Breaking News:

अधिकारियों व कार्मिकों को निरन्तर प्रशिक्षण की जरूरत , जानिए खबर -

Tuesday, December 11, 2018

एनआईटी मामला : हाईकोर्ट ने राज्य,एनआईटी और केंद्र सरकार को जवाब दाखिल करने को कहा -

Tuesday, December 11, 2018

जनसंपर्क और मीडिया लोक कल्याणकारी राज्य की प्रमुख विशेषता : राज्यपाल -

Monday, December 10, 2018

मानव अधिकार दिवस : इस वर्ष 2090 वाद में से 1434 वाद निस्तारित -

Monday, December 10, 2018

एकता कपूर व माही गिल गंगाआरती में हुए शामिल -

Monday, December 10, 2018

एकता कपूर और जितेंद्र हरिद्वार में करेंगे महाआरती , जानिए खबर -

Monday, December 10, 2018

पहल : एक साथ विवाह बंधन में बंधे 21 जोड़े -

Monday, December 10, 2018

सीएम ने की विभिन्न निर्माण कार्यों का शिलान्यास, जानिए खबर -

Sunday, December 9, 2018

पौराणिक मेले हमारी पहचान : सीएम त्रिवेंद्र -

Sunday, December 9, 2018

मैड और एनसीसी की टीम ने रिस्पना को किया साफ़ -

Sunday, December 9, 2018

राष्ट्रीय जनसंपर्क सम्मेलन : हिमालय और गंगा राष्ट्र का गौरव -

Sunday, December 9, 2018

दून नगर निगम बढ़ाएगा हाउस टैक्स, जानिए खबर -

Sunday, December 9, 2018

आईएमए पीओपीः 347 कैडेट बने भारतीय सेना का हिस्सा -

Saturday, December 8, 2018

सीएम त्रिवेंद्र 40वें आॅल इण्डिया पब्लिक रिलेशन्स काॅन्फ्रेंस का किया शुभारम्भ -

Saturday, December 8, 2018

कर्ज से परेशान किसान ने की आत्महत्या की कोशिश, हालत गंभीर -

Saturday, December 8, 2018

सीएम त्रिवेंद्र किये कई घोषणाएं , जानिए खबर -

Saturday, December 8, 2018

‘केदारनाथ’ फिल्म के नाम से ऐतराज: सतपाल महाराज -

Saturday, December 8, 2018

मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र करेंगे राष्ट्रीय जनसंपर्क सम्मेलन का शुभारंभ -

Friday, December 7, 2018

सीएम एप ने दिलाई गरीब परिवारों को धुएं से मुक्ति, जानिए खबर -

Friday, December 7, 2018

गावस्कर : विराट नहीं भारत के ओपनर करेंगे सीरीज का फैसला -

Friday, December 7, 2018

भगवान महावीर समाज को सत्य और अहिंसा के मार्ग पर चलने की दी शिक्षा : मुख्यमंत्री

uk-cm

देहरादून। मुख्यमंत्री त्रिवेन्द्र सिंह रावत ने प्रदेशवासियों को महावीर जयन्ती की बधाई व शुभकामनाएँ दी हैं। महावीर जयन्ती की पूर्व संध्या पर जारी अपने सन्देश में मुख्यमंत्री त्रिवेन्द्र ने कहा कि सबको समान नजर से देखने वाले भगवान महावीर अहिंसा और त्याग की प्रतिमूर्ति थे। भगवान महावीर ने अहिंसा को ही परम् धर्म माना और समाज को सत्य और अहिंसा के मार्ग पर चलने की शिक्षा दी। मुख्यमंत्री ने कहा कि जैन धर्म के 24वें तीर्थंकर भगवान महावीर को वर्धमान भी कहा जाता है। उन्होंने सत्य, अहिंसा, ब्रह्मचर्य और अपरिग्रह के विषय में लोगों को ज्ञान दिया। भगवान महावीर ने युवावस्था में ही सांसारिक मोह-माया, सुख और ऐश्वर्य के साथ ही अपना राज्य छोड़कर सन्यास ग्रहण किया और अपना सम्पूर्ण जीवन संसार की भलाई के लिए समर्पित कर दिया। उनका सम्पूर्ण जीवन समाज को अहिंसा और त्याग के रास्ते पर चलने की प्रेरणा देता है। उनके सिद्धान्तों में विश्वशान्ति की प्रेरणा निहित् है। मुख्यमंत्री ने कहा कि महावीर जयन्ती केवल एक पर्व या उत्सव ही नहीं बल्कि सत्य, सादगी, अहिंसा और पवित्रता का प्रतीक है। इस पर्व पर हमें यह संकल्प लेना चाहिए कि हमें अपने जीवन से झूठ, कपट, लोभ-लालच और दिखावे को दूर रखना चाहिए तथा सच्चा, शुद्ध और परोपकारी जीवन जीना चाहिए।

Leave A Comment