Breaking News:

उत्तराखंड में पांच और कोरोना पॉजिटिव मामले सामने आए, संक्रमित मरीजों की संख्या हुई 31 -

Monday, April 6, 2020

सीएम ने उत्तराखंड के जवानों की शहादत को नमन किया -

Monday, April 6, 2020

उत्तराखंड : मुख्यमंत्री कैम्प कार्यालय में बेहतर समन्वय के लिए बनाया गया कंट्रोल रूम -

Monday, April 6, 2020

पौड़ी : पाबौ में चट्टान से गिरने से महिला की मौत -

Monday, April 6, 2020

जुबिन नौटियाल ने ऑनलाइन शो से कोरोना फाइटर्स को कहा थैंक्यू -

Monday, April 6, 2020

अनूप नौटियाल व डा. दिनेश चौहान रहे कोरोना वाॅरियर -

Monday, April 6, 2020

पहल : देहरादून में 7745 भोजन पैकेट वितरित किये गये -

Sunday, April 5, 2020

सीएम त्रिवेन्द्र ने परिवार संग दीप जला कर हौसला बढाने का दिया सन्देश -

Sunday, April 5, 2020

उत्तराखंड में चार और कोरोना पाॅजीटिव मामले सामने आए, संख्या 26 हुई -

Sunday, April 5, 2020

दुःखद : जंगल की आग में जिंदा जली दो महिलाएं -

Sunday, April 5, 2020

आम आदमी की रसोईः जरूरतमंदों को दे रही भोजन और राशन -

Sunday, April 5, 2020

5 अप्रैल को रात 9 बजे 9 मिनट के लिए अपने घरों में लाईट बंद कर दीपक जलाए : सीएम त्रिवेंद्र -

Saturday, April 4, 2020

लापता व्यक्ति का शव पाषाण देवी के मंदिर पास झील से बरामद हुआ -

Saturday, April 4, 2020

देहरादून : स्वयंसेवी संस्थाओं के सहयोग से 9482 भोजन पैकेट वितरित किये गये -

Saturday, April 4, 2020

उत्तराखंड में कोरोना पॉजिटिव मामलों की संख्या हुई 22 -

Saturday, April 4, 2020

सोशियल पॉलीगोन ग्रुप ऑफ कंपनी ने मुख्यमंत्री राहत कोष में 5 लाख का चेक दिया -

Saturday, April 4, 2020

लॉकडाउन : रचायी जा रही शादी पुलिस ने रुकवाई, 15 लोगों पर मुकदमा दर्ज -

Friday, April 3, 2020

उत्तराखंड : त्रिवेन्द्र सरकार ने कोरोना वायरस से निपटने के लिए जारी किये 85 करोङ रूपए -

Friday, April 3, 2020

ऋषियों का मूल मंत्र ’तमसो मा ज्योतिर्गमय’ एक अद्भुत आइडियाः स्वामी चिदानन्द सरस्वती -

Friday, April 3, 2020

आम आदमी पार्टी के कार्यकर्ताओं ने किया रक्तदान -

Friday, April 3, 2020

मिसेज इंडिया उत्तराखंड की विजेता बनी शीतल व सुनीता

event-uk

देहरादून। राजपुर रोड स्थित होटल मधुबन में हिमाचल फिल्म सिटी द्वारा मिसेज इंडिया उत्तराखंड के ग्रैंड फिनाले का आयोजन किया गया। मिसेज इंडिया उत्तराखंड क्लासिक कैटेगरी में सुनीता चंदेल बौराई विद्यार्थी व मेन कैटेगरी में देहरादून निवासी शीतल खत्री को मिसेज इंडिया उत्तराखंड के खिताब से नवाजा गया। इसके अलावा क्लासिक कैटेगरी की फर्स्ट रनर अप नीति सक्सेना मयूरी व मेन कैटेगरी की फर्स्ट रनरअप अर्चना वर्मा रही। राज्य स्तर पर आयोजित इस कार्यक्रम में प्रतिभागियों ने अपनी प्रतिभा दिखायी। कार्यक्रम का शुभारंभ स्टेट कमिशन फाॅर प्रोटेक्शन आॅफ चाइल्ड राइट्स (एससीपीसीआर) की चेयरपर्सन उषा नेगी ने दीप प्रज्वलित कर किया। कार्यक्रम के निर्णायक मंडल में रीजनल डायरेक्टर मिसेज इंडिया उत्तराखंड व हिमाचल नमिता शर्मा, स्टेट कमिशन फाॅर प्रोटेक्शन आॅफ चाइल्ड राइट्स (एससीपीसीआर) की चेयरपर्सन उषा नेगी, हिमाचल फिल्म सिटी के डायरेक्टर पदम वर्मा व डिजाइनर किंगशुक भादुरी बतौर जज उपस्थित रहे। इस प्रतियोगिता में विभिन्न क्षेत्रों की महिला प्रतिभागियों ने बढ़चढ़ कर हिस्सा लिया। ग्रैंड फिनाले में परिचय राउंड, टैलेंट राउंड, ट्रेडिशनल राउंड व रैंप वाॅक द्वारा अपनी प्रतिभा का बेहतरीन प्रदर्शन दिया व निर्णायक मंडल का दिल जीता। ट्रेडिशनल राउंड में प्रतिभागियों ने उत्तराखंड की सभ्यता व संस्कृति को प्रस्तुत कर खूब तालियां बटोरी। रीजनल डायरेक्टर मिसेज इंडिया उत्तराखंड व हिमाचल नमिता शर्मा ने सभी प्रतिभागियों के प्रतिभा की सराहना की। उन्होंने कहा कि, मिसेज इंडिया से जुड़ने का उनका मुख्य मकसद यह है कि वह उत्तराखंड की महिलाओं के साथ जुड़कर उनके सपनों को पूरे कर सके। उन्होंने अपने विचार व्यक्त करते हुए कहा कि, पारिवारिक जीवन से लेकर व्यवसायिक जीवन में हमेशा महिलाओं को बलिदान देना पड़ता है। महिलाएं अपनी जिंदगी बहुत पीछे छोड़ आती हैं । नमिता ने बताया कि, मिसेज इंडिया महिलाओं की प्रतिभा निखारने के साथ-साथ उन्हें समाज से जुड़े कार्यों के लिए भी प्रोत्साहित करता है।  हिमाचल फिल्म सिटी के डायरेक्टर पदम वर्मा ने इस अवसर पर जानकारी देते हुए बताया कि मिसेज इंडिया राष्ट्रीय स्तर का पैजेंट है। उन्होंने कहा कि, इस पैजेंट में इस बात का विशेष ध्यान रखा जाता है, कि एक महिलाएं समाज को कैसे किसी मंच पर प्रस्तुत कर सकती हैं । उन्होंने आगे बताया कि, मिसेज इंडिया पैजेंट देश के अन्य कई राज्यों में आयोजित किया जाता है व सभी राज्यों के विजेता प्रतिभागियों को राष्ट्रीय स्तर पर आयोजित होने वाले फिनाले में हिस्सा लेने का अवसर दिया जाता है। स्टेट कमिशन फाॅर प्रोटेक्शन आॅफ चाइल्ड राइट्स (एससीपीसीआर) की चेयरपर्सन उषा नेगी ने कहा कि, इस प्रकार के कार्यक्रम महिलाओं को देश, समाज व संस्कृति के विकास में योगदान देने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाते हैं व अन्य महिलाओं को प्रोत्साहित करने का कार्य करते हैं। उन्होंने सभी प्रतिभागी महिलाओं के प्रतिभा की सराहना की व सुनहरे भविष्य की शुभकामनाएं दी। इस पैजेंट की सबसे खास बात यह है कि, इसमें राज्य स्तरीय विजेताओं को नेशनल फिनाले व नेशनल विजेताओं को इंटरनेशनल फिनाले में प्रतिभाग करने का मौका मिलता है। नेशनल विजेता प्रतिभागियों को इंटरनेशनल स्तर पर मिसेज प्लैनेट, मिसेज इंडिया टूरिज्म व मिसेज एशिया इंटरनेशनल पैजेंट आदि में प्रतिभाग करने का सुनहरा अवसर दिया जाता है। इस अवसर पर नीलम, पूजा, गीता शर्मा व अन्य कई महिलाएं उपस्थित रही।

Leave A Comment