Breaking News:

उत्तराखंड : त्रिवेंद्र सिंह रावत सरकार के 6 माह … -

Tuesday, September 19, 2017

उत्तराखंड : राष्ट्रपति के रूप में प्रेसिडेंट रामनाथ कोविंद का पहला दौरा 23 सितम्बर को -

Tuesday, September 19, 2017

हनीप्रीत बनी राखी सावंत , जानिए ख़बर -

Tuesday, September 19, 2017

झारखंड के कतरास में 230 लोगों ने मांगी इच्छा मृत्यु , जानिए ख़बर -

Tuesday, September 19, 2017

नए भारत निर्माण में स्वच्छता निभाएगी महत्वपूर्ण भूमिका : सीएम -

Monday, September 18, 2017

‘हिमालय लोक समृधि वृक्ष अभियान’ रूपी पहल को घर घर पहुंचाए जनता -

Monday, September 18, 2017

‘तारक मेहता का उल्टा चश्मा’ होगा बंद ! -

Monday, September 18, 2017

जरा हटके : 15 साल की उम्र में बनी माँ , अब है आठ बच्चों की माँ … -

Monday, September 18, 2017

समाज के विकास के लिए महिलाओं को पुरूषों के समान अधिकार मिलना जरूरी : सीएम -

Monday, September 18, 2017

‘‘स्वच्छता ही सेवा’’ के तहत सीएम त्रिवेन्द्र सिंह रावत ने झाड़ू लगाकर किया श्रमदान -

Sunday, September 17, 2017

18 नवंबर को मसूरी में लोट-पोट करेंगी ‘गुत्थी’ -

Sunday, September 17, 2017

बांग्लादेश जाने वाले रोहिंग्या शरणार्थियों की संख्या हुई 389,000 -

Sunday, September 17, 2017

आखिर कहा नवजात बच्चों को मिलती है ग्रेजुएशन, जानिए खबर -

Sunday, September 17, 2017

उत्तराखंड के मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को दी जन्मदिन की बधाई -

Saturday, September 16, 2017

खेल ट्रांसपेरेंट कपड़ो की… -

Saturday, September 16, 2017

रेयान इंटरनेशनल स्कूल केस : हत्यारा कोई और है – वकील मोहित वर्मा -

Saturday, September 16, 2017

जब कुत्ते ने हत्यारों के घर लेकर पहुंचा पुलिस , जानिए खबर -

Saturday, September 16, 2017

देहरादून की सफाई व्यवस्था निरीक्षण हेतु हर वार्ड में नामित होंगे नोडल अधिकारी -

Saturday, September 16, 2017

उत्तराखंड : सचिवालय परिसर में पीक थूकना पडेगा महंगा -

Saturday, September 16, 2017

गरीबी नहीं रोक सकी अंतरराष्ट्रीय स्तर की पहलवान बनाना, जानिए खबर .. -

Friday, September 15, 2017

‘ब्लड मनी’ द्वारा 17 भारतीय कैदियों को रिहा करा चुके है सरदार एसपी

sp

एसपी सिंह ओबेरॉय , 59 साल के ओबेरॉय दुबई में बिजनेसमैन हैं। वे यूएई की जेलों में बंद मौत की सजा पाने वाले 54 दोषियों को बचा चुके हैं। अब वे 30 और कैदियों को जेलों से निकालने का प्रयास कर रहे हैं। वे 17 भारतीय कैदियों को जेल से छुड़ाने के लिए अब तक 3.4 मिलियन दिरहम (5.7 करोड़ रुपए) की ब्लड मनी दे चुके हैं। ब्लड मनी शब्द का मतलब है उस परिवार को दिया जाने वाला मुआवजा, जिसके सदस्य की दोषी द्वारा हत्या की गई हो। जनवरी 2009 में जब पहली बार उन्होने एक मौत की सज़ा पाए भारतीय के बारे मे सुना तो उनको पहला ख्याल आया कि पंजाब में उस व्यक्ति के परिवार पर क्या बीत रही होगी। उसके घर का माहौल कितना तनावपूर्ण होगा। तब उन्होंने इस मामले को अपने हाथ में लेने का फैसला किया। पंजाब के रहने वाले एसपी सिंह ओबेरॉय ने अपने काम की शुरुआत 1970 में मैकेनिक के तौर पर की। 1975 के बाद वे मैटेरियल सप्लाई और कन्स्ट्रक्शन के बिजनेस से जुड़ गए। 18 साल की कड़ी मेहनत के बल पर आज उनके पास दुबई ग्रैंड होटल और एपेक्स ग्रुप ऑफ कंपनीज है। यहीं नहीं, वे अब दुनिया की सबसे ऊंची इमारत बुर्ज खलीफा में रहते हैं। ओबेरॉय भारतीय कैदियों की मदद के लिए अक्सर यूएई के जेलों के चक्कर लगाते रहते हैं। इसी दौरान वे एक घटना का जिक्र करते हुए ओबेरॉय कहते हैं, “यूएई में 17 भारतीय कैदी जेल में बंद थे। मैंने उनको मां-बाप से मिलाने की व्यवस्था की। ओबेरॉय के पास एक लंबी कॉन्टेक्ट लिस्ट हैं। इसकी मदद से वे सभी छूटे हुए कैदियों से लगातार संपर्क में रहते हैं। यदि उनके पास समय होता है तो भारत में उनसे मिलने चले आते हैं। वे हमेशा छूटने वाले कैदियों को अहसास दिलाते हैं कि अपराध के कारण उनकी जिंदगी बर्बाद हो गई। क़ैदी इस के बाद वापिस मेहनत के दम पर कमाने की कोशिश करते हैं.. और मई इस महान आदमी को सलाम करता हू जो उनको काम ना मिलने पर अपनी ही कंपनी मे रोज़गार भी उपलब्ध करवा देते हैं | उनका ट्रस्ट सरबत दा भला अब तक 18 हजार से ज्यादा सिख, हिंदू, मुस्लिम समुदायों में कई बार सामूहिक शादियां करा चुका है। वर्तमान में वे आर्थिक रूप से कमजोर 425 छात्रों की मदद करते हैं और कई अस्पतालों को दान देते हैं। वे बुजुर्ग कैंसर पीड़ितों के लिए घर बनवा रहे हैं। ऐसे बुजुर्ग, जिनके बच्चे उन पर ध्यान नहीं देते हैं, वे उनका ख्याल रखने की व्यवस्था करते हैं।

Leave A Comment