दिल्ली में 10 स्वयंसेवक तत पर कार्यरत है। मैड ने माननीय मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत जी से भी अपील की है कि वे देहरादून से हवाई सहायता प्रदान करें केरल में पानी का बहाव कम होने के कारण मैड अब इस मुहीम को आगे बढ़ाएगा व जल्द ही रोज़ मर्रा की ज़रूरतों के समान एकत्रित कर दिल्ली भेजेगा। मैड ने शहर वासियों से आग्रह किया है कि वे आगे आकर अपना सहयोग दें । स्वाति सिंह, आदर्श त्रिपाठी, शरद माहेश्वरी, राहुल गुरु, उत्कर्ष, शिव्या समेत अन्य मैड कार्यकर्ता इस अभियान के समन्वय कर रहे है।

Leave A Comment