Breaking News:

कोरोना से बचे : उत्तराखंड में आज कोरोना मरीजो की संख्या 1085 हुई , 42 नए मरीज मिले -

Wednesday, June 3, 2020

अभिनेत्री ने जहर खाकर की खुदकुशी, जानिए खबर -

Wednesday, June 3, 2020

मुझे बदनाम करने की साजिश : फुटबॉल कोच विरेन्द्र सिंह रावत -

Wednesday, June 3, 2020

मोदी 2.0 : पहले साल लिए गए कई ऐतिहासिक निर्णय -

Wednesday, June 3, 2020

कोरोना से बचे : उत्तराखंड में कोरोना मरीजो की संख्या 1066 हुई -

Wednesday, June 3, 2020

सराहनीय पहल : एक ट्वीट से अपनों के बीच घर पहुंचा मानसिक दिव्यांग मनोज -

Tuesday, June 2, 2020

कोरोना से बचे : उत्तराखंड में कोरोना मरीजो की संख्या हुई 1043 -

Tuesday, June 2, 2020

उत्तराखंड : मुख्यमंत्री स्वरोजगार योजना में करें अब आनलाईन आवेदन -

Tuesday, June 2, 2020

10 वर्षीय आन्या ने अपने गुल्लक के पैसे देकर मजदूर का किया मदद -

Tuesday, June 2, 2020

उत्तराखंड में कोरोना मरीजो की संख्या 999 हुई, 243 मरीज हुए ठीक -

Tuesday, June 2, 2020

कोरोना से बचे : उत्तराखंड में आज कोरोना मरीजो की संख्या हुई 958 -

Monday, June 1, 2020

उत्तराखंड : कोरोना मरीजो की संख्या 929 हुई, चम्पावत में 15 नए मामले मिले -

Monday, June 1, 2020

जागरूकता: तंबाकू छोड़ने की जागरूकता के लिए स्वयं तत्पर होना जरूरी -

Monday, June 1, 2020

मदद : गांव के छोटे बच्चों को पढ़ा रही भावना -

Monday, June 1, 2020

नही रहे मशहूर संगीतकार वाजिद खान -

Monday, June 1, 2020

नेक कार्य : जरूरतमन्दों के लिए हज़ारो मास्क बना चुकी है प्रवीण शर्मा -

Sunday, May 31, 2020

कोरोना से बचे : उत्तराखंड में कोरोना मरीजो की संख्या पहुँची 907, आज 158 कोरोना मरीज मिले -

Sunday, May 31, 2020

सोशल डिस्टन्सिंग के पालन से कोरोना जैसी बीमारी से बच सकते है : डाॅ अनिल चन्दोला -

Sunday, May 31, 2020

कोरोंना से बचे : उत्तराखंड में मरीजो की संख्या 802 हुई -

Sunday, May 31, 2020

उत्तराखंड : 1152 लोगों को दून से विशेष ट्रेन से बेतिया बिहार भेजा गया -

Sunday, May 31, 2020

भाजपा नेता गैरसैंण में 24 घण्टे रूकना भी गवारा नही समझे : सुरेन्द्र कुमार

surendra-uk

मुख्यमंत्री के प्रवक्ता/मीडिया सलाहकार सुरेन्द्र कुमार ने भाजपा नेताओं पर पलटवार करते हुए कहा कि भाजपा के मात्र 7 विधायकों को गैरसैंण में 24 घण्टे रूकना भी गवारा नही था। उनको राज्य की जनता कभी माफ नही करेगी। जब इतिहास लिखने का समय आया तब भाजपा के नेता भाग खड़े हुए। उन्होंने कहा कि भाजपा के जो नेता अब बयानबाजी कर रहे है, वह उनके घड़ियाली आंसू है। जिनको राज्य की जनता 2017 में माफ नही करेगी। कुमार ने कहा कि ये भाजपा के वही नेता है जिन्होंने राज्य गठन के समय वर्ष 2000 में राज्य की राजधानी के मुद्दे को उलझाया था। उन्होंने कहा कि कभी 36 तो कभी 29 संशोधन लाकर राज्य को कंगाल करने की साजिश की थी। कुमार ने कहा कि जिन भाजपा के नेताओ ने 24 घण्टे भी गैरसैंण में रूकना मुनासिब नही समझा, उनको अब कुछ भी बोलने का नैतिक अधिकार नही है। जब-जब गैरसैंण में राज्य निर्माण की अवधारणा व गैरसैंण की भावना को मजबूत करने के लिए सत्र आयोजित होते है, तब-तब भाजपा के नेता इस मुद्दे को और उलझाना चाहते है। कुमार ने यह भी कहा कि यदि भाजपा के नेता वाकई गंभीर थे, तो गैरसैंण में रूकने का साहस क्यों नही जुटा पाए।

Leave A Comment