Breaking News:

केंद्रीय मंत्री विजय सांपला दिखेंगे रामलीला के मंच पर -

Thursday, September 21, 2017

पीएम को सोनिया गांधी ने महिला आरक्षण बिल को लेकर लिखी चिट्ठी -

Thursday, September 21, 2017

एक मंदिर ऐसा जहाँ पाक आर्मी भी सर झुकाती है , जानिए ख़बर -

Thursday, September 21, 2017

टीवी पत्रकार की कवरेज के दौरान हुई हत्या -

Thursday, September 21, 2017

किडनी डोनर प्रत्यारोपण की सी.बी.आई. जांच हो : कांग्रेस -

Wednesday, September 20, 2017

दलित के घर शाह ने खाया खाना -

Wednesday, September 20, 2017

राज्यपाल ने राजभवन के कार्मिकों को स्वच्छता की शपथ दिलाई -

Wednesday, September 20, 2017

बालक अजय का कूड़े बीनने से मुख्य अतिथि तक का सफर , जानिए खबर -

Wednesday, September 20, 2017

नोटबंदी, बेनामी संपत्ति कानून, मनी ट्रांजेस्शन से कालेधन के व्यापार पर अंकुश लगा : अमित शाह -

Wednesday, September 20, 2017

उत्तराखंड : त्रिवेंद्र सिंह रावत सरकार के 6 माह … -

Tuesday, September 19, 2017

उत्तराखंड : राष्ट्रपति के रूप में प्रेसिडेंट रामनाथ कोविंद का पहला दौरा 23 सितम्बर को -

Tuesday, September 19, 2017

हनीप्रीत बनी राखी सावंत , जानिए ख़बर -

Tuesday, September 19, 2017

झारखंड के कतरास में 230 लोगों ने मांगी इच्छा मृत्यु , जानिए ख़बर -

Tuesday, September 19, 2017

नए भारत निर्माण में स्वच्छता निभाएगी महत्वपूर्ण भूमिका : सीएम -

Monday, September 18, 2017

‘हिमालय लोक समृधि वृक्ष अभियान’ रूपी पहल को घर घर पहुंचाए जनता -

Monday, September 18, 2017

‘तारक मेहता का उल्टा चश्मा’ होगा बंद ! -

Monday, September 18, 2017

जरा हटके : 15 साल की उम्र में बनी माँ , अब है आठ बच्चों की माँ … -

Monday, September 18, 2017

समाज के विकास के लिए महिलाओं को पुरूषों के समान अधिकार मिलना जरूरी : सीएम -

Monday, September 18, 2017

‘‘स्वच्छता ही सेवा’’ के तहत सीएम त्रिवेन्द्र सिंह रावत ने झाड़ू लगाकर किया श्रमदान -

Sunday, September 17, 2017

18 नवंबर को मसूरी में लोट-पोट करेंगी ‘गुत्थी’ -

Sunday, September 17, 2017

मुख्यमंत्री का चाय बागान में स्मार्ट सिटी की नो एंट्री का एलान

harish-cm

मुख्यमंत्री हरीश रावत ने सचिव आवास व उपाध्यक्ष एमडीडीए आर. मीनाक्षी सुंदरम को निर्देश दिए हैं कि स्मार्ट सिटी के लिए केंद्र सरकार द्वारा तय मानकों के अनुरूप भूमि के लिए देहरादून में चाय बागान के अतिरिक्त अन्य सम्भावनाओं को भी देख लिया जाए। स्मार्ट सिटी के लिए भूमि की आवश्यकता को 300 एकड़ तक सीमित करने का प्रयास किया जाए। यदि भूमि को 300 एकड़ तक किया जाना सम्भव नहीं हो तो स्मार्ट सिटी के प्रश्न पर निर्णय लेने के लिए वर्ष 2017 में बनने वाली सरकार पर छोड़ दिया जाए। मुख्यमंत्री ने सचिव आवास को यह भी निर्देश दिए कि चाय बागान को लेकर पर्यावरण व अन्य कारणों से जो भी शंकाएं व्यक्त की जा रही हैं, उनको दूर किया जाए। चाय बागान में ग्रीन कवर को बनाए रखा जाए और वहां काम करने वाले मजदूरों की आर्थिक व सामाजिक सुरक्षा सुनिश्चित की जाए। बीजापुर में मीडिया से अनौपचारिक वार्ता करते हुए मुख्यमंत्री ने कहा कि हमारी सरकार जनभावनाओं व संवेदनाओं का पूरा सम्मान करती है। स्मार्ट सिटी को लेकर लोगों की जो भी शंकाएं हैं उन्हें प्राथमिकता से दूर किया जाएगा। इस सम्बंध में जो भी सवाल उठाये जा रहे है उनका हमने संज्ञान लिया है। मुख्यमंत्री रावत ने कहा कि भाजपा के मित्र बताएं कि उन्हें देहरादून में स्मार्ट सिटी चाहिए या नहीं। स्मार्ट सिटी का कन्सेंप्ट केंद्र सरकार द्वारा दिया गया है और प्रदेश हित में हमने इसे स्वीकार किया है। परंतु लगता है उत्तराखंड भाजपा के मित्रों को स्मार्ट सिटी का कन्सेंप्ट पसंद नहीं है। यदि ऐसा है तो वे साफ साफ कह दें कि उन्हें देहरादून में स्मार्ट सिटी नहीं चाहिए। मुख्यमंत्री ने कहा कि हमारी कोशिश है कि देहरादून के साथ ही उत्तराखंड का ग्रीन कवर बढ़ाया जाए। हमारा दायित्व है कि भावी पीढ़ी को हम बेहतर, स्वस्थ व स्वच्छ उत्तराखंड दें।

Leave A Comment