Breaking News:

स्टेडियम में रंगारंग कार्यक्रमों ने बांधा समां -

Monday, November 12, 2018

एनाटाॅमिकल सोसायटी आॅफ इंडिया ने उत्कृष्ठ कार्य करने वालों को किया सम्मानित -

Monday, November 12, 2018

रेसलर को ललकारना राखी सावंत को पड़ा महंगा ,जानिए ख़बर -

Monday, November 12, 2018

निकाय चुनाव : कांग्रेस ने अपना दृष्टिपत्र किया जारी -

Monday, November 12, 2018

नगर निगम चुनाव : प्रेक्षकों को दिशा निर्देश जारी -

Monday, November 12, 2018

यूथ आईकॉन अवार्ड 2018 से “सोशल” सम्मानित -

Sunday, November 11, 2018

मेयर प्रत्याशी सुनील उनियाल गामा ने जनसंपर्क कर मांगे वोट -

Sunday, November 11, 2018

नहाय-खाय के साथ छठ पर्व का शुभारम्भ -

Sunday, November 11, 2018

भारत और पाकिस्तान आज फिर होंगे आमने सामने, जानिए खबर -

Sunday, November 11, 2018

जल्द रिलीज होगा रणवीर की फिल्म ‘सिंबा’ का ट्रेलर -

Sunday, November 11, 2018

डब्ल्यूआईसी: किड्स फैशन शो ‘डैजल’ का आयोजन -

Saturday, November 10, 2018

देव संस्कृति विश्वविद्यालय में राज्यपाल ने किया शौर्य दीवार का अनावरण -

Saturday, November 10, 2018

व्हाट्सएप ग्रुप पर सुसाइड नोट पोस्ट और शव पेड़ पर मिला लटका -

Saturday, November 10, 2018

आइटीबीपी का उत्तराखंड से अटूट रिश्ता….. -

Saturday, November 10, 2018

बजरंग पूनिया बने दुनिया के नंबर एक पहलवान -

Saturday, November 10, 2018

‘भारत’ फिल्म की फाइनल शूटिंग के लिए पंजाब पहुंचे सलमान -

Saturday, November 10, 2018

शीतकाल के लिए केदारनाथ और यमुनोत्री धाम के कपाट हुए बंद -

Saturday, November 10, 2018

उत्तराखंड : “मैड” ने की प्लास्टिक की घर वापसी -

Friday, November 9, 2018

उत्तराखंड में आ रहा परिवर्तन ……… -

Friday, November 9, 2018

गाय को बचाने के लिए नहर में लगाई, जानिए खबर -

Friday, November 9, 2018

बच्चों की शिक्षा हमारी सर्वोच्च प्राथमिकता होनी चाहिए : सीएम

UK-CM

देहरादून | मुख्यमंत्री त्रिवेन्द्र सिंह रावत ने शिक्षकों से शिक्षा के विकास व उन्नयन पर विशेष ध्यान देने की अपेक्षा की है। किसी बच्चे की शिक्षा का अहित न हो शिक्षकों को इसका भी ध्यान रखना चाहिए। बच्चों की शिक्षा हमारी सर्वोच्च प्राथमिकता होनी चाहिए। स्थानीय लक्ष्मण इण्टर कालेज में आयोजित राजकीय शिक्षक संघ के चतुर्थ द्विवार्षिक अधिवेशन को सम्बोधित करते हुए मुख्यमंत्री त्रिवेन्द्र सिंह रावत ने कहा कि शिक्षकों व सरकारी कर्मियों में अन्तर है, शिक्षक राज्य के लिये प्राइड भी होता है। राज्य में शिक्षकों की बड़ी संख्या के दृष्टिगत उन्होंने देहरादून में संगठन के लिये संघ भवन की जरूरत बतायी, उन्होने कहा कि संगठन लोकतंत्र को मजबूत करते है, लोकतंत्र संविधान की रीढ़ है, राज्य का आधार ही शिक्षा से जुडे लोग है, यह राज्य के सम्मान से जुड़ा विषय भी है। मुख्यमंत्री त्रिवेन्द्र सिंह रावत ने कहा कि किसी भी विभाग का केन्द्र बिन्दु आम आदमी होना चाहिए। हमारी चाहे कोई भी समस्या हो किन्तु बच्चों की शिक्षा बाधित न हो इसके लिये शिक्षकों को संवेदनशील बनना होगा। प्रदेश में बच्चों से सीधा संवाद कार्यक्रम करने के लिये प्रशासनिक अधिकारियों द्वारा पहल की गई है। बच्चों को महसूस होना चाहिए कि हममेें और आपमें 1 कदम का फासला है। हम आज जहां है वहां कल बच्चे भी पंहुच सकते है, उनमें यह अहसास होना चाहिए। मुख्यमंत्री ने कहा कि जब स्कूलों में बच्चों की संख्या अधिक रहेगी तभी स्कूल बंद होने से बचे रहेंगे तथा शिक्षकों को भी लाभ मिल सकेगा। उन्होने चिन्ता व्यक्त करते हुए कहा कि आज 60 प्रतिशत बच्चे निजि स्कूलों में पढ़ रहे हैं, केवल 40 प्रतिशत बच्चे ही सरकारी स्कूलों में रह गये हैं। जबकि सरकारी स्कूलों के अध्यापक सबसे योग्य है तथा वेतन भी अधिक पाते है। ए ग्रेड में सरकारी अध्यापक ही आता है। हमारे बच्चे भी सरकारी अध्यापक तभी बन पायेंगे जब हम उनके लिये अवसर छोड़ेंगे, इसके लिये स्कूलों को बंद होने से बचाना होगा, उनकी गुणवत्ता युक्त शिक्षा पर ध्यान देना होगा। उन्होने शिक्षकों से योग्य 10-12 शिक्षकों का थिंक टैंक गठित करने की भी बात कही। यह थिंक टैंक शिक्षा की गुणवत्ता, विद्यालयों की मजबूती स्कूलों में छात्र संख्या बढ़ाने आदि समस्याओं के समाधान के लिये अपने सुझाव रखे। हमे अपने बच्चों की चिंता करनी होगी, हमारे बच्चे हमारे विद्यालयों में गुणवत्ता युक्त शिक्षा प्राप्त कर सके इस पर मनन करने की जरूरत है। इसमें सभी को सहयोगी बनना होगा। शिक्षक संघ के अधिवेशन में प्रतिभाग करने वाले शिक्षकों को विशेष आकस्मिक अवकाश की स्वीकृति भी उन्होंने प्रदान की तथा कहा कि शीघ्र ही प्रदेश में स्थानान्तरण अधिनियम लाया जायेगा। इस अवसर पर मुख्यमंत्र ने राजकीय शिक्षक संघ की स्मारिका ‘‘शिक्षा दर्पण‘‘ का विमोचन तथा वेबसाइट का लोकार्पण किया। कार्यक्रम संगठन के प्रान्तीय महामंत्री सोहन माजिला द्वारा संगठन में कार्यकलापों की जानकारी दी। इस अवसर पर निदेशक, माध्यमिक शिक्षा आर.के.कुंवर, कुलपति एस.जी.आर.आर. विश्वविद्यालय डाॅ.पीताम्बर प्रसाद ध्यानी, राजकीय शिक्षक संघ के प्रांतीय अध्यक्ष राम सिंह चौहान , संरक्षक अरविंद चैधरी, भाजपा के प्रदेश सचिव सुनिल उनियाल गामा, पार्षद अशोक भट्ट एवं प्रदेश के विभिन्न स्कूलों के शिक्षक उपस्थित थे।

Leave A Comment