Breaking News:

उत्तराखंड में पांच और कोरोना पॉजिटिव मामले सामने आए, संक्रमित मरीजों की संख्या हुई 31 -

Monday, April 6, 2020

सीएम ने उत्तराखंड के जवानों की शहादत को नमन किया -

Monday, April 6, 2020

उत्तराखंड : मुख्यमंत्री कैम्प कार्यालय में बेहतर समन्वय के लिए बनाया गया कंट्रोल रूम -

Monday, April 6, 2020

पौड़ी : पाबौ में चट्टान से गिरने से महिला की मौत -

Monday, April 6, 2020

जुबिन नौटियाल ने ऑनलाइन शो से कोरोना फाइटर्स को कहा थैंक्यू -

Monday, April 6, 2020

अनूप नौटियाल व डा. दिनेश चौहान रहे कोरोना वाॅरियर -

Monday, April 6, 2020

पहल : देहरादून में 7745 भोजन पैकेट वितरित किये गये -

Sunday, April 5, 2020

सीएम त्रिवेन्द्र ने परिवार संग दीप जला कर हौसला बढाने का दिया सन्देश -

Sunday, April 5, 2020

उत्तराखंड में चार और कोरोना पाॅजीटिव मामले सामने आए, संख्या 26 हुई -

Sunday, April 5, 2020

दुःखद : जंगल की आग में जिंदा जली दो महिलाएं -

Sunday, April 5, 2020

आम आदमी की रसोईः जरूरतमंदों को दे रही भोजन और राशन -

Sunday, April 5, 2020

5 अप्रैल को रात 9 बजे 9 मिनट के लिए अपने घरों में लाईट बंद कर दीपक जलाए : सीएम त्रिवेंद्र -

Saturday, April 4, 2020

लापता व्यक्ति का शव पाषाण देवी के मंदिर पास झील से बरामद हुआ -

Saturday, April 4, 2020

देहरादून : स्वयंसेवी संस्थाओं के सहयोग से 9482 भोजन पैकेट वितरित किये गये -

Saturday, April 4, 2020

उत्तराखंड में कोरोना पॉजिटिव मामलों की संख्या हुई 22 -

Saturday, April 4, 2020

सोशियल पॉलीगोन ग्रुप ऑफ कंपनी ने मुख्यमंत्री राहत कोष में 5 लाख का चेक दिया -

Saturday, April 4, 2020

लॉकडाउन : रचायी जा रही शादी पुलिस ने रुकवाई, 15 लोगों पर मुकदमा दर्ज -

Friday, April 3, 2020

उत्तराखंड : त्रिवेन्द्र सरकार ने कोरोना वायरस से निपटने के लिए जारी किये 85 करोङ रूपए -

Friday, April 3, 2020

ऋषियों का मूल मंत्र ’तमसो मा ज्योतिर्गमय’ एक अद्भुत आइडियाः स्वामी चिदानन्द सरस्वती -

Friday, April 3, 2020

आम आदमी पार्टी के कार्यकर्ताओं ने किया रक्तदान -

Friday, April 3, 2020

पुण्यतिथि पर याद किए गए पूर्व राष्ट्रपति एपीजी अब्दुल कलाम

abdul_kalam

देहरादून। मिसाइल मैन के रूप में प्रसिद्ध वैज्ञानिक और पूर्व राष्ट्रपति ए पी जे अब्दुल कलाम को चौथी पुण्यतिथि पर देहरादून में उन्हें याद किया गया। उत्तराखंड विज्ञान शिक्षा एवं अनुसंधान केंद्र(यूसर्क) के सभागार में भारतीय विज्ञान लेखक संघ और विज्ञान के सरोकार से जुड़ी श्पहलश् संस्था द्वारा यह गोष्ठी आयोजित की गई। यूसर्क द्वारा गोष्ठी का सीधा प्रसारण यूसर्क से सम्बद्ध साइंस इंस्टिट्यूट, विद्यालय के छात्रों के लिए ई नेटवर्किंग के जरिये किया गया। गोष्ठी में प्रसिद्ध वैज्ञानिक और कलाम के मित्र डॉ. धीरेंद्र शर्मा ने कहा कि मिसाइलमैन कलाम एक गैर राजनीतिक सोच वाले इंसान थे। जिन्होंने नई पीढ़ी को तराशने, भारत को सशक्त, सामर्थ्यवान बनाने में अहम भूमिका अदा की। वे उच्चकोटि के वैज्ञानिक के साथ ही सफल मार्गदर्शक, अच्छे प्रशासक, कवि संगीतकार व प्रकृति प्रेमी भी थे।  गोष्ठी के मुख्य वक्ता राष्ट्रीय कवि व कलाम के सुरक्षा अधिकारी रह चुके राधाकृष्ण पन्त ने कहा कि कलाम एक महान वैज्ञानिक होने के साथ ही एक आदर्श राष्ट्रपति व युवाओं के प्रेरणा स्रोत रहे हैं। वे एक असाधारण व्यक्तित्व के असाधारण व्यक्ति थे। वे राष्ट्र निर्माण और मानव कल्याण के लिए जीवन भर अंतिम सांस तक समर्पित रहे। सचमुच में उन्हें भारत का मसीहा कहा जाए तो अतिशयोक्ति नही होगी। उन्होंने कहा कि कलाम ने जब यह जाना कि वे उत्तराखंड के रहने वाले हैं तो उन्होंने पहाड़, गंगा और वहां के पर्यावरण पर कविताएं लिखने के लिए उन्हें प्रेरित किया। उनके सरल स्वभाव के बारे में बताते हुए उन्होंने उनपर लिखी कविता का सस्वर पाठ भी किया । राधाकृष्ण पंत ने उनसे जुड़े कई संस्मरण भी साझा किए। पहल संस्था की अध्यक्ष कमला पंत ने कवि राधाकृष्ण पंत का परिचय कराया। समापन पर धन्यवाद ज्ञापन डा ओपी नौटियाल द्वारा किया गया।इस अवसर पर डॉ पीपी पैन्यूली, एसके अग्रवाल, चंद्रशेखर तिवारी,कमल पांडे, सुंदर सिंह बिष्ट, एसके गुप्ता, डा भावतेश शर्मा, डा ओपी नोटियाल, पुष्पा पंत, डा मंजू सुंदरियाल,तौकीर अहमद,आईबी कोचगवे, अंजलि अग्रवाल, रमेश सिंह रावत, विधु कौडियाल, राकेश सेमवाल, आरती बिष्ट, नीतू रावत, आलोक सिंह, शिवानी पोखरियाल, डा हरीश बहुगुणा समेत यूसर्क के वैज्ञानिक व पहल के सदस्य भी उपस्थित थे। कार्यक्रम का सफल संचालन डॉ एम एन जोशी ने किया।

Leave A Comment