Breaking News:

स्वामी हंसदेवाचार्य महाराज की अंतिम यात्रा में शामिल हुए सीएम -

Saturday, February 23, 2019

उत्तराखण्ड : प्रदेश में शुरू हुयी सीएम हेल्पलाईन 1905 -

Saturday, February 23, 2019

‘टोटल धमाल’ ने बॉक्स ऑफिस पर किया कमाल, जानिए खबर -

Saturday, February 23, 2019

पाकिस्तान के हर समान का हो बाॅयकाॅटः सतपाल महाराज -

Saturday, February 23, 2019

देहरादून : धरना स्थल बना अवैध पार्किंग -

Saturday, February 23, 2019

करीना कपूर खान बनीं ‘स्वस्थ इम्युनाइज्ड इंडिया’ कैम्पेन की एम्बेसेडर -

Friday, February 22, 2019

बाल मजदूरी कर रहे बच्चे को स्कूल में कराया दाखिला -

Friday, February 22, 2019

राज्यपाल बेबी रानी मौर्य ने शहीद मेजर विभूति व चित्रेश के घर जाकर व्यक्त की संवेदनाएं -

Friday, February 22, 2019

सीएम हेल्पलाईन 1905 बनेगी वरदान, जानिए ख़बर -

Friday, February 22, 2019

उत्तराखण्ड : नमामि गंगे के तहत 1354 करोड रूपए की परियोजनाओं का लोकार्पण व शिलान्यास -

Friday, February 22, 2019

उत्तराखण्ड में 5555 करोड़ की एनएच परियोजनाओं का लोकार्पण व शिलान्यास -

Thursday, February 21, 2019

डीएवीपी में उत्तराखंड की वेब पोर्टल्स को दी जाएगी विशेष छूट -

Thursday, February 21, 2019

सुभाष चन्द्र बोस के जन्म दिवस पर राष्ट्रीय अवकाश घोषित करें सरकार : जयदीप मुखर्जी -

Thursday, February 21, 2019

मुख्यमंत्री एप पर शिकायत और विशाल को वापस मिली चोरी हुई मोटरसाइकल -

Thursday, February 21, 2019

उत्तराखंड में वेरिफिकेशन के बाद मिलेगा कश्मीरी छात्रों को दाखिलाः मंत्री धन सिंह -

Thursday, February 21, 2019

वर्ल्ड कप 2019 : भारत-पाकिस्तान मैच पर हो सकती है चर्चा? -

Thursday, February 21, 2019

सलमान खान लेंगे कपिल शर्मा के खिलाफ ऐक्शन, जानिए खबर -

Thursday, February 21, 2019

मनाया जा रहा उत्तराखण्ड में वर्ष 2019 रोजगार वर्ष के रूप में, जानिए खबर -

Wednesday, February 20, 2019

दून में फ्लाईओवरों के नाम शहीदों के नाम पर रखे जाएंः यूकेडी -

Wednesday, February 20, 2019

उत्तराखण्ड के युवाओं को रोजगार के अवसर प्रदान करना सीएम त्रिवेन्द्र की प्राथमिकता, जानिए खबर -

Wednesday, February 20, 2019

पिता ने जिस बेटी को अभिशाप माना उसे माँ ने आईएएस बनाया

geeta-devi

जब चाहत हो जज्बा अपने आप आ ही जाता है | ऐसे ही एक कारनामा हुआ है कानपुर के विराट नगर में | एक लड़का होने के बावजूद दूसरे बेटे की चाहत में एक के बाद एक तीन बेटियां, पति के ताने-झगड़े झेल रही गीता को अचानक एक दिन ये एहसास हुआ, ”मैं ये सब क्यों बर्दाश्त कर रही हूँ, बेटियों की वजह से? मैं नहीं पढ़ी लेकिन इनको पढ़ाऊंगी, ये मेरी कमज़ोरी नहीं ताकत बनेंगी।” मेहनत रंग लाई, गीता देवी यादव (49 वर्ष) की सबसे बड़ी बेटी पूजा आईएएस बन गई है।जुलाई मेें जब देश के सबसे बड़े प्रशासनिक पद आईएएस की परीक्षाओं का नतीजा आया, तो पूजा अग्निहोत्री (24 वर्ष) यह परीक्षा पास कर चुकी थी। वर्तमान में गाजि़याबाद में अपने पति के साथ रह रही पूजा ने कानपुर में रह रही अपनी माँ को फोन करके बताया तो गीता के मन में संतुष्टि का भाव आया, ”मेरा सारा संघर्ष, सारी मेहनत सफल हो गई”।पूजा के आईएएस बनने में उसकी अपनी मेहनत तो कारण है ही लेकिन माँ गीता का योगदान सफलता की प्राथमिक नींव बना। मतभेदों के चलते पति से बनती नहीं थी, गीता ने गैर सरकारी संगठन से जुड़कर गाँव-गाँव जाकर परिवार नियोजन की जागरूकता फैलाने का काम करके, रज़ाई सिलना, चारपाई बांधने जैसे काम करके मिले पैसों से अपने बच्चों का पालन-पोषण किया और उन्हें शिक्षा दिलवाई। ”बेटे के बाद तीन साल के अंतर पर बेटी हुई, फिर तीन साल के अंतर बाद दूसरी बेटी हो गई। आखिरी बेटी के समय सबको आशा थी कि बेटा होगा, लेकिन वो भी जब बेटी ही हुई तो मुझे एक हफ्ते तक खाना भी नहीं दिया गया।” गीता आगे बताती हैं, ”इसके बाद कई वर्षों तक पति के साथ लड़ाई-झगड़ा चलता रहा। पति रोडवेज़ में ड्राइवरी करते हैं वो तीन दिन में आते थे, सोते रहते, उनसे घर गृहस्थी से कोई मतलब नहीं रहा”।अभी मैं रिजर्व कैंडिडेट लिस्ट में हूं। अभी रिजर्व लिस्ट वालों के लिए ट्रेनिंग शेड्यूल प्लान नहीं किया गया है। अभी हम ट्रेनिंग शुरू होने का इंतजार कर रहे हैं। जहां तक रही बात मां की तो मां मेरा आदर्श हैं। उन्होंने न सिर्फ एक अच्छी दोस्त और अच्छी टीचर का रोल निभाया बल्कि पिता के भी कर्तव्य निभाए। मेरे हर फैसले और रिश्तों में उन्होंने मेरा साथ दिया। जब भी मैं कमजोर या उदास महसूस करती थी मेरी मां ही मेरा सहारा बनती थीं।

Leave A Comment