Breaking News:

उत्तराखंड: आज कोरोना का महा कहर , दो हज़ार से अधिक मरीज मिले जानिए खबर -

Saturday, September 19, 2020

हर स्थिति के साथ बढ़ती गयी हिम्मत : नमन भारद्वाज -

Saturday, September 19, 2020

जरा हटके : कोरोना मरीजो के मनोरंजन के लिए गीत संगीत का आयोजन -

Saturday, September 19, 2020

उत्तराखंड की जेलों में बड़ी संख्या में गंभीर रोगी हैैं केैद, जानिए खबर -

Saturday, September 19, 2020

देहरादून : होम आईसोलेशन के लिए जिला सर्विलांस अधिकारी से अनुमति प्राप्त करना अनिवार्यः डीएम -

Saturday, September 19, 2020

कोरोना योद्धा हुए सम्मानित, जानिए खबर -

Friday, September 18, 2020

उत्तराखंड: प्रदेश में कोरोना मरीजो की संख्या 38 हज़ार पार , जानिए खबर -

Friday, September 18, 2020

जनता से किए 85 फीसदी वायदे किये पूरे : सीएम त्रिवेंद्र -

Friday, September 18, 2020

किस अभिनेत्री ने कही यह बात , मेरा मीडिया ट्रायल ना किया जाए -

Friday, September 18, 2020

एसबीआई : एटीएम से दस हज़ार से अधिक की राशि निकालने पर यह नियम लागू, जानिए खबर -

Friday, September 18, 2020

उत्तराखंड: प्रदेश में कोरोना मरीजो की संख्या पहुँची 37139 , जानिए खबर -

Thursday, September 17, 2020

कैबिनेट बैठक : सरकार ने व्यावसायिक वाहनों के टैक्स में छूट तीन माह तक बढ़ाया -

Thursday, September 17, 2020

कुपोषण मुक्त बच्चों के अभिभावकों को सीएम त्रिवेंद्र ने किया सम्मानित -

Thursday, September 17, 2020

शिकागो के अर्थशास्त्री राज साह ने भेंट की स्मृति पट्टिका, जानिए खबर -

Thursday, September 17, 2020

भारत : देश मे कोरोना मरीजो की संख्या पहुँची 50 लाख के पार, जानिए खबर -

Thursday, September 17, 2020

सीएम त्रिवेंद्र ने पीएम नरेन्द्र मोदी को उनके जन्मदिन पर दी बधाई -

Thursday, September 17, 2020

नेक कार्य : लावारिस अस्थियों को मां गंगा में पूर्ण वैदिक विधि विधान से किया विसर्जित -

Thursday, September 17, 2020

“राजयोग में साइलेंस की शक्ति और डिप्रेशन से मुक्ति’’ पुस्तक का सीएम त्रिवेंद्र ने किया लोकार्पण -

Wednesday, September 16, 2020

उत्तराखंड: प्रदेश में आज 1540 नए कोरोना मरीज मिले , जानिए खबर -

Wednesday, September 16, 2020

सेवा सप्ताह कार्यक्रम : रक्तदान शिविर का हुआ आयोजन -

Wednesday, September 16, 2020

भारतीय संस्कृति यज्ञ की संस्कृति , जानिए खबर

हरिद्वार। मंगलमय परिवार हरिद्वार के द्वारा फाल्गुन पूर्णिमा (होली) के पावन पर्व पर परिवारों की सुख, समृद्धि एवं शान्ति हेतु सामूहिक हवन कार्यक्रम का आयोजन प्रसिद्ध श्रीरामकथा वाचक पूज्य संत विजय कौशल महाराज एवं आचार्य बालकृष्ण, महामंत्री पतंजलि योगपीठ हरिद्वार के पावन सांनिध्य में स्थानीय गौतम फार्म में किया। इस मौके पर संत विजय कौशल महाराज ने परिवार में मंगल कैसे रहे बताया कि पूर्णिमा और अमावस्या को एक छोटा सा हवन करना चाहिए। भारतीय संस्कृति यज्ञ की संस्कृति है, इस हवन का पूजा या कर्मकाण्ड से कोई सम्बन्ध नहीं है, इससे शायद आपको स्वर्ग भी नहीं मिलेगा लेकिन इसको करने से घर स्वर्ग जैसा हो जाएगा ऐसा मेरा विश्वास है और अनुभव भी। उन्होंने कहा कि पूर्णिमा और अमावस्या का चयन हमने इसलिए किया है कि पूर्णिमा देवताओं का दिन माना गया है और अमावस्या पितरों का दिन है, पितरों के आशीर्वाद से घर में संतान और सम्पत्ति आती है और देवताओं के आशीर्वाद से घर के संकट मिटते हैं और घर मंगलमय होता है। जिन घरों में यज्ञ का धुआं उठता हुआ दिखाई देता है, देवताओं और ऋषि-मुनियों की चेतना उसी घर में उतर आती है। पूज्य संत विजय कौशल महाराज ने कहा कि शुभ कार्य का शुभ एवं अशुभ का अशुभ फल मिलता है। कुछ लोग सोचते हैं कि पुण्य करने से पाप कट जाते हैं लेकिन ऐसा नही है, धर्म करने से धर्म बढ़ता है लेकिन अशुभ फल कटता नहीं है, अन्जाने में पाप सिर्फ एक बार होता है बार-बार नहीं, एक बार किया हुआ पाप व्यक्ति को अन्तिम समय तक याद रहता है। पतंजलि योगपीठ के महामंत्री आचार्य बालकृष्ण ने कहा कि जैसे शरीर में नाभि केन्द्र का महत्व है उसी प्रकार संसार में मनुष्य के जीवन में यज्ञ का स्थान है इसलिए इस केन्द्र में सभी को आना  पडे़गा। उन्होंने कहा कि वेदों में गायत्री मंत्र को महामंत्र  और यज्ञ को श्रेष्ठतम कर्म कहा कहा गया है इसलिए यज्ञ की परम्परा को जीवित रखना चाहिए। कोरोना वायरस का जिक्र करते हुए उन्होंने कहा कि अब तक दुनिया में तीन लाख बीस हजार प्रकार के वायरस का आंकलन है। लेकिन विविध प्रकार की सामग्री द्वारा यज्ञ करने पर कई प्रकार के वायरस को दूर किया जा सकता है। उन्होंने कहा कि कई देश वायरस को युघ्द्ध लड़ने के लिए तैयार कर रहे हैं। इस मौके पर कुलपति गुरूकुल कांगडी विव. डाॅ. रूप किशोर शास्त्री, डाॅ. महावीर अग्रवाल प्रतिकुलपति पतंजलि वि.व., अ.भा. व्यस्था प्रमुख अनिल ओक, प्रांत प्रचारक युद्धवीर, जिला संघ चालक कुंवर रोहिताश्व, विभाग प्रचारक शरद, प्रदेश निरीक्षक विद्याभारती डाॅ. विजयपाल सिंह, आईपीएस जुगुलकिशोर तिवारी, अपर मेलाधिकारी डाॅ. ललितनारायण मिश्रा, अपर जिलाधिकारी वित्त के.के. मिश्रा, जिलपूर्ति अधिकारी वाराणसी दीपक वाष्र्णेय, अविनाश ओहरी, रमेश उपाध्याय, विमल कुमार, डॉ. विनोद आर्य, डॉॅ. जितेन्द्र सिंह, बृजभूषण विद्यार्थी, अनिल गुप्ता, सारिका शर्मा, संगीता गुप्ता, संदीप कपूर, पं. बालकृष्ण शास्त्री, डॉ. अश्विनी चैहान, रविन्द्र सिंघल, निशान्त कौशिक, रामचन्द्र पाण्डेय, नरेश मनचन्दा, आशीष वंशल, अन्जु जोशी, सोहनवीर राणा, सुशांत पाल, हरीश कुमार, हिमांशु चोपडा, मनोज गौतम, ताराचन्द विरमानी, ललित मिश्रा सहित सैकडों की संखया में मंगलमय परिवार के सदस्य उपस्थित थे।

Leave A Comment