Breaking News:

उत्तराखण्ड राज्य बेहतर फिल्म अनुकूल पर्यावरण के लिए विशेष उल्लेख पुरस्कार के लिए चयनित -

Thursday, April 19, 2018

सहारा समूह को सुप्रीम कोर्ट से मिली राहत, अपनी पसंद की संपत्ति बेचने का मिला अधिकार -

Thursday, April 19, 2018

सुप्रीम कोर्ट ने जज लोया की मौत से जुड़ी जांच याचिकाएं खारिज की -

Thursday, April 19, 2018

जब तक प्रधानमंत्री मेरी मांगें नहीं मानेंगे, मैं अनशन नहीं तोड़ूंगी: स्वाति -

Thursday, April 19, 2018

थाईलैण्ड यात्रा से राज्य में निवेश वृद्धि प्रबल : सीएम -

Thursday, April 19, 2018

भारत की ‘‘लुक ईस्ट’’ और थाईलैण्ड की ‘‘लुक वेस्ट’’ नीति एक दूसरे की पूरक : सीएम -

Wednesday, April 18, 2018

चारधाम यात्रा शुरू, गंगोत्री और यमुनोत्री धाम के कपाट खुले -

Wednesday, April 18, 2018

“इण्डिया स्किल उत्तराखण्ड” पहुँचा ग्राफिक एरा यूनिवर्सिटी, जानिए ख़बर -

Wednesday, April 18, 2018

प्रधानमंत्री मोदी मिले ब्रिटेन की पीएम से -

Wednesday, April 18, 2018

आप के राघव चड्ढा ने 2.5 रुपये मेहनताना गृह मंत्रालय को लौटाया -

Wednesday, April 18, 2018

BCCI भी आएगी RTI के दायरे में , लाॅ कमीशन ने की सिफारिश -

Wednesday, April 18, 2018

देवभूमि डायलॉग : 20 अप्रैल को मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र युवाओं से करेंगे सीधा संवाद -

Wednesday, April 18, 2018

दिल्ली गैंगरेपः 20 लाख में माता-पिता ने किया आरोपियों से सौदा -

Tuesday, April 17, 2018

आसाराम केस : जेल में ही सुनाया जाएगा हाईकोर्ट का फैसला -

Tuesday, April 17, 2018

बैंकाॅक में सीएम त्रिवेंद्र ने उत्तराखंड राज्य को दिलाई एक नई पहचान -

Tuesday, April 17, 2018

जम्मू-कश्मीर सरकार में शामिल बीजेपी के सभी मंत्रियों ने पार्टी अध्यक्ष को दिए इस्तीफे -

Tuesday, April 17, 2018

गृह मंत्रालय ने दिल्ली सरकार के 9 सलाहकारों को हटाया, केजरीवाल को झटका -

Tuesday, April 17, 2018

देश के कई शहरों के ATM खाली , हालात जल्द होंगे सामान्य -

Tuesday, April 17, 2018

आ सकते है एनसीईआरटी के दायरे में आइसीएसई बोर्ड के स्कूल, जानिए ख़बर -

Monday, April 16, 2018

मुख्यमंत्री एप पर शिकायत और मिली मृतक आश्रित को नियुक्ति -

Monday, April 16, 2018

प्रदेश में पर्यटन को बढ़ावा देना हमारी प्राथमिकताओ में से एक : सीएम

देहरादून | राजपुर रोड स्थित होटल में प्रदेश के होटल एवं रेस्टोरेंट व्यवसायियों द्वारा उनकी समस्याओं के त्वरित निवारण करने के लिये मुख्यमंत्री त्रिवेन्द्र सिंह रावत का आभार व्यक्त कर उन्हें सम्मानित किया। इस अवसर पर मुख्यमंत्री  त्रिवेन्द्र सिंह रावत ने कहा कि हमारा उद्देश्य प्रदेश में पर्यटन को बढ़ावा देना है। होटल व्यवसाय पर्यटन से जुड़ा एक माध्यम है, इसके लिये इस क्षेत्र को कई रियायतें दी गई है। यह निर्णय राज्यहित से भी जुड़ा है। मुख्यमंत्री ने कहा कि एक अन्तर्राष्ट्रीय अध्ययन में यह तथ्य भी उजागर हुआ है कि यदि हम 10 लाख रूपये का निवेश क्रमशः उद्योग, खेती व होटल व्यवसाय में करते है तो उद्योग से 18, खेती से 38 तथा होटल व्यवसाय से 78 प्रतिशत लोगों को रोजगार से जोड़ते हैं। पर्यटन को बढ़ावा देने के लिये 13 जिले, 13 नये टूरिज्म डेस्टिनेशन की दिशा में हम कार्य कर रहे हैं। मसूरी, नैनीताल तो सेचुरेट हो चुके है। अब नये पर्यटन गतव्य हमें तलाशने है। ऋषिकेश में आईडीपीएल की 900 एकड़ जमीन राज्य सरकार को मिल गयी है। यहां पर 700 एकड़ में अन्तर्राष्ट्रीय स्तर का कान्वोकेशन सेन्टर के साथ ही 05 बड़े होटल, योग वेलनेस सेन्टर आदि विकसित किये जायेंगे। अभी तक भारत में केवल हैदराबाद में तथा विदेश में स्विटजरलैंड में ऐसा सेन्टर है इससे देश व दुनिया के लोग ऋषिकेश से जुडेंगे। हरिद्वार, ऋषिकेश के मध्य गंगा किनारे विभिन्न योजनाओं पर भी कार्य किया जा रहा है। आॅल वेदर रोड, बद्रीनाथतक रेल सुविधा जैसी योजनाओं के साथ ही उड़ान योजना के तहत 05 बड़ी व 22 छोटी हवाई पट्टियों के निर्माण से वायु यातायात की बेहतर सुविधा उपलब्ध होगी तथा पर्यटन विकास के नये द्वार खुलेंगें। टिहरी झील को भी विश्वस्तरीय पर्यटन डेस्टिनेशन बनाने के हमारे प्रयास है। अगले महिने वहां पर टिहरी महोत्सव का आयोजन किया जायेगा। केदारनाथ में आदि अनन्त शिव का लेजर शो आयोजित किया जा रहा है। इसमें मन्दिर की दीवारों पर लेजर शो के माध्यम से शिव के प्रकटोत्सव की जीवन्त प्रस्तुति दी जायेगी। इसमें 30 टन सामान, 10 दिन में केदारनाथ पहुंचाया जायेगा। यह कार्य एक यजमान अपने व्यय पर कर रहे है। मुख्यमंत्री ने कहा कि होटल व्यवसायियों के हित में बिजली का व्यय मीटर के आधार पर निर्धारित किया गया है। पहले यह फिक्स रहता था। मुख्यमंत्री ने कहा कि देहरादून में सूर्यधार, सौंग व हल्द्वानी में जमरानी के साथ ही पंचेश्वर बांध के माध्यम से देहरादून, हल्द्वानी व ऊधमसिंहनगर को ग्रेविटी का पानी उपलब्ध कराने की कार्ययोजना तैयार की गई है। इससे भूजल स्तर में आ रही कमी दूर होने के साथ ही बिजली के व्यय पर होने वाली करोड़ों की धनराशि की बचत होगी। उन्होंने कहा कि भविष्य की आश्यकताओं के दृष्टिगत ये योजनायें बनायी जा रही है। हमारा विश्वास केवल घोषणा करने में नही, बल्कि धरातल पर दिखायी देने वाली योजनाओं व कार्यों के क्रियान्वयन पर है। उन्होंने होटल व्यवसायियों से प्रदेश में पर्यटन व्यवसाय को और अधिक गति प्रदान करने के लिये अपने सुझाव देने को कहा।

Leave A Comment