Breaking News:

पाकिस्तान से क्रिकेट पर शर्तों के साथ प्रतिबंध नहीं होना चहिए -

Wednesday, September 19, 2018

2500 बच्चियों को शिक्षा के लिए 90 दिन में तय करेंगे 6 हजार किमी -

Wednesday, September 19, 2018

‘मेंटल है क्या’ की राइटर का खुलासा, जानिए खबर -

Wednesday, September 19, 2018

फर्जी प्रमाणपत्रों के जरिए फर्जी तरीके से नौकरी कर रहे हैं कई लोगः चौहान -

Wednesday, September 19, 2018

हर मुद्दे पर विधानसभा में चर्चा को तैयार सरकार : सीएम -

Wednesday, September 19, 2018

भारतीय सेना में चयनित लेफ्टिनेंट मालविका रावत को सीएम त्रिवेंद्र ने किया सम्मानित -

Wednesday, September 19, 2018

उत्तराखंड विधानसभा सत्र : अनेक मुद्दों पर हुई चर्चा -

Tuesday, September 18, 2018

26 सालों से मंदिर की देखभाल कर रहे हैं मुसलमान -

Tuesday, September 18, 2018

हर बाधाओं को पार कर हमारे खिलाड़ियों ने पायी सफल -

Tuesday, September 18, 2018

अनुष्का शर्मा ने खोला वरुण धवन का राज! -

Tuesday, September 18, 2018

देहरादून के निर्माता ओम प्रकाश भट्ट ने किया मुंबई में प्रोडक्शन हाउस का लांच -

Tuesday, September 18, 2018

प्राइमरी स्कूली बच्चों संग पीएम मोदी ने मनाया जन्मदिन -

Tuesday, September 18, 2018

चिन्यालीसौड़ में मुख्यमंत्री ने किया आर्च पुल का लोकार्पण -

Monday, September 17, 2018

कश्मीर से लेकर कन्याकुमारी तक ‘खून का रिश्ता’ -

Monday, September 17, 2018

अटल जी का मार्गदर्शन उनकी कविताओं और विचारों के माध्यम से देश को हमेशा रहेगा मिलता: सीएम -

Monday, September 17, 2018

रवि शास्त्री को कोच पद से हटाने की मांग, जानिये खबर -

Monday, September 17, 2018

गौमाता को सम्मान दिलाने के लिए सभी कृष्ण भक्त आगे आएंः गोपाल मणि महाराज -

Monday, September 17, 2018

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी को सीएम त्रिवेन्द्र ने जन्मदिन की दी हार्दिक बधाई -

Sunday, September 16, 2018

बॉक्सिंग: पोलैंड में जूनियर लड़कियों ने जीते गोल्ड -

Sunday, September 16, 2018

उत्तराखंड नेक्स्ट टाॅप माॅडल बने आयुषी व निखिल -

Sunday, September 16, 2018

बच्चों का नियमित स्वास्थ्य जांच हो :रावत

cm-cs

मुख्यमंत्री हरीश रावत की पहल पर षुरू की गई खिलती कलियां कार्यक्रम के तहत अतिकुपोशित बच्चों की जिम्मेदारी शासन-प्रशासन के अधिकारियों द्वारा ली गई है। मुख्यमंत्री रावत द्वारा स्वयं इस कार्यक्रम के तहत बच्चों की जिम्मेदारी ली गई है। ऐसे ही अनिकेत नाम के एक बच्चे की जिम्मेदारी क्षमा बहुगुणा, बाल विकास परियोजना अधिकारी द्वारा ली गई है। बाल विकास परियोजना अधिकारी श्रमा बहुगुणा ने बताया कि इसे बच्चे का खिलती कार्यक्रम के तहत पंजीकरण कराने के बाद से नियमित स्वास्थ्य जांच आदि की जाती रही है। अनिकेत का माह सितम्बर 2015 में वजन (7.00 किलोग्राम) लेने पर यह अतिकुपोशित श्रेणी मे आने पर 10 सितम्बर 2015 को स्वास्थ्य टीम द्वारा स्वास्थ्य परीक्षण करवाया गया। इसके बाद जांच में पाया गया कि बच्चें को हदय संबन्धी समस्या होने पर फोर्टिज में संदर्भित किया गया। फोर्टिज अस्पताल में बच्चें की 10.9.2015 सें 12.9.2015 सभी जांच की गई, जिसमे प्राप्त रिर्पोट में पाया गया कि अनिकेत के दिल में छेद अन्य समस्या भी थी है। इस संबंध में प्रमुख सचिव महिला सषक्तीकरण एवं बाल विकास राधा रतूड़ी और निदेशक आई.सी.डी.एस. ज्योति नीरज खैरवाल को जानकारी दी गई। प्रमुख सचिव राधा रतूड़ी द्वारा मुख्यमंत्री को इस संबंध में अवगत कराया गया, जिस पर मुख्यमंत्री रावत ने तत्काल निर्देश दिये कि बच्चे को बेहतर से बेहतर उपचार शीघ्र उपलब्ध कराया जाय। उपचार पर होने वाला पूरा व्यय राज्य सरकार द्वारा व्यय किया जायेगा। इसके बाद बच्चे की गम्भीर स्थिति को देखते हुए 22 सितम्बर 2015 को फोर्टिज में भर्ती किया गया, जहाॅं पर 23 सितम्बर 2015 को आपरेषन किया गया। आपरेषन के उपरान्त बच्चे की गम्भीर स्थिति को देखते हुए जीवन सुरक्षा प्रणाली में रखा गया।

Leave A Comment