Breaking News:

गैरसैण बनेगी ई-विधानसभा : सीएम त्रिवेंद्र -

Friday, June 5, 2020

कोरोना से बचे : उत्तराखंड में कोरोना मरीजो की संख्या हुई 1215 , ठीक हुए मरीजो की संख्या हुई 344 -

Friday, June 5, 2020

“उत्तराखंड की शान भैजी विरेन्द्र सिंह रावत” ऑडियो वीडियो का हुआ शुभारम्भ -

Friday, June 5, 2020

डेंगू से बचाव के लिए जागरूकता जरूरी -

Friday, June 5, 2020

कोरोना से बचे : कोरोना मरीजो की संख्या हुई 1199, देहरादून में 15 नए मामले मिले -

Friday, June 5, 2020

7 जून से “एसपीओ” द्वारा राष्ट्रीय ऑनलाइन योगा प्रतियोगिता का आयोजन -

Friday, June 5, 2020

उत्तराखंड : 10वीं च 12वीं की शेष परीक्षाएं 25 जून से पहले होंगी -

Friday, June 5, 2020

कोरोना से बचे : उत्तराखंड में आज कोरोना मरीजो की संख्या हुई 1153 आज 68 नए मरीज मिले -

Thursday, June 4, 2020

पांच जून को अधिकांश जगह बारिश की संभावना -

Thursday, June 4, 2020

कोरोना से बचे : उत्तराखंड में आज कोरोना मरीजो की संख्या हुई 1145 -

Thursday, June 4, 2020

जागरूकता और सख्ती पर विशेष ध्यान हो : सीएम त्रिवेंद्र -

Thursday, June 4, 2020

दुःखद : बॉलीवुड कास्टिंग निदेशक का निधन -

Thursday, June 4, 2020

वक्त का फेर : चैम्पियन तीरंदाज सड़क पर बेच रही सब्जी -

Thursday, June 4, 2020

कोरोना से बचे : उत्तराखंड में आज कोरोना मरीजो की संख्या 1085 हुई , 42 नए मरीज मिले -

Wednesday, June 3, 2020

अभिनेत्री ने जहर खाकर की खुदकुशी, जानिए खबर -

Wednesday, June 3, 2020

मुझे बदनाम करने की साजिश : फुटबॉल कोच विरेन्द्र सिंह रावत -

Wednesday, June 3, 2020

मोदी 2.0 : पहले साल लिए गए कई ऐतिहासिक निर्णय -

Wednesday, June 3, 2020

कोरोना से बचे : उत्तराखंड में कोरोना मरीजो की संख्या 1066 हुई -

Wednesday, June 3, 2020

सराहनीय पहल : एक ट्वीट से अपनों के बीच घर पहुंचा मानसिक दिव्यांग मनोज -

Tuesday, June 2, 2020

कोरोना से बचे : उत्तराखंड में कोरोना मरीजो की संख्या हुई 1043 -

Tuesday, June 2, 2020

मछली का अवैध शिकार करने वाला गिरोह फिर सक्रिय

अल्मोड़ा। कोसी नदी में मछली का अवैध शिकार करने वाला गिरोह फिर सक्रिय हो गया है। अराजक तत्वों ने छड़ा बाजार के नदी क्षेत्र में जगह-जगह विस्फोटक से सैकड़ों मछलियां मार डाली हैं। यह हाल तब है जब नदी क्षेत्र में विस्फोट करने पर कड़ा प्रतिबंध है। कुछ समय पहले खैरना व काकड़ीघाट आदि इलाकों में भी इसी तरह मछलियों का शिकार किया गया था। प्रशासन की सख्ती से कोसी जलागम क्षेत्र में मछली के अवैध शिकार पर काफी हद तक अंकुश लगा था, मगर चोरी-छिपे मछली मारने वाले गिरोह की घुसपैठ दोबारा तेज हो गई है। छड़ा बाजार से लगे नदी क्षेत्र में विस्फोट कर दुर्लभ रोहू प्रजाति की अनगिनत मछलियां मार दी गई हैं। विस्फोट से छोटी मछलियों को अधिक क्षति पहुंची है। विस्फोटक में गंधक व पोटाश का इस्तेमाल किया जा रहा है।
वहीं नदी में मछलियों के अवैध शिकार से स्थानीय लोग भड़क उठे हैं। सरपंच पूरन सिंह, धन सिंह, आनंद सिंह, महेंद्र सिंह, बालम सिंह, नंदन सिंह, किशन सिंह, बिष्ट,सुरेंद्र सिंह बिष्ट, पंकज मेहरा, नारायण सिंह, संजय बिष्ट, मनीष बिष्ट, राजेंद्र बिष्ट, प्रताप सिंह, विजय बिष्ट, आनंद बिष्ट, दीवान सिंह आदि ने बताया कि अवांछिततत्वों को कई बार खदेड़ा जा चुका है, पर वे चोरी-छिपे प्रतिबंधित विस्फोटक का इस्तेमाल करने से बाज नहीं आ रहे। जिस जगह अवैध शिकार किया जा रहा, वह धार्मिक क्षेत्र है। साथ ही खतरनाक भी है। पूर्व में वहां कई लोग जान गंवा चुके हैं। उन्होंने प्रशासन से कड़ी कार्रवाई की मांग की है। तहसीलदार कोश्या कुटोली कृष्ण कुमार का कहना है कि कोसी में विस्फोटक से मछली मारना प्रतिबंधित है। इसे रोकने के लिए राजस्व उपनिरीक्षकों को निर्देशित किया जाएगा। पुलिस व वन विभाग से भी मदद लेंगे, ताकि अवैध शिकारियों पर शिकंजा कसा जा सके।

Leave A Comment