Breaking News:

कोरोना योद्धा हुए सम्मानित, जानिए खबर -

Friday, September 18, 2020

उत्तराखंड: प्रदेश में कोरोना मरीजो की संख्या 38 हज़ार पार , जानिए खबर -

Friday, September 18, 2020

जनता से किए 85 फीसदी वायदे किये पूरे : सीएम त्रिवेंद्र -

Friday, September 18, 2020

किस अभिनेत्री ने कही यह बात , मेरा मीडिया ट्रायल ना किया जाए -

Friday, September 18, 2020

एसबीआई : एटीएम से दस हज़ार से अधिक की राशि निकालने पर यह नियम लागू, जानिए खबर -

Friday, September 18, 2020

उत्तराखंड: प्रदेश में कोरोना मरीजो की संख्या पहुँची 37139 , जानिए खबर -

Thursday, September 17, 2020

कैबिनेट बैठक : सरकार ने व्यावसायिक वाहनों के टैक्स में छूट तीन माह तक बढ़ाया -

Thursday, September 17, 2020

कुपोषण मुक्त बच्चों के अभिभावकों को सीएम त्रिवेंद्र ने किया सम्मानित -

Thursday, September 17, 2020

शिकागो के अर्थशास्त्री राज साह ने भेंट की स्मृति पट्टिका, जानिए खबर -

Thursday, September 17, 2020

भारत : देश मे कोरोना मरीजो की संख्या पहुँची 50 लाख के पार, जानिए खबर -

Thursday, September 17, 2020

सीएम त्रिवेंद्र ने पीएम नरेन्द्र मोदी को उनके जन्मदिन पर दी बधाई -

Thursday, September 17, 2020

नेक कार्य : लावारिस अस्थियों को मां गंगा में पूर्ण वैदिक विधि विधान से किया विसर्जित -

Thursday, September 17, 2020

“राजयोग में साइलेंस की शक्ति और डिप्रेशन से मुक्ति’’ पुस्तक का सीएम त्रिवेंद्र ने किया लोकार्पण -

Wednesday, September 16, 2020

उत्तराखंड: प्रदेश में आज 1540 नए कोरोना मरीज मिले , जानिए खबर -

Wednesday, September 16, 2020

सेवा सप्ताह कार्यक्रम : रक्तदान शिविर का हुआ आयोजन -

Wednesday, September 16, 2020

उत्तराखंड : जनता के लिए ‘अपणि सरकार’ पोर्टल जल्द -

Wednesday, September 16, 2020

बयानबाजी में ड्रग्स का मुद्दा कही छूट न जाये , जानिए खबर -

Wednesday, September 16, 2020

दिनदहाड़े अज्ञात बदमाशों ने कचहरी में अधिवक्ता को मारी गोली -

Wednesday, September 16, 2020

त्रिवेंद्र सरकार ने आम जनता के सुविधाओ में लायी तेज़ी, जानिए खबर -

Wednesday, September 16, 2020

अभी इंसानियत जिंदा है मेरे भाई …, जानिए खबर -

Tuesday, September 15, 2020

प्यार एक एहसास……..

प्यार को हर इंसान अपने-अपने ढंग से परिभाषित करने का प्रयत्न करता है| प्यार की गहराई और इसकी उठती हुई तरंगों को संवाद के जरिए व्यक्त कर पाना उतना ही कठिन है जितना सूरजm को अपलक देखने की कोशिश करना| प्यार वह शब्द है जिस पर सदियों से शायरों,कवियों, गीत कारों और लेखकों ने अपनी लेखनी न चलाई हो, लेकिन प्यार के संदर्भ में सार्थक लेखन किए जाने के बावजूद किसी भी बुद्धिजीवी या संत के द्वारा आज तक प्यार की सर्वमान्य परिभाषा नहीं लिखी जा सकी| क्योंकि प्यार इंसान के मन कि वह अभिव्यक्ति है जो कहने सुनने से ज्यादा समझने की शक्ति रखती है| यह भी कह सकते हैं कि समझने से ज्यादा महसूस करने की क्षमता रखती है| हम यह बात अच्छी तरह से जानते हैं कि प्यार मानव जीवन की बुनियाद है| प्यार के बिना इंसान सार्थक और सुखी जीवन की कल्पना नहीं कर सकता| इसलिए यह बात बिल्कुल स्पष्ट है प्यार की परिभाषा को शब्दों से बयां नहीं किया जा सकता| लिहाजा सारे शब्दों का अर्थ जहां जाकर अर्थ विहीन हो जाता है वही से प्यार का अंकुर जन्म लेता है| प्यार एक मधुर और सुखद एहसास मात्र है इसलिए प्यार की मादकता भरी खुशबू को सिर्फ और सिर्फ महसूस किया जा सकता है| इसलिए प्यार का विश्लेषण करने वालों ने मधुर एहसास की भाषा को शब्द विहीन भाषा की संज्ञा दी| प्यार को शब्द रूपी मोतियों की मदद से भावना की डोर में पिरोया जा सकता है लेकिन उसकी व्याख्या नहीं की जा सकती, जिसकी व्याख्या की जाती है या जिस को परिभाषित किया जा सकता है तो वह चीज दायरे में सिमट कर रह जाती है, जबकि प्यार तो सर्वत्र है और प्यार के बगैर इंसान का जीवन कोरी कल्पना मात्र है| प्यार इंसान की आत्मा में पलने वाला एक पवित्र भाव है, यह सच है कि दिल में उठने वाली भावनाओं को आप बहुत अच्छी तरह से बयान कर सकते हैं, लेकिन यदि आपके दिल में किसी के प्रति प्यार है तो उसे आप अभिव्यक्त नहीं कर सकते क्योंकि यह सिर्फ एक एहसास है, और एहसास बेजुबान होता है | प्यार की कोई भाषा नहीं होती प्यार में बहुत शक्ति होती है इसकी मदद से बहुत कुछ संभव है; यह एक जीता जागता उदाहरण है प्यार की बेजुबान भाषा जानवर भीअच्छी तरह से समझते हैं| प्यार कब कहां और किस से हो जाए इसके बारे में कुछ भी नहीं कहा जा सकता, क्योंकि जहां प्यार है वहां समर्पण है और जहां समर्पण है वहां अपनेपन की भावना जागृत होती है| फिर तो यह बात बिल्कुल सत्य है जहां पर अपनेपन की भावना रूपी उपजाऊ जमीन होती है वही प्यार के बीज अंकुरित होने की संभावना प्रबल हो जाती है| अंत में मैं यही कहना चाहूंगा विशुद्ध प्रेम वही है जिसके बदले में पाने की लालसा निषेध है| आत्मा की गहराई तक विद्यमान आसक्ति सच्चे प्यार का प्रमाण है |ले

– लेखक एवं पत्रकार सलीम रजा

Leave A Comment