Breaking News:

108 सेवा : आधा दर्जन आंदोलनरत कर्मियों की तबीयत बिगड़ी -

Wednesday, May 22, 2019

मिसेज इंडिया प्रतियोगिता का देहरादून में हुआ ऑडिशन -

Wednesday, May 22, 2019

शर्मसार : शिक्षक ने पांचवीं की छात्रा के साथ किया दुष्कर्म -

Wednesday, May 22, 2019

ऑक्‍सिजन की नली के साथ 300 किलोमीटर दूर वोट डालने पहुंची महिला -

Wednesday, May 22, 2019

वर्ल्ड कप से पहले पब्जी खेलते दिखे टीम इंडिया के खिलाड़ी -

Wednesday, May 22, 2019

भंसाली की फिल्म ‘मलाल’ का ट्रेलर लॉन्च ले गए 6 साल पीछे , जानिए ख़बर -

Wednesday, May 22, 2019

पुण्यतिथि पर याद किए गए पूर्व प्रधानमंत्री राजीव गांधी -

Tuesday, May 21, 2019

एक जून से फूलों की घाटी का दीदार, जानिए खबर -

Tuesday, May 21, 2019

गवर्नर्स कप गोल्फ प्रतियोगिता 24 मई से होगी प्रारम्भ -

Tuesday, May 21, 2019

भारत के विश्व कप में महेंद्र सिंह धोनी की भूमिका बहुत बड़ी : रवि शास्त्री -

Tuesday, May 21, 2019

पुरे जोश में नजर आयी फिल्म ’83’ की टीम,जानिए ख़बर -

Tuesday, May 21, 2019

केदार यात्रा में घोड़े-खच्चर संचालकों ने मचाई लूट -

Tuesday, May 21, 2019

धूमधाम से मना एसएन मैमोरियल स्कूल का वार्षिकोत्सव ’नवरस’ -

Monday, May 20, 2019

अब ड्राइविंग लाइसेंस और आरसी नहीं रखने होंगे साथ, जानिए ख़बर -

Monday, May 20, 2019

उत्तराखंड बोर्ड का 10वीं व 12वीं का रिजल्ट 30 मई को -

Monday, May 20, 2019

अटल आयुष्मान योजना के मरीजों से अवैध वसूली पर होगी कार्यवाही -

Monday, May 20, 2019

पाकिस्तानी क्रिकेटर की 2 वर्षीय बेटी का कैंसर से निधन -

Monday, May 20, 2019

‘लाल कप्तान ‘ का फर्स्ट लुक रिलीज,जानिए ख़बर -

Monday, May 20, 2019

जब तक शरीर साथ देगा तब तक लिखता रहूंगाः रस्किल बांड -

Sunday, May 19, 2019

स्थाई राजधानी बनाये जाने की मांग को लेकर धरना जारी रखा, जानिए खबर -

Sunday, May 19, 2019

मुख्यमंत्री त्रिवेन्द्र से भजन गायिका अनुराधा पौडवाल ने की शिष्टाचार भेंट

देहरादून | मुख्यमंत्री त्रिवेन्द्र सिंह रावत से मुख्यमंत्री आवास में भजन गायिका अनुराधा पौडवाल ने शिष्टाचार भेंट की। उन्होंने मुख्यमंत्री त्रिवेन्द्र से उत्तराखण्ड में देवभूमि के अनुरूप टेम्पल टूरिज्म को बढावा देने की अपेक्षा की तथा इस संबन्ध में अपना सहयोग देने का भी आश्वासन दिया | पौडवाल का कहना था कि गंगा आरती श्री बद्रीनाथ, श्री केदारनाथ, शिवाराधना, वैष्णों देवी जैसे धार्मिक स्थल उनकी भजन गायकी के केन्द्र में रहे हैं। उत्तराखण्ड व मां गंगा से विशेष लगाव होने के नाते उत्तराखण्ड के धार्मिक मन्दिरों को पर्यटन से जोडने में सहयोगी बनने की उनकी इच्छा है। मुख्यमंत्री त्रिवेन्द्र ने उनके सुझावों का स्वागत करते हुए कहा कि उत्तराखण्ड के चारधामों के अतरिक्त अन्य धार्मिक स्थलों व पौराणिक महत्व के मन्दिरों को देश व दुनिया के समक्ष लाने के लिये राज्य सरकार प्रयासरत है। केदारनाथ के पुनर्निर्माण के साथ ही श्री बद्रीनाथ के सौन्दर्यीकरण पर विशेष ध्यान दिया जा रहा है। इन क्षेत्रों को हेली सेवा से जोडा गया है। शीघ्र ही गंगोत्री व यमनोत्री को भी हेली सेवा से जोडने की कार्ययोजना बनायी जायेगी। तथा इन क्षेत्रों का भी सौन्दर्यीकरण किया जायेगा। मुख्यमंत्री त्रिवेन्द्र ने कहा कि राज्य में पौराणिक महत्व के विभिन्न मंदिरों के संरक्षण के साथ ही पंचकेदार, पंचबद्री, रामायण व महाभारत काल से जुडे स्थलों व मंदिरों का भी विकास किया जायेगा। उन्होंने कहा कि माता सीता ने जहां भूमि में समाधी ली थी तथा लक्ष्मण ने माता सीता को जहां पर विदा किया था ऐसे दो मंदिर सीताकोटी व बिदाकोटी मंदिर पौड़ी के सितोंस्यूं में है। यहां पर वाल्मिकी मंदिर भी है। ऐसे ही अन्य कई स्थानों पर अनेक मंदिर है जिनका अपना धार्मिक महत्व है। ऐसे स्थलों का भी विकास किया जा रहा है। ताकि प्रदेश में धार्मिक पर्यटन को और अधिक बढावा मिल सके। इस अवसर पर सचिव दिलीप जावलकर ने बताया कि प्रदेश में धार्मिक पर्यटन को और अधिक बढावा देने के लिये राज्य के पौराणिक महत्व के मंदिरों को पहचान दिलाने के लिये प्रभावी प्रयास किये जा रहे हैं। राज्य के पंचकेदार, पंचबद्री के साथ ही अन्य मंदिरों की मैपिंग की जा रही है। बद्रीनाथ जी एवं भविष्य बद्री जी का मास्टर प्लान तैयार किया जा रहा है। उन्होंने कहा कि राज्य के अनछुए पर्यटक स्थलों के साथ ही पौराणिक मंदिरों को भी पहचान दिलाने की दिशा में कार्ययोजना तैयार की जा रही है। इस अवसर पर मुख्यमंत्री के तकनीकि सलाहकार नरेन्द्र सिंह, सूचना सलाहकार रमेश भट्ट, सचिव अरविन्द सिंह ह्यांकी आदि उपस्थित थे।

Leave A Comment